1. home Home
  2. business
  3. diwali bonus 2021 modi govt rajasthan gives approval 3 pc hike dearness allowance da badha amh

Diwali Bonus 2021 : केंद्र के बाद अब इस राज्य के कर्मचारियों को मिला दिवाली गिफ्ट, DA के साथ बोनस भी मिलेगा

गहलोत सरकार के इस फैसले से अब राज्य कर्मचारियों और पेंशनर्स को 1 जुलाई 2021 से 31 प्रतिशत महंगाई भत्ता सहित महंगाई राहत दर मिलेगी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कर्मचारियों को दिवाली बोनस
कर्मचारियों को दिवाली बोनस
प्रतीकात्मक फोटो.

Diwali Bonus 2021 : राजस्थान सरकार ने अपने कर्मचारियों को दिवाली का गिफ्ट दिया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य सरकार के कर्मचारियों को दिवाली पर महंगाई भत्ते में 3 प्रतिशत बढ़ोतरी और तदर्थ बोनस के रूप में दोहरी सौगात देने का काम किया है. मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों के अनुरूप ही राज्य कर्मचारियों को त्योहार में सौगात दी है. कर्मचारियों को महंगाई भत्ते और पेंशनर्स को देय महंगाई राहत की दर में तीन प्रतिशत बढ़ोतरी को मंजूरी प्रदान की गई है.

गहलोत सरकार के इस फैसले से अब राज्य कर्मचारियों और पेंशनर्स को 1 जुलाई 2021 से 31 प्रतिशत महंगाई भत्ता सहित महंगाई राहत दर मिलेगी. यहां चर्चा कर दें कि पूर्व में राज्य कर्मचारियों-पेंशनर्स को 28 प्रतिशत महंगाई भत्ता दिया जा रहा था. राजस्‍थान सरकार के इस निर्णय का फायदा राजस्थान सिविल सेवा (पुनरीक्षित वेतन) नियम-2017 के आधार पर वेतन प्राप्त कर रहे करीब 8 लाख अधिकारियों-कर्मचारियों के साथ ही 4 लाख 40 हजार पेंशनर्स को भी होगा.

गहलोत सरकार के फैसले का लाभ राज्य कर्मचारियों के अतिरिक्त कार्य प्रभारित पंचायत समिति और जिला परिषद के कर्मचारियों को भी मिलेगा. कर्मचारियों की 1 जुलाई, 2021 से 30 सितंबर 2021 तक बढ़े हुए महंगाई भत्ते की राशि उनके सामान्य प्रावधायी निधि, सामान्य प्रावधायी निधि-2004 या सामान्य प्रावधायी निधि-एसएबी अकाउंट में भेजा जाएगा. यहां चर्चा कर दें कि केंद्र सरकार द्वारा महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की घोषणा गुरुवार को की गई है.

रास्‍थान सरकार इस बढ़ोतरी पर सालाना करीब 1230 करोड़ रुपये का वित्तीय भार वहन करेगी. इसी प्रकार गहलोत ने प्रदेश के करीब 6 लाख कर्मचारियों को दिवाली पर तदर्थ बोनस देने की भी मंजूरी देने का काम किया है जिसका फायदा राज्य सेवा के अधिकारियों (राजपत्रित) को छोड़कर पे-मैट्रिक्स लेवल-12 अथवा ग्रेड पे-4800 और इससे नीचे के लेवल का वेतन ले रहे राज्य कर्मचारियों को प्राप्त होगा. यह बोनस पंचायत समिति, जिला परिषद के कर्मचारियों और कार्य प्रभारित कर्मचारियों को भी सरकार की ओर से दिया जाएगा. तदर्थ बोनस की गणना वर्ष 2020-21 के लिए अधिकतम परिलब्धियों 7 हजार रूपये जबकि 31 दिन के माह के आधार पर किया जाएगा.

यह बोनस 30 दिन की अवधि के लिए देय होगा. इस प्रकार प्रत्येक कार्मिक को अधिकतम 6 हजार 774 रूपए तदर्थ बोनस प्राप्त होगा.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें