1. home Hindi News
  2. business
  3. how many children were born in the whole world on 1 january 2021 the number of employees of google and infosys vwt

1 january 2021 को पूरी दुनिया में कितने बच्चे जन्मे? जितने Google और Infosys के employees हैं

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
यूनिसेफ की रिपोर्ट में जताया गया अनुमान.
यूनिसेफ की रिपोर्ट में जताया गया अनुमान.
प्रतीकात्मक फोटो.

New Baby Born on 1 january 2021 : नया साल 2021 की शुरुआत हो गई है और इसके पहले दिन यानी 1 जनवरी 2021 को पूरी दुनिया में करीब 3.7 करोड़ बच्चों के जन्म होने का अनुमान है. यूनिसेफ के ताजा आंकड़ों के अनुसार, 1 जनवरी को पूरी दुनिया में करीब 3.7 करोड़ बच्चों के जन्म लेने का अनुमान है. गौर करने वाली बात यह है कि आज के दिन पूरी दुनिया में प्रमुख सर्च इंजन गूगल और भारत की की दिग्गज प्रौद्योगिकी कंपनी इंफोसिस के कर्मचारियों की संख्या के बराबर बच्चों का जन्म हुआ.

इंफोसिस और गूगल में 3.74 लाख कर्मचारी करते हैं काम

गूगल सर्च इंजन पर उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, भारत की प्रमुख इंफोसिस फिलहाल करीब 2,42,371 कर्मचारी काम करते हैं, जबकि सर्च इंजन गूगल के कर्मचारियों की संख्या 132,121 है. इन दोनों प्रमुख प्रौद्योगिकी कंपनियों के कर्मचारियों की कुल संख्या 3,74,492 हो जाती है. इस लिहाज से देखेंगे, तो 1 जनवरी 2021 को पूरी दुनिया में इन दोनों प्रमुख प्रौद्योगिकी कंपनियों में काम करने वाले कर्मचारियों के बराबर बच्चों का जन्म होगा.

पूरी दुनिया में 3.7 लाख और भारत में 60,000 बच्चों का होगा जन्म

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने शुक्रवार को कहा कि नए साल के पहले दिन यानी 1 जनवरी 2021 को दुनिया भर में अनुमानित 3,71,504 बच्चे पैदा होंगे. पूरी दुनिया में पैदा होने वाले बच्चों में अकेले भारत में करीब 60,000 बच्चों का जन्म होने की उम्मीद है. कुल मिलाकर अनुमानित 140 मिलियन यानी 14 करोड़ बच्चे 2021 में पैदा होंगे.

फिजी में सबसे पहले बच्चे का जन्म

यूनिसेफ के अनुसार, इस नए साल 2021 पर प्रशांत क्षेत्र के फिजी में सबसे पहले बच्चे का जन्म होगा, जबकि अमेरिका में सबसे आखिरी बच्चा जन्म लेगा. यूनिसेफ ने कहा, विश्व स्तर पर नए साल के पहले दिन आधे से अधिक बच्चे 10 देशों में पैदा होने का अनुमान है, जिसमें भारत में (59,995), चीन (35,615), नाइजीरिया (21,439), पाकिस्तान (14,161), इंडोनेशिया (12,336), इथियोपिया ( 12,006), यूएस (10,312), मिस्र (9,455), बांग्लादेश (9,236) और कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में 8,640 बच्चे शामिल हैं. यूनिसेफ ने कहा, भारत में शुक्रवार को पैदा होने वाले बच्चे 80.9 वर्ष तक जीवित रह सकते हैं. इस साल यूनिसेफ अपना 75वां वर्षगांठ मना रहा है.

1 जनवरी 2020 को 3.9 लाख पैदा हुए थे बच्चे

यूनिसेफ के आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल 2020 की 1 जनवरी को दुनिया भर में 3,92,078 बच्चे पैदा हुए थे. यूनिसेफ की पिछले साल की रिपोर्ट में भारत सबसे ऊपर रहा और 1 जनवरी 2020 को यहां 67,385 बच्चे पैदा हुए, जबकि चीन में 46,299 बच्चे और नाइजीरिया में 26,039 बच्चों का जन्म हुआ था. रिपोर्ट के अनुसार, नाइजीरिया के बाद पाकिस्तान में 16,787, इंडोनेशिया में 13,020 और अमेरिका में 10,452 बच्चे पैदा हुए. कांगों में 10,427 तो यूथोपिया में 8,493 बच्चे दुनिया में आए. भारत को लेकर यूनिसेफ की रिपोर्ट बताती है कि यहां हर साल नए साल पर करीब 60 से 70 हजार बच्‍चे पैदा होते हैं.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें