1. home Hindi News
  2. business
  3. reliance industries uae based taziz sign agreement for chemical project rjv

रिलायंस और यूएई की ताजीज ने 2 अरब डॉलर के शेयरधारक समझौते पर हस्ताक्षर किये

रिलायंस के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने एडीएनओसी मुख्यालय की यात्रा के दौरान औपचारिक शेयरधारक समझौते पर हस्ताक्षर किये गए थे.

By Agency
Updated Date
ril taziz deal
ril taziz deal
fb

अबू धाबी केमिकल्स डेरिवेटिव्स कंपनी आरएससी लिमिटेड (TA'ZIZ) और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने TA'ZIZ EDC और PVC परियोजना के लिए औपचारिक शेयरधारक समझौते पर हस्ताक्षर किये. यह शेयरधारक समझौता 2 अरब डॉलर कीमत का है. संयुक्त उपक्रम ताजीज औद्योगिक रसायन क्षेत्र, रुवाइस में लगाया जाएगा.

ताजीज EDC और PVC संयुक्त उद्यम क्लोर-अल्कली, एथिलीन डाइक्लोराइड (EDC) और पॉलीविनाइल क्लोराइड (PVC) के उत्पादन सुविधा का निर्माण करने के साथ उनका संचालन भी करेगा. संयुक्त अरब अमीरात में पहली बार इस तरह के केमिकल्स का उत्पादन किया जाएगा, जिससे स्थानीय निर्माताओं के लिए राजस्व के नये रास्ते खुलेंगे.

रिलायंस के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने एडीएनओसी मुख्यालय की यात्रा के दौरान औपचारिक शेयरधारक समझौते पर हस्ताक्षर किये गए थे. अंबानी ने यूएई के उद्योग और उन्नत प्रौद्योगिकी मंत्री और एडीएनओसी के प्रबंध निदेशक और समूह के सीईओ महामहिम डॉ सुल्तान अल जाबेर से मुलाकात की और हाइड्रोकार्बन वैल्यू चेन, न्यू एनर्जी और डीकार्बोनाइजेशन में साझेदारी और विकास के अवसरों पर चर्चा की.

मुकेश अंबानी ने कहा, रिलायंस इंडस्ट्रीज और TA'ZIZ के संयुक्त उद्यम की तेज प्रगति देख कर मैं बहुत प्रसन्न हूं. यह संयुक्त उद्यम भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच मजबूत संबंधों का गवाह है. अनुमान है कि TA'ZIZ परिसर भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच मुक्त व्यापार समझौते से लाभान्वित होगा, जिस पर इस वर्ष फरवरी में हस्ताक्षर किये गए थे. इससे दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा मिलेगा.

डॉ अल जाबेर ने कहा, रिलायंस एक महत्वपूर्ण रणनीतिक साझेदार है और TA'ZIZ में हमारा सहयोग संयुक्त अरब अमीरात और भारत के बीच गहरे और मैत्रीपूर्ण संबंधों को और मजबूत बनाएगा. यह औद्योगिक और ऊर्जा सहयोग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा.

मुकेश अंबानी ने अक्षय ऊर्जा और हरित हाइड्रोजन में सहयोग के संभावित अवसरों का पता लगाने के लिए मसदर के सीईओ मोहम्मद जमील अल रामही से भी मुलाकात की. न्यू एनर्जी, संयुक्त अरब अमीरात और भारत, दोनों की प्राथमिकताओं में शामिल है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें