26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

लॉन्ग टर्म के लिए इन 5 स्टॉक्स में लगा सकते हैं पैसा, मिलेगा बेहतरीन रिटर्न

Long-Term Investment Stock: लॉन्ग टर्म के शेयरों (Long-Term Stock) में निवेश से पहले निवेशकों को बाजार के उतार-चढ़ाव से निपटने और चक्रवृद्धि रिटर्न का लाभ उठाने में मदद मिलती है. इसमें शेयर बाजार (Stock Market) का जोखिम भी नहीं होता है.

Long-Term Investment Stock: भारतीय शेयर बाजार इस समय रोज नई ऊंचाइयों को छू रहा है. हालांकि, बीच-बीच में सुस्ताने के लिए कभी कभार अपनी स्पीड पर ब्रेक भी लगा देता है. बाजार की इस तेजी में उन लोगों को तगड़ा मुनाफा हो रहा है, जिन्होंने शॉर्ट टर्म या लॉन्ग टर्म के लिए शेयरों में पैसा लगाया हुआ है. मुनाफा कमाने के लिए किसी शेयर में लॉन्ग टर्म के लिए निवेश करने से पहले इसके कंडीशन और बेनिफिट्स को समझना बेहद जरूरी है. लॉन्ग टर्म के शेयरों (Long-Term Stock) में निवेश से पहले निवेशकों को बाजार के उतार-चढ़ाव से निपटने और चक्रवृद्धि रिटर्न का लाभ उठाने में मदद मिलती है. अपने निवेश पोर्टफोलियो के लिए मजबूत बेस तैयार करते समय 2024 के लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट स्टॉक्स (Long-Term Investment Stock) पर फोकस करना और इनके बारे में जानकारी हासिल करना जरूरी है. आइए, उन 5 भरोसेमंद कंपनियों के लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट स्टॉक्स के बारे में जानते हैं, जिसमें पैसा लगाने के बाद मुनाफा हो सकता है.

इंडियन एनर्जी एक्सचेंज लिमिटेड

इंडियन एनर्जी एक्सचेंज लिमिटेड भारत की प्रमुख बिजली एक्सचेंज कंपनी है, जो बिजली उत्पादों के चेन में कारोबार की सुविधा प्रदान करती है. इस कंपनी की स्थापना 2008 की गई थी. कंपनी की ओर से प्रोडक्ट्स की डिलीवरी के लिए ऑटोमेटिक प्लेटफॉर्म ऑपरेट करती है, जो बिजली के कारोबार के लिए बाजार की पहुंच बनाती है. कंपनी का मार्केट कैप 16,836.63 करोड़ रुपये थी. इसके स्टॉक का प्राइस 184.90 रुपये और पीई रेशियो 47.99 है. कंपनी का पिछले 5 साल का औसत शुद्ध लाभ मार्जिन 61.01 फीसदी है और 5 साल का औसत इक्विटी पर रिटर्न 46.07 फीसदी है. कंपनी की पिछले 5 साल में राजस्व वृद्धि 13.81 फीसदी है, जिसमें 5 साल की ईपीएस वृद्धि 16.66 फीसदी है. अनुमान यह है कि आने वाले एक साल में इसकी ईपीएस वृद्धि 11.68 फीसदी हो सकती है. लॉन्ग टर्म के लिए इस स्टॉक में निवेश कर सकते हैं.

एचडीएफसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड

एचडीएफसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड भारत की प्रमुख म्यूचुअल फंड हाउस में से एक है, जो इक्विटी, डेट और हाइब्रिड फंड सहित निवेश उत्पादों की एक विविध रेंज पेश करती है. इस कंपनी की स्थापना 1999 में हुई थी. कंपनी हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचडीएफसी) और स्टैंडर्ड लाइफ इन्वेस्टमेंट लिमिटेड के बीच एक संयुक्त उद्यम है. इस कंपनी का मार्केट कैप 87,774.44 करोड़ रुपये है. इसके स्टॉक्स का प्राइस 4,093.00 रुपये है. इसका पीई रेशियो 45.18 है. कंपनी का 5 साल का औसत शुद्ध लाभ मार्जिन 59.02 फीसदी है और 5 साल का औसत इक्विटी पर रिटर्न 30.42 फीसदी है. 5 साल में कंपनी की सबसे अधिक राजस्व वृद्धि 8.57 फीसदी हुई है. इसमें 5 साल की सबसे अधिक ईपीएस वृद्धि 15.65 फीसदी है और अगले एक साल में ईपीएस वृद्धि 12.09 फीसदी होने का अनुमान है.

निप्पॉन लाइफ इंडिया एसेट मैनेजमेंट लिमिटेड

निप्पॉन लाइफ इंडिया एसेट मैनेजमेंट लिमिटेड मुख्य रूप से निप्पॉन लाइफ इंश्योरेंस ग्रुप की सहायक कंपनी है. यह एसेट मैनेजमेंट इंडस्ट्री की बड़ी खिलाड़ी है. कंपनी म्यूचुअल फंड, पोर्टफोलियो मैनेजमेंट और कन्सलटेंसी सर्विस सहित फाइनेंशियल प्रोडक्ट और सर्विस की एक बड़ी सीरीज पेश करती है. कंपनी का मार्केट कैप 41,909.30 करोड़ रुपये है. इसके स्टॉक्स की प्राइस 649.00 रुपये और पीई रेशियो 37.85 है. कंपनी का 5 साल का औसत शुद्ध लाभ मार्जिन 46.65 फीसदी है और 5 साल का औसत इक्विटी पर रिटर्न 22.56 फीसदी है. 5 साल के दौरान सबसे अधिक राजस्व वृद्धि 4.31 फीसदी है, जिसमें 5 साल की रिकॉर्ड ईपीएस वृद्धि 17.35 फीसदी है. आने वाले एक साल में इसकी ईपीएस वृद्धि 8.08 फीसदी होने का अनुमान है.

सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज इंडिया लिमिटेड

सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज इंडिया लिमिटेड भारत की सिक्योरिटी डिपॉजिटरी कंपनियों में से एक है. इसकी स्थापना 1999 में हुई थी. कंपनी भारत में सिक्योरिटी मार्केट के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करते हुए सिक्योरिटीज के डीमैटरियलाइजेशन, रीमैटरियलाइजेशन और इलेक्ट्रॉनिक सेटलमेंट जैसी सर्विस प्रदान करती है. कंपनी का मार्केट कैप 25,477.10 करोड़ रुपये है और इसके स्टॉक्स का प्राइस 2,387.00 रुपये है. इसका पीई रेशियो 60.79 है. इसका 5 साल का औसत शुद्ध लाभ मार्जिन 45.87 फीसदी है और 5 साल का औसत इक्विटी पर रिटर्न 21.73 फीसदी रहा है. 5 साल के दौरान कंपनी की सबसे अधिक रिकॉर्ड राजस्व वृद्धि 29.89 फीसदी है, जिसमें 5 साल की रिकॉर्ड ईपीएस वृद्धि 29.86 फीसदी है. आने वाले एक साल में ईपीएस वृद्धि 14.19 फीसदी होने का अनुमान है.

ये भी पढ़ें: IRCTC Share में नरमी, तो शेयर खरीदना होगा फायदेमंद?

एप्टस वैल्यू हाउसिंग फाइनेंस इंडिया लिमिटेड

एप्टस वैल्यू हाउसिंग फाइनेंस इंडिया लिमिटेड भारत में निम्न और मध्यम आयवर्ग के लोगों को घर बनाने के लिए किफायती दर पर होम लोन प्रदान करती है. कंपनी का उद्देश्य किफायती घरों के बाजार को बढ़ावा देना है और घरों की खरीद और उसके निर्माण के लिए लोन प्रदान करना है. कंपनी का मार्केट कैप 17,177.18 करोड़ रुपये है और इसके स्टॉक्स का प्राइस 337.00 रुपये है. इसका पीई रेशियो 28.07 है. 5 साल के दौरान कंपनी का औसत शुद्ध लाभ मार्जिन 42.53 फीसदी है और 5 साल का औसत इक्विटी पर रिटर्न 16.12 फीसदी है. 5 साल के दौरान कंपनी का रिकॉर्ड राजस्व वृद्धि 33.16 फीसदी है, जिसमें 5 साल की ईपीएस वृद्धि -2.88 फीसदी है. आने वाले एक साल में कंपनी की ईपीएस वृद्धि 22.66 फीसदी होने का अनुमान है.

डिक्लेमर: प्रभात खबर की ओर से कोई शेयर खरीदने या कोई निवेश करने की सलाह नहीं दी जाती. यह निवेशकों के विवेक के अधीन है. विशेषज्ञों की सलाह के बाद ही निवेशक निर्णय ले सकते हैं.

ये भी पढ़ें: फॉर्मल वियर बनाने वाली कंपनी के शेयर ने लगाई 6,431% की छलांग, लॉन्ग टर्म तगड़ा फायदा

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें