Mobile कंपनियों का एक और झटका : Unlimited Call फैसिलिटी खत्म, एक मिनट बात करने का देना होगा 6 पैसा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : निजी क्षेत्र की मोबाइल सेवा कंपनियों ने अपने-अपने उपभोक्ताओं को एक और झटका दिया है. अब इन कंपनियों ने उपभोक्ताओं को अनलिमिटेड कॉल फैसिलिटी देना बंद कर दिया है. मोबाइल का इस्तेमाल करने वालों को अब एक मिनट बात करने के लिए छह पैसे का भुगतान करना पड़ेगा. इसके साथ ही, निजी क्षेत्र की मोबाइल कंपनियों ने प्री-पेड सेवाओं के लिए शुल्क की दरें महंगी कर दिया है.

वोडाफोन-आइडिया और एयरटेल की रविवार को घोषित नयी दरों के अनुसार, दोनों कंपनियों ने दूसरे नेटवर्क पर की जाने वाली कॉल के लिए अनलिमिटेड पैक में न्यायोचित उपयोग नीति (एफयूपी) लागू की है. इसके तहत, ग्राहकों को अनलिमिटेड पैक में अपने नेटवर्क से दूसरे नेटवर्क पर बात के लिए एक अवधि में कुछ सुनिश्चित मिनट मिलेंगे. प्लान की अवधि के लिए तय वायस कॉल के मिनट पूरे हो जाने के बाद ग्राहक को दूसरे नेटवर्क पर कॉल के लिए प्रति मिनट 6 पैसे का शुल्क देना होगा.

उल्लेखनीय है कि रिलायंस जियो ने अक्टूबर में दूसरे नेटवर्क पर की जाने वाली कॉल के लिए छह पैसे प्रति मिनट का शुल्क लेने की घोषणा की थी. वोडा-आइडिया और एयरटेल दोनों ने न्यायोचित उपयोग नीति के तहत 28 दिन वैधता वाले अनलिमिडेट पैक में दूसरे नेटवर्क पर कॉल के लिए 1,000 मिनट देने की पेशकश की है. अपने नेटवर्क के लिए अनलिमिटेड कॉलिंग की सुविधा मिलती रहेगी.

इसी तरह, 84 दिन और 365 दिन वाले पैक में उपभोक्ताओं को दूसरे नेटवर्क पर कॉल करने के लिए क्रमश: 3000 मिनट और 12,000 मिनट मिलेंगे. वोडाफोन-आइडिया और एयरटेल ने तीन दिसंबर और रिलायंस जियो ने 6 दिसंबर से मोबाइल सेवाओं की दरें 50 फीसदी तक बढ़ाने का रविवार को फैसला किया.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें