23.1 C
Ranchi
Friday, March 1, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

प्राइवेट अस्पतालों में 25 लाख रुपये तक का इलाज FREE, जानें कौन ले सकता है इस सरकारी योजना का लाभ

chiranjeevi swasthya bima yojana : चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना के आने के बाद प्राइवेट अस्पतालों में 25 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त किया जाता है जिसका लाभ राजस्थान की जनता ले रही है. जानें किसे इस सरकारी योजना का लाभ दिया जा रहा है.

chiranjeevi swasthya bima yojana : राजस्थान में इन दिनों एक योजना की चर्चा जोरों पर हो रही है. जी हां…इस योजना का नाम है चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना…इस योजना की तारीफ कांग्रेस के कई नेता कर चुके हैं. चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना को मई 2021 में शुरू किया गया था जिसका लाभ गरीबों को मिलता है. इस योजना के तहत मेडिकल टेस्ट कवरेज और फ्री इलाज की सुविधा सरकार की ओर से दी जाती है. इस योजना के तहत राजस्थान के स्थायी निवासी को ही लाभ प्रदेश की सरकार देती है. गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों को इसका लाभ मिलता है.

25 लाख रुपये का लाभ हर परिवार को सालाना

आपको बता दें कि चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत गरीब परिवारों को फ्री में इलाज दिया जाता है जिसको लेीकर इस बार के बजट में बड़ा ऐलान किया गया. चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की बजट में ​लिमिट बढ़ा दी गयी. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बतौर वित्त मंत्री मौजूदा कार्यकाल का पांचवा बजट इस बार पेश किया. इस दौरान उन्होंने कई घोषणा की. इस बजट में चिरंजीवी हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम की लिमिट भी बढ़ा दी है. गहलोत सरकार ने कहा कि अब चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत 25 लाख रुपये का लाभ हर परिवार को सालाना दिया जाएगा. अभी तक इसकी लिमिट 10 लाख रुपये थी.

क्या है चिरंजीवी योजना

यहां चर्चा कर दें कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस कार्यकाल में चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना लांच करने का काम किया है. इस योजना के मुताबिक प्रदेश के सभी नागरिकों को स्वास्थ्य बीमा कवर देने का प्रावधान है. चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना के आने के बाद प्राइवेट अस्पतालों में 10 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त किया जाता था जिसे इस साल से बढ़ा दिया गया है. इस योजना का लाभ राजस्थान की जनता ले रही है. योजना पर गौर करें तो इसके तहत कैंसर, किडनी और हार्ट ट्रांसप्लांट जैसी गंभीर बीमारियों का भी इलाज होता है.

Also Read: Rajasthan Chunav 2023 : अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच खटास खत्म ? जानें राजस्थान के सीएम ने क्या कहा
किसे मिलता है लाभ

इस योजना का कोई यदि लाभ लेना चाहता है तो इसके लिए परिवार की महिला मुखिया के नाम से बने जन आधार कार्ड की जरूरत होती है. यदि आपके पास जन आधार कार्ड है तो इसकी मदद से परिवार को ई-मित्र से या ऑनलाइन माध्यम से योजना के लिए आवेदन करने में आप सक्षम हैं.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें