1. home Hindi News
  2. world
  3. who report corona causing havoc in the world by spreading to humans through bats vwt

WHO की रिपोर्ट : चमगादड़ के जरिए मनुष्यों में फैलकर दुनिया में तबाही मचा रहा कोरोना

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
देश में फैल रहे कोरोना के मामले.
देश में फैल रहे कोरोना के मामले.
प्रतीकात्मक फोटो.

बीजिंग : दुनिया भर में फैली कोरोना वायरस महामारी की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए चीन का दौरा करने वाली विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की टीम के अनुसार, यह खतरनाक वायरस चमगादड़ से अन्य जंतुओं के जरिए मनुष्यों में फैला होगा. प्रयोगशाला से वायरस फैलने की आशंका बहुत कम है. समाचार एजेंसी एपी को प्राप्त हुई जांच टीम की मसौदा रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है.

हालांकि, जांच रिपोर्ट में उम्मीद के अनुसार कई सवालों के जवाब नहीं मिले हैं. टीम ने प्रयोगशाला से वायरस के लीक होने के पहलू को छोड़कर अन्य सभी पहलुओं पर आगे जांच करने का प्रस्ताव रखा है. रिपोर्ट को जारी किये जाने में लगातार देरी हो रही है, जिससे सवाल उठ रहे हैं कि कहीं चीनी पक्ष जांच के निष्कर्ष को प्रभावित करने का प्रयास तो नहीं कर रहा, ताकि चीन पर कोविड-19 महामारी फैलने का दोष न मढ़ा जाए.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के एक अधिकारी ने पिछले सप्ताह के अंत में कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि टीम की रिपोर्ट अगले कुछ दिन में जारी कर दी जाएगी. अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने हाल ही में सीएनएन को दिए एक साक्षात्कार में कहा था कि हमारी चिंता इस रिपोर्ट की कार्यप्रणाली और प्रक्रिया को लेकर है. यह भी एक तथ्य है कि चीनी सरकार ने इस रिपोर्ट को तैयार करने में मदद की है.

वहीं, चीन ने सोमवार को ब्लिंकन की इस आलोचना को खारिज कर दिया. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा कि अमेरिका रिपोर्ट के संबंध में जो कुछ बोल रहा है, उसके जरिए क्या वह डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञ समूह के सदस्यों पर राजनीतिक दबाव डालने का प्रयास नहीं कर रहा?

समाचार एजेंसी एपी को सोमवार को जेनेवा में स्थित डब्ल्यूएचओ सदस्य देश के राजनयिक की ओर से जांच टीम की रिपोर्ट मिली है. हालांकि, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि रिपोर्ट को जारी करने से पहले इसमें बदलाव किया जाएगा, या नहीं? वहीं, राजनयिक का कहना है कि यह रिपोर्ट का अंतिम संस्करण है.

इस बीच, डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस अदानोम गेब्रेयसस ने स्वीकार किया कि उन्हें सप्ताहांत में रिपोर्ट प्राप्त हो गई थी और इसे मंगलवार को औपचारिक तौर पर पेश किया जाएगा. अध्ययनकर्ताओं ने सार्स-कोव-2 नामक कोरोना वायरस की उत्पत्ति की चार परिस्थितियां बताई हैं, जिसमें चमगादड़ों से अन्य जंतुओं में इसका प्रसार हुआ होगा, मुख्य है.

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें