1. home Hindi News
  2. business
  3. raj subramaniam to head the worlds largest courier company fedex vwt

दुनिया की सबसे बड़ी कूरियर कंपनी फेडेक्स की कमान संभालेंगे राज सुब्रमण्यम, फ्रेडरिक स्मिथ की लेंगे जगह

बताते चलें कि भारतीय मूल के राज सुब्रमण्यम वर्ष 2020 में फेडेक्स के निदेशक मंडल में शामिल किए गए थे और वह सीईओ बनने के बाद भी निदेशक बने रहेंगे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
भारतीय मूल के राज सुब्रमण्यम, जो फेडेक्स के सीईओ बने.
भारतीय मूल के राज सुब्रमण्यम, जो फेडेक्स के सीईओ बने.
फोटो : ट्विटर

नई दिल्ली : भारतीय मूल के राज सुब्रमण्यम अमेरिकी कूरियर सेवा कंपनी फेडेक्स के अगले मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) होंगे. फेडेक्स ने सोमवार को एक बयान जारी कर सुब्रमण्यम की नियुक्ति की घोषणा करते हुए कहा कि वह कंपनी के चेयरमैन एवं मौजूदा सीईओ फ्रेडरिक डब्ल्यू स्मिथ की जगह लेंगे. उनकी नियुक्ति एक जून से प्रभावी होगी. हालांकि स्मिथ कार्यकारी चेयरमैन के रूप में कंपनी के साथ जुड़े रहेंगे.

स्मिथ ने सुब्रमण्यम की अगुआई में फेडेक्स को कामयाबी के नए मुकाम पर पहुंचने की उम्मीद जताते हुए कहा कि इसका नेतृत्व सौंपते हुए उन्हें काफी संतोष हो रहा है. स्मिथ ने ही वर्ष 1971 में फेडेक्स की स्थापना की थी. दुनिया भर में इसके छह लाख से अधिक कर्मचारी हैं. वहीं, सुब्रमण्यम ने फेडेक्स का सीईओ बनाए जाने को अपने लिए बड़ा सम्मान बताते हुए कहा कि स्मिथ ने जिस संगठन को बड़ी मेहनत से दुनिया की प्रतिष्ठित कंपनियों में शुमार कराया, उसे नई भूमिका में आगे ले जाने की कोशिश करूंगा.

केरल के रहने वाले राज सुब्रमण्यम

बताते चलें कि भारतीय मूल के राज सुब्रमण्यम वर्ष 2020 में फेडेक्स के निदेशक मंडल में शामिल किए गए थे और वह सीईओ बनने के बाद भी निदेशक बने रहेंगे. इसके पहले वह फेडेक्स कॉर्प के अध्यक्ष एवं मुख्य परिचालन अधिकारी के रूप में कार्यरत थे. सुब्रमण्यम केरल के तिरुवनंतपुरम के रहने वाले हैं. अब वह टेनेसी के मेम्फिस में रहते हैं. उन्होंने आईआईटी-मुंबई से केमिकल इंजीनियरिंग में डिग्री की पढ़ाई की है. फिर उन्होंने सायराक्यूज यूनिवर्सिटी से केमिकल इंजीनियरिंग में मास्टर की डिग्री ली. उसके बाद उन्होंने एस्टिन के टेकसास यूनिवर्सिटी से एमबीए किया.

आईआईटी-मुंबई ने दिया है सम्मान

राज सुब्रमण्यम फेडेक्स कॉरपोरेशन के अलावा फर्स्ट हराइजन कॉरपोरेशन के बोर्ड मेंबर रह चुके हैं. वह कई अहम संस्थाओं के सदस्य हैं. कॉरपोरेट जगत में उनके योगदान के लिए आईआईटी-मुंबई ने उन्हें सम्मानित किया था. यूनिवर्सिटी ऑफ मेम्फिस में फोगेलमैन कॉलेज ऑफ बिजनेस एंड इकोनॉमिक्स ने उन्हें हॉल ऑफ फेम में शामिल किया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें