1. home Hindi News
  2. business
  3. modi government bans export of wheat with immediate effect vwt

आटे की कीमत में 9 फीसदी से अधिक बढ़ोतरी, सरकार ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाई रोक

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, आटे की अखिल भारतीय औसत खुदरा कीमत सात मई को 32.78 रुपये प्रति किलोग्राम थी. यह एक साल पहले की तुलना में 9.15 फीसदी अधिक बताई जा रही है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रतिबंध
गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रतिबंध
फोटो : ट्विटर

नई दिल्ली : भारत में आटे की कीमत में बेतहाशा बढ़ोतरी हो रही है. राष्ट्रीय स्तर पर आटा करीब 9.15 फीसदी बढ़कर 32.78 रुपये प्रति किलो की दर से बिक रहा है. इसकी वजह से दिल्ली समेत कई शहरों के रेस्टोरेंट्स में रोटी कीमत में भी बढ़ोतरी हो गई है. देश में आटा की कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दिया है. गेहूं के निर्यात पर रोक लगाने के लिए विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने 13 मई को जारी अधिसूचना जारी कर दिया है.

डीजीएफटी की ओर से शुक्रवार को ही जारी की गई अधिसूचना में कहा गया है कि इस अधिसूचना की तारीख या उससे पहले जिस खेप के लिए अपरिवर्तनीय ऋण पत्र (एलओसी) जारी कर दिए गए हैं, उसके निर्यात की अनुमति होगी. डीजीएफटी ने कहा कि गेहूं की निर्यात नीति पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगाया जाता है. उसने यह भी स्पष्ट किया कि भारत सरकार द्वारा अन्य देशों को उनकी खाद्य सुरक्षा जरूरतों को पूरा करने के लिए और उनकी सरकारों के अनुरोध के आधार पर दी गई अनुमति के आधार पर गेहूं के निर्यात की अनुमति दी जाएगी.

आटे की कीमत में नौ फीसदी से अधिक बढ़ोतरी

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, आटे की अखिल भारतीय औसत खुदरा कीमत सात मई को 32.78 रुपये प्रति किलोग्राम थी. यह एक साल पहले की तुलना में 9.15 फीसदी अधिक बताई जा रही है. देश के करीब 156 केंद्रों से उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, गेहूं के आटे की सबसे अधिक कीमत पोर्ट ब्लेयर में 59 रुपये प्रति किलोग्राम थी. वहीं, सबसे सस्ता आटा पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में 22 रुपये प्रति किलोग्राम में मिल रहा था. महानगरों में आटे की औसत कीमत मुंबई में सबसे अधिक 49 रुपये प्रति किलोग्राम देखने को मिली. इसके बाद चेन्नई में 34 रुपये प्रति किलोग्राम, कोलकाता में 29 रुपये प्रति किलोग्राम और दिल्ली में 27 रुपये प्रति किलोग्राम थी.

26 रुपये में मिल रही दिल्ली के रेस्टोरेंट में तवे की एक रोटी

देश में आटे की कीमतों में बेहतशा हो रही बढ़ोतरी का ही नतीजा है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के रेस्टोरेंटों और ढाबों में तवे की एक रोटी की कीमत 26 रुपये तक पहुंच गई है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ऑनलाइन फूड डिलीवरी एप पर दिल्ली में करीब 26 रुपये की एक तवा रोटी मिल रही है. बताया यह भी जा रहा है कि अप्रैल 2022 में देश में आटे की औसत खुदरा कीमत 32.38 रुपये प्रति किलोग्राम रही थी. यह जनवरी 2010 के बाद से सबसे अधिक है. इस समय आटे की कीमत 12 वर्षों के उच्च स्तर पर है. देश में आटे की कीमतों में बढ़ोतरी इसलिए है, क्योंकि गेहूं का उत्पादन और भंडारण दोनों घट रहे हैं. इस समय दुनिया भर में गेहूं की कीमतें उच्च स्तर पर हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें