1. home Home
  2. business
  3. auto debit new rules auto debit system need permission pkj

ऑटो डेबिट सिस्टम पर बड़ा फैसला, अकाउंट से पैसे काटने के लिए लेनी होगी इजाजत

ऑटो डेबिट पेमेंट सिस्टम में एक अक्टूबर से बड़ा बदलाव होने जा रहा है. अब आपकी अनुमति के बगैर आपके अकाउंट से एक भी पैसा नहीं कटेगा. नये डेबिट पेमेंट के सिस्टम के अनुसार अब फोन पे, पेटीएम जैसे डिजिटल प्लेटफॉर्म्स को किस्त या बिल काटने से पहले आप से अनुमति लेनी होगी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
auto debit new rules
auto debit new rules
file

ऑटो डेबिट पेमेंट सिस्टम में बड़ा बदलाव होने जा रहा है. एक अक्टूबर से नया डेबिट पेमेंट सिस्टम लागू किया जाएगा. इस नये डेबिट पेमेंट सिस्टम के अनुसार अब बैंक और फोन पे, पेटीएम जैसे डिजिटल प्लेटफॉर्म्स को किस्त या बिल काटने के पहले आप से अनुमति लेनी होगी. उन्हें अपने सिस्टम में ऐसा बदलाव करना होगा कि वह बिना अनुमति आपका पैसा नहीं काट सकेंगे.

ऑटो डेबिट पेमेंट सिस्टम में एक अक्टूबर से बड़ा बदलाव होने जा रहा है. अब आपकी अनुमति के बगैर आपके अकाउंट से एक भी पैसा नहीं कटेगा. नये डेबिट पेमेंट के सिस्टम के अनुसार अब फोन पे, पेटीएम जैसे डिजिटल प्लेटफॉर्म्स को किस्त या बिल काटने से पहले आप से अनुमति लेनी होगी.

आप अपने मोबाइल से कई तरह के बिल भरते हैं जिसमें मोबाइल, पानी का बिल, बिजली का बिल सहित कई ऐसे बिल के लिए ऑटो डेबिट मोड चुनते हैं. तय तारीख को आपके अकाउंट से पैसा कट जाता है. इसे ऑटो डेबिट मोड कहते हैं और इसी सुविधा के लिए नये नियम में बदलाव हुआ है.

इस सुविधा के तहत अब बैंक का काम बढ़ गया है. अब पेमेंट काटने से पहले बैंक को पेमेंट ड्यू डेट से 5 दिन पहले अपने ग्राहकों के मोबाइल पर एक नोटिफिकेशन भेजना होगा.इस नोटिफिकेशन पर ग्राहक इसकी मंजूरी देगा. 5 हजार से ज्यादा के पेमेंट पर ओटीपी सिस्टम लागू करना होगा जिसके बाद ही आपके अकाउंट से पैसा कटेगा.

इस नयी व्यस्था के लिए आपका मोबाइळ नंबर बैंक से अपडेट होना चाहिए. आपके इसी अपडेटेड नंबर पर SMS के जरिए डेबिट का नोटिफिकेशन भेजा जायेगा. नया डेबिट सिस्टम डेबिट और क्रेडिट कार्ड के माध्यम या उन पर सेट किए गए ऑटो डेबिट पेमेंट पर ही लागू किया जायेगा.

इस नये सिस्टम का उद्देश्य फ्रॉड को रोकना है. अक्सर यह शिकायत आती है कि बगैर किसी जानकारी के ग्राहकों के अकाउंट से पैसे काट लिये जाते हैं. ऐसे में फ्रॉड की संभावना और बढ़ती है इसलिए इस नये नियम को लागू किया गया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें