36.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

42 फीसदी भारतीय पर्यटकों ने तोड़ा मालदीव का घमंड, अब संबंधों की दुहाई दे रहे पर्यटन मंत्री

Maldives Tourism: जब दिसंबर 2023 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया पर लक्षद्वीप की फोटो शेयर करते हुए यहां आने की अपील की थी, तब मालदीव के तीन मंत्रियों नेआपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

Maldives Tourism: भारत की ओर आंख तरेरकर देखने वाले मालदीव के घमंड को भारतीय पर्यटकों ने तोड़कर दिखा दिया है. जब भारतीय पर्यटकों ने मालदीव से रुख मोड़ लिया, तो वह पूरी तरह से बिलबिला गया, क्योंकि उसकी पूरी अर्थव्यवस्था और विदेशी मुद्रा भंडार ही श्रीलंका की तरह पर्यटन पर टिका हुआ है. जब 42 फीसदी पर्यटकों ने मालदीव के बदले दूसरे देश का रुख कर दिया, तब मालदीव के पसीने छूटने लगे और अब वह भारतीय पर्यटकों को न्योता देकर बुला रहा है.

भारत के साथ संबंधों की दुहाई दे रहे पर्यटन मंत्री

मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले चार महीने के दौरान भारत से मालदीव जाने वाले पर्यटकों की संख्या में करीब 42 फीसदी गिरावट दर्ज की गई. पर्यटन से चलने वाली अर्थव्यवस्था को बेपटरी होते देख अब मालदीव के पर्यटन मंत्री इब्राहिम फैसल अब भारतीय पर्यटकों को मालदीव आने का न्योता दे रहे हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि मालदीव के पर्यटन मंत्री इब्राहिम फैसल ने भारत के साथ अपने देश के ऐतिहासिक संबंधों की दुहाई देते कहा कि हमारी सरकार भारत के साथ मिलकर काम करना चाहती है. हमारे लोग और हमारी सरकार मालदीव आने वाले भारतीयों का गर्मजोशी से स्वागत करेंगे. मैं पर्यटन मंत्री के रूप में भारतीयों से कहना चाहता हूं कि आप मालदीव आएं. हमारी अर्थव्यवस्था दरअसल पर्यटन पर ही निर्भर है.

भारतीय पर्यटकों ने मालदीव का किया बहिष्कार

रिपोर्ट में कहा गया है कि मालदीव के पर्यटन मंत्री की यह अपील ऐसे समय पर आई है, जब उनके देश ने खुद ही भारत के साथ रिश्तों में खटास पैदा करके तनाव को बढ़ावा दिया है. जब दिसंबर 2023 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया पर लक्षद्वीप की फोटो शेयर करते हुए यहां आने की अपील की थी, तब मालदीव की सरकार के तीन मंत्रियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और लक्षद्वीप को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. उसके बाद से भारतीय पर्यटकों ने मालदीव को सबक सिखाने की ठान ली और तभी से उन्होंने उसका बायकॉट करना शुरू कर दिया.

भारतीय पर्यटकों की संख्या में 42 फीसदी की गिरावट

पर्यटकों के बहिष्कार का ही नतीजा है कि मालदीव की सैर के लिए जाने वाले भारतीय पर्यटकों की संख्या में तेजी से गिरावट दर्ज की गई. सन डॉट एमवी की एक रिपोर्ट के अनुसार, जनवरी से अप्रैल 2024 के बीच भारत से मालदीव जाने वाले पर्यटकों की संख्या में पिछले साल के मुकाबले करीब 42 फीसदी की गिरावट आई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय पर्यटकों के लिए सबसे पसंदीदा जगह मालदीव है, लेकिन दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ने की वजह से उनकी संख्या घट गई है. पर्यटन मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, पिछले चार महीनों के दौरान भारत से मालदीव जाने वाले पर्यटकों की 42,638 है, जबकि पिछले साल जनवरी से अप्रैल के बीच 73,785 भारतीय पर्यटक मालदीव गए थे.

अक्षय तृतीया पर गोल्ड में करें निवेश, मिलेगा बंपर रिटर्न, जानें एक्सपर्ट की राय

पर्यटन पर ही टिकी है मालदीव की अर्थव्यवस्था

मालदीव की अर्थव्यवस्था भी पूरी तरह से श्रीलंका की तरह पर्यटन पर ही टिका हुआ है. यहां आने वाले पर्यटकों की सबसे अधिक तादाद भारतीयों की है. अगर भारतीय पर्यटक मालदीव जाना बंद कर देते हैं, तो उसकी अर्थव्यवस्था बेपटरी हो जाएगी. उसका विदेशी मुद्रा भंडार कमजोर हो जाएगा और वह आर्थिक संकट के दौर से गुजरना शुरू कर देगा. अर्थव्यवस्था को बेपटरी होते देख ही मालदीव के पर्यटन मंत्री इब्राहिम फैसल ने संबंधों की दुहाई देते हुए भारतीय पर्यटकों से मालदीव आने की अपील की है.

साइबर ठगों पर PNB का बड़ा प्रहार, बंद करने जा रहा है खाता!

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें