1. home Hindi News
  2. business
  3. 7th pay commission nps investment news all categories of employees can benefit from investment in nps know how to get profit vwt

NPS में निवेश पर सभी श्रेणी के कर्मचारियों को मिल सकता है फायदा, जानिए कैसे?

By Agency
Updated Date
एनपीएस में निवेश हो सकता है फायदेमंद.
एनपीएस में निवेश हो सकता है फायदेमंद.
प्रतीकात्मक फोटो.

7th Pay Commission, NPS Investment news : पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (PFRDA) ने अगले बजट में राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (NPS) के तहत नियोक्ताओं (Employers) के 14 फीसदी के योगदान (Contribution) को सभी श्रेणियों के अंशधारकों (Shareholders) के लिए करमुक्त (Tax Free) करने का प्रस्ताव सरकार के समक्ष रखने का फैसला किया है. पीएफआरडीए के चेयरमैन सुप्रतिम बंद्योपाध्याय ने यह जानकारी दी. एनपीएस के तहत केंद्र सरकार के कर्मचारियों (Central Government Employees) के लिए पेंशन (Pension) में नियोक्ताओं के 14 फीसदी के योगदान को एक अप्रैल, 2019 से करमुक्त किया गया है.

सभी श्रेणियों के कर्मचारियों पर लागू होगा नया नियम

बंद्योपाध्याय ने कहा कि हम संभवत: नियोक्ताओं के 14 फीसदी के योगदान को सभी के लिए करमुक्त करने का प्रस्ताव करने जा रहे हैं. अभी यह सिर्फ केंद्र सरकार के कर्मचारियों को मिलता है. पीएफआरडीए के चेयरमैन ने कहा कि ऐसे में हम सरकार से आग्रह करेंगे कि इसे सभी कर्मचारियों को दिया जाए. चाहे राज्य सरकार का कर्मचारी हो या किसी कॉरपोरेट इकाई का कर्मचारी. सभी क्षेत्रों के अंशधारकों को इसका लाभ मिलना चाहिए.

कर्मचारियों के टैक्स बेनिफिट का राज्य कर रहे हैं मांग

उन्होंने कहा कि राज्य मांग कर रहे हैं कि 14 फीसदी का कर लाभ राज्य सरकार के कर्मचारियों को भी मिलना चाहिए. उन्होंने बताया कि कई राज्य सरकारों ने इस बारे में पीएफआरडीए को पत्र लिखा है. इसके अलावा, पीएफआरडीए सरकार से टियर-दो एनपीएस खाते (Tier-II NPS Account) को करमुक्त करने का लाभ सभी अंशधारकों को देने का आग्रह करेगा.

टियर-दो खाते में तीन साल का होता है लॉकइन पीरियड

बंद्योपाध्याय ने कहा कि टियर-दो एनपीएस खातों को हाल में विशिष्ट रूप से केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए करमुक्त किया गया है. ऐसे में इसमें भी हम सरकार को सभी अंशधारकों को लाभ देने का आग्रह करेंगे. करमुक्त टियर-दो खाते में लॉक-इन की अवधि तीन साल की होती है, क्योंकि इसे करमुक्त का दर्जा मिला है. हम चाहते हैं कि इसका विस्तार अन्य सभी कर्मचारियों तक किया जाए.

एनपीएस के तहत टियर-दो का खाताना नहीं है अनिवार्य

बंद्योपाध्याय ने कहा कि एनपीएस के तहत टियर-दो खाता अनिवार्य खाता नहीं है. टियर-एक के साथ किसी का टियर-दो खाता भी हो सकता है. उन्होंने कहा कि इसका लाभ यह है कि टियर-दो खाते को तत्काल वापस लिया जा सकता है. बता दें कि वित्त मंत्रालय ने पिछले महीने 2020-21 के बजट के लिए विचार-विमर्श की प्रक्रिया शुरू की है. यह बजट ऐसे समय आएगा, जब सरकार के समक्ष कोविड-19 से प्रभावित अर्थव्यवस्था को उबारने की चुनौती है.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें