24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Lok Sabha Election 2024 : कंगना रानौत ने मोतीलाल नेहरू पर दिया विवादित बयान, भड़की कांग्रेस

Lok Sabha Election 2024 : हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा सीट से बीजेपी की उम्मीदवार कंगना रनौत ने सरकाघाट विधानसभा क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित किया और कहा, पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के पिता मोतीलाल नेहरू अपने समय के अंबानी थे लेकिन कोई नहीं जानता कि उनकी धन-संपत्ति कहां से आई.

Lok Sabha Election 2024 : हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा सीट से बीजेपी की उम्मीदवार कंगना रनौत ने शनिवार को कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के पिता मोतीलाल नेहरू अपने समय के ‘‘अंबानी’’ थे, लेकिन कोई नहीं जानता था कि उनके पास संपत्ति कहां से आई थी. रनौत की इन टिप्पणियों के बाद कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग (ईसी) के समक्ष शिकायत दर्ज की. शिकायत में आरोप लगाया गया कि उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ ‘‘आपत्तिजनक और अपमानजनक’’ टिप्पणियों का इस्तेमाल किया है और ‘‘स्वतंत्रता सेनानी मोतीलाल नेहरू की तुलना देश के शीर्ष उद्योगपतियों में से एक से करने की कोशिश की है.’’

कंगना रनौत ने हिमाचल प्रदेश के सरकाघाट विधानसभा क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के पिता मोतीलाल नेहरू अपने समय के अंबानी थे लेकिन कोई नहीं जानता कि उनकी धन-संपत्ति कहां से आई. वह अंग्रेजों के करीबी थे और उनके पास धन कहां से आया यह आज भी एक रहस्य है. अभिनेत्री रनौत ने यह भी कहा कि ‘‘कोई नहीं जानता कि जवाहरलाल नेहरू प्रधानमंत्री कैसे बने क्योंकि मतदान (पूर्व उप प्रधानमंत्री) सरदार वल्लभभाई पटेल के पक्ष में हुआ था. तब से, वंशवादी शासन के इस दीमक ने देश को खोखला कर दिया है.’’

04051 Pti05 04 2024 000271B
Kangana ranaut / file photo

कंगना रनौत ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी और विक्रमादित्य सिंह के स्पष्ट संदर्भ में कहा, एक तरफ हमारे पास ‘तपस्वियों की सरकार’ (भाजपा सरकार) है और दूसरी तरफ हमारे पास ‘भोगियों की सरकार’ (कांग्रेस) है. विक्रमादित्य सिंह हिमाचल प्रदेश में लोक निर्माण मंत्री हैं और रामपुर के पूर्व शाही परिवार के वंशज हैं. पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत वीरभद्र सिंह एवं कांग्रेस की हिमाचल प्रदेश इकाई की प्रमुख प्रतिभा सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह को कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में रनौत के खिलाफ चुनाव मैदान में खड़ा किया है.

Read Also : Lok Sabha Election 2024 : ‘मैं अशुद्ध हूं’, ऐसा कहने वाले ‘शहजादों’ को जनता सबक सिखाएगी, जानें क्यों भड़की कंगना रनौत

04051 Pti05 04 2024 000273B
Kangana ranaut / file photo

कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग को दी गई अपनी शिकायत में कहा है, कंगना रनौत ने मंडी के सरकाघाट में एक सभा में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ आपत्तिजनक और अपमानजनक टिप्पणी की और स्वतंत्रता सेनानियों की व्यापारियों से तुलना करके सारी हदें पार कर दीं. इसमें कहा गया, उन्होंने स्वतंत्रता सेनानी मोतीलाल नेहरू की तुलना देश के शीर्ष व्यवसायियों में से एक से करने की कोशिश की है. कांग्रेस ने अपनी शिकायत में कहा कि रनौत ने संजय गांधी पर ‘‘भारत में पुरुषों की जबरन नसबंदी करने में शामिल होने’’ का आरोप लगाया है.

01051 Pti04 30 2024 000355A
Kangana ranaut / file photo

निर्वाचन आयोग को शिकायत हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के कानूनी विभाग के राज्य संयोजक धनंजय शर्मा और धीरज ठाकुर द्वारा दी गई है. पार्टी ने कहा कि ये आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है और उन लोगों पर निजी हमला है जो अब जीवित नहीं हैं. शिकायत में कहा गया है कि उन्होंने कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के खिलाफ भी अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया और यहां तक कि कांग्रेस नेता विक्रमादित्य सिंह को एक ‘‘कार्टून’’ भी कहा. शिकायत में रनौत को आगे किसी भी चुनाव प्रचार में भाग लेने से रोकने की मांग की. रनौत ने सुंदरनगर विधानसभा क्षेत्र में एक सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस को ‘‘अंग्रेजों द्वारा छोड़ी गई ऐसी बीमारी’’ करार दिया था जो देश को ‘दीमक’ की तरह खा रही है. उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को ‘‘तानाशाह’’ करार दिया था.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें