36.9 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

Israel Hamas Lebanon War: मिसाइल से उड़ाया टैंक, भारी गोलीबारी, इजराइल हमास की लड़ाई में कूद गया है लेबनान!

इजराइल हमास जंग की आंच अब दूसरे इलाकों में भी फैल रही है. लेबनान भी लगता है युद्ध में कूद गया है. दरअसल इजराइल की दक्षिणी सीमा पर लेबनान की ओर से हमले होने लगे हैं. लेबनान से दागी गयी एंटी टैंक मिसाइल उत्तरी इजराइल के मेटुला में गिरी और तीन लोग घायल हो गये.

Israel Hamas Lebanon War: इजराइल और हमास के बीच गाजा पट्टी में भयंकर लड़ाई छिड़ी है. इजराइल लगातार गाजा पट्टी पर हमला कर रहा है. वहीं हमास के लड़ाके भी रॉकेटों से इजराइल पर हमला कर रहे हैं. इस बीच लग रहा है कि लेबनान ने भी इजराइल के खिलाफ युद्ध छेड़ दिया है. दरअसल, लेबनान की तरफ से इजराइली सीमा पर भारी गोलीबारी की जा रही है. लेबनान की ओर से ही आई एक एंटी टैंक मिसाइल ने इजराइली टैंक को उड़ा दिया है. मंगलवार को लेबनान से दागी गयी एंटी टैंक मिसाइल उत्तरी इजराइल के मेटुला में गिरी और तीन लोग घायल हो गये.  हालांकि इजराइल की सेना इसका पूरा जवाब दे रही है.

किसी संगठन ने नहीं ली जिम्मेदारी
इजराइल पर मिसाइल हमले की हालांकि अभी तक लेबनान के किसी संगठन ने जिम्मेदारी नहीं ली है. वैसे यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि इस मिसाइल हमले में घायल हुए लोग आम नागरिक हैं या सैनिक, लेकिन इजराइल लेबनान सीमा से सटे क्षेत्रों में रह रहे लोगों को इलाके को खाली करने का आदेश दे चुका है. इजराइल ने दक्षिणी लेबनान में सीमावर्ती क्षेत्रों में कई गोले दागे और व्हाइट फॉस्फोरस छोड़ा. लेबनान की सरकारी समाचार समिति नेशनल न्यूज एजेंसी ने यह जानकारी दी है. इधर, इजराइल की सेना ने कहा कि सीमा पार से एंटी टैंक मिसाइल दागे जाने के बाद उसके टैंकों ने जवाबी कार्रवाई की. पहले इजराइली सेना ने कहा था कि उसने उन चार आतंकवादियों को मार गिराया उन्होंने इजराइल और लेबनान के बीच की दीवार में विस्फोटक लगाने की कोशिश की थी.

पूरी तरह तबाही के कगार पर गाजा
लड़ाई के 10वें दिन भी इजराइल की ओर से गाजा पट्टी पर लगातार हमला हो रहा है. आतंकियों के संभावित ठिकानों पर इजराइल रॉकेट और एयर स्ट्राइक कर रहा है. आज यानी मंगलवार को भी दक्षिणी गाजी पर इजराइल की हवाई हमले जारी रहा. हमले में दर्जनों लोगों की मौत हो गई है. हालांकि ये हवाई हमले इजराइल की ओर से आम लोगों को उत्तरी गाजा से दक्षिणी गाजा की ओर जाने की चेतावनी दिए जाने के बाद हुए हैं. दरअसल इजराइल गाजा पर अब जमीनी हमले की तैयारी कर रहा है. तीन लाख से ज्यादा की संख्या में इजराइली सेना गाजा बॉर्डर पर खड़ी है.

आम लोगों को भी हमले में हो रही है भारी क्षति
गाजा के निवासियों ने बताया कि दक्षिणी गाजा के शहर रफह और खान यूनिस के बाहर हमलों के बाद घायलों को अस्पताल ले जाया गया. हमास के वरिष्ठ अधिकारी और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री बासम नईम ने कहा कि रफह में 27 तो खान यूनिस में 30 लोगों की मौत हुई है. एसोसिएटेड प्रेस के एक संवाददाता के मुताबिक मंगलवार की सुबह से खान यूनिस के नासिर अस्पताल में लगभग 50 शवों को लाया गया है. उनके परिवार के सदस्य शवों पर दावा करने अस्पताल पहुंचे हैं. देर अल बलाह में एक हवाई हमले में एक घर मलबे में तब्दील हो गया जिसमें एक परिवार के नौ सदस्यों की मौत हो गयी. पड़ोस में एक अन्य परिवार के तीन सदस्यों की भी मौत हो गयी.

क्या है लड़ाई का कारण
दरअसल हमास ने सात अक्टूबर को दक्षिणी इजराइल पर हमला किया था जिसमें इजराइल के 1400 लोगों की मौत हो गई थी . इनमें ज्यादातर आम लोग थे . इसके बाद से इजराइल हमास शासित गाजा पर हवाई हमले कर रहा है. वहां के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इजराइल हमलों में गाजा के कम से कम 2778 लोगों की मौत हो चुकी है और 9700 अन्य जख्मी हुए हैं. हालांकि इन हमलों के बाद भी हमास के चरमपंथियों ने इजराइल पर रॉकेट दागने बंद नहीं किए हैं. स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, गाजा भर में करीब 1200 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है.

गाजा में खाना, पानी, ईंधन और दवाओं की घोर किल्लत
हवाई हमलों और इजराइल की नाकेबंदी की वजह से गाजा में जरूरी चीजों की घोर कमी हो गई है. वहीं इजराइल ने लोगों से कहा है कि वह उत्तरी गाजा छोड़कर दक्षिणी हिस्से में चले जाएं. इससे भी लोगों में हताशा बढ़ी है. गाज़ा पट्टी की आबादी करीब 23 लाख है. संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक, 10 लाख से ज्यादा फिलिस्तीनियों ने अपने घर छोड़ दिए हैं और 60 फीसदी लोग दक्षिण के निकासी ज़ोन के तकरीबन 14 किलोमीटर लंबे क्षेत्र में हैं. सहायता कार्यकर्ताओं ने चेताया है कि गाज़ा लगभग बर्बाद हो गया है और पानी और दवाओं की आपूर्ति लगातार घट रही है . अस्पतालों में बिजली किसी भी समय गुल हो सकती है.

Also Read: Weather Forecast: तूफान की आहट! चक्रवात में बदल सकता है निम्न दबाव का क्षेत्र, समय से पहले सर्दी ने दी दस्तक

गाजा को मिस्र से जोड़ने वाले एकमात्र स्थल रफह क्रॉसिंग पर ट्रक सहायता सामग्री लेकर खड़े हैं और वे छोटे से क्षेत्र में प्रवेश करने का इंतजार कर रहे हैं . फंसे हुए नागरिक वहां से निकलने की उम्मीद कर रहे हैं जिनमें ज्यादातर ऐसे फलस्तीनी हैं जिनके पास दोहरी नागरिकता है. मध्यस्थ, सीमा को खोलने के वास्ते संघर्ष विराम कराने के लिए सहमति बनाने की कोशिश कर रहे हैं. पिछले हफ्ते इजराइली हवाई हमलों के बाद इस सीमा को बंद कर दिया गया था. मिस्र के एक अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि मिस्र और इजराइल इस बात पर सहमत हुए हैं कि सीमा पर मौजूद सहायता दस्ते गाजा और इजराइल के बीच सीमा क्रॉसिंग केरेम शलोम का दौरा करने के लिए इज़राइल जाएंगे और इसके बाद सहायता सामग्री ले जाने वाले काफिले को गाजा जाने की अनुमति दी जाएगी.

Also Read: Rahul Gandhi: राहुल गांधी ने की स्कूटी की सवारी, सड़कों पर लोगों से मिलाया हाथ, ली सेल्फी

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें