29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

मिचौंग की मार : चेन्नई में हुंडई के प्लांट में कार बनाने का काम ठप, चक्रवाती तूफान का कहर जारी

वाहन बनाने वाली कंपनी हुंडई समेत विभिन्न कंपनियों ने चक्रवाती तूफान मिचौंग से पैदा हुए हालात में तमिलनाडु में अपनी विनिर्माण गतिविधियों पर रोक लगा दी हैं. चक्रवाती तूफान ‘मिचोंग’ ने तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई और उसके आसपास के इलाकों में कहर बरपा रखा है.

नई दिल्ली : बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवाती तूफान मिचौंग की वजह से समुद्रतटीय प्रदेशों में न केवल आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है, बल्कि इसका प्रभाव औद्योगिक गतिविधियों पर भी गंभीर तरीके से पड़ रहा है. आलम यह है कि दक्षिण भारतीय प्रदेश तमिलानाडु में चक्रवाती तूफान मिचोंग की वजह से भारी बारिश की वजह से पैदा हुए हालात की वजह से ऑटोमोबाइल सेक्टर की प्रमुख कंपनी हुंडई मोटर इंडिया के प्लांट में वाहनों के निर्माण का काम बंद कर दिया गया है. इसके साथ ही, आईफोन बनाने वाली कंपनियां फॉक्सकॉन और पेगाट्रॉन ने भी अपने-अपने कारखानों में निर्माण गतिविधियों पर फिलहाल रोक लगा दी है.

चेन्नई में जलजमाव से ट्रेनों और वाहनों की आवाजाही बंद

मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, आईफोन बनाने वाली कंपनियां फॉक्सकॉन और पेगाट्रॉन के साथ ही वाहन बनाने वाली कंपनी हुंडई समेत विभिन्न कंपनियों ने चक्रवाती तूफान से पैदा हुए हालात में तमिलनाडु में अपनी विनिर्माण गतिविधियों पर रोक लगा दी हैं. चक्रवाती तूफान मिचौंग ने तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई और उसके आसपास के इलाकों में कहर बरपा रखा है. इससे शहर में जलजमाव के साथ ही उड़ानों और ट्रेनों की आवाजाही बुरी तरह से प्रभावित है.

श्रीपेरुंबदूर में हुंडई के कारखाने में कामकाज ठप

सूत्रों के मुताबिक, ऐसे हालात में चेन्नई और उसके आसपास के इलाकों में मौजूद कई कारखानों ने अस्थायी रूप से कामकाज को फिलहाल रोक दिया गया है. हुंडई मोटर इंडिया के प्रवक्ता ने कहा कि चेन्नई और उसके आसपास के जिलों में मौजूदा चक्रवाती तूफान मिचौंग की वजह से हुंडई मोटर इंडिया की श्रीपेरुंबदूर इकाई में कारखाना संचालन (सभी शिफ्ट) को चार दिसंबर, 2023 के लिए निलंबित कर दिया गया है. हालांकि, इस संबंध में फॉक्सकॉन और पेगाट्रॉन से कोई जवाब नहीं मिला है.

Also Read: आ गई एल्यूमीनियम से बनी पहली Electric Bike, एक सांस में 221 किमी की लगाती है दौड़

तमिलनाडु में भारी बारिश से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त

तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई और उसके पड़ोसी जिलों में लगातार बारिश के कारण कई हिस्से जलमग्न हो गए. इससे इन जगहों पर जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया. लगातार बारिश की वजह से यहां 2015 की बाढ़ जैसे हालात पैदा होने की आशंका है. लोग आवश्यक वस्तुओं विशेषकर पेयजल की खरीद के लिए भागदौड़ करते देखे गए. लगातार बारिश से कोई राहत नहीं मिली है, इसके कारण बिजली गुल हो गई और इंटरनेट बाधित हो गया.

Also Read: Honda लाने जा रही है नई इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल, जानें कब होगी लॉन्च

ताकतवर तूफान की वजह से उड़ान सेवाएं रद्द

चक्रवाती तूफान मिचौंग के कारण भारी बारिश हो रही है. इस चक्रवाती तूफान का यह नाम म्यामां ने सुझाया था, जिसका अर्थ है लचीलापन या ताकतवर. बारिश के कारण परिवहन सेवा बुरी तरह बाधित हो गई है और कई ट्रेन तथा उड़ान सेवाएं रद्द कर दी गई हैं. सड़कों पर जलजमाव होने के कारण आने-जाने वालों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. चेन्नई के कई हिस्से और आसपास के कांचीपुरम, चेंगलपट्टू और तिरुवल्लूर जिले जलमग्न हो गए हैं, जबकि सरकारी मशीनरी को रुके हुए पानी को हटाने के लिए तैनात किया गया है.

Also Read: बलेनो का खेल खराब करने नए अवतार में आ रही Tata Sumo! भारत में 25 साल तक किया है ठाठ

चेन्नई में देर रात तक तेज हवाओं के साथ भारी बारिश

मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, चक्रवाती तूफान मिचौंग की वजह से तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई और उसके आसपास के इलाकों में सोमवार सुबह 8.30 बजे तक पिछले 24 घंटों में, चेन्नई के पेरुंगुडी में 29 सेमी बारिश हुई, जबकि तिरुवल्लूर जिले के आवडी में 28 सेमी और चेंगलपेट के मामल्लापुरम में 22 सेमी बारिश दर्ज की गई. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के क्षेत्रीय कार्यालय की ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि तमिलनाडु के चार जिलों में सोमवार देर रात तक तेज हवाओं के साथ भारी से बहुत भारी बारिश होती रही.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें