1. home Home
  2. world
  3. terrorist attack in norway with bow and arrows five killed mtj

नॉर्वे में तीर-कमान से ‘आतंकवादी’ हमला, पांच लोगों की मौत

Bow and Arrow Attack|Norway|विस्तृत जांच से स्पष्ट होगा कि हमले के पीछे उद्देश्य क्या था.’ बयान में कहा गया कि पीएसटी को संदिग्ध हमलावर के बारे में पहले से जानकारी थी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bow and Arrow Attack: संदिग्ध आतंकवादी को पुलिस ने कर लिया है गिरफ्तार
Bow and Arrow Attack: संदिग्ध आतंकवादी को पुलिस ने कर लिया है गिरफ्तार
Twitter (Daily Mail Online)

कोंग्सबर्ग (नार्वे): नार्वे में तीर-कमान से हुए आतंकवादी हमले में पांच लोगों की मौत हो गयी. नॉर्वे की आंतरिक सुरक्षा एजेंसी ने गुरुवार को कहा कि तीर-कमान से हुआ हमला आतंकवादी कार्रवाई प्रतीत होती है. इस हमले में पांच लोगों की मौत हो गयी थी.

पीएसटी नाम से विख्यात एजेंसी ने बताया कि बुधवार रात को नॉर्वे के छोटे कस्बे में हुआ हमला, ‘मौजूदा समय में आतंकवादी घटना’ प्रतीत होती है. बयान में कहा, ‘विस्तृत जांच से स्पष्ट होगा कि हमले के पीछे उद्देश्य क्या था.’ बयान में कहा गया कि पीएसटी को संदिग्ध हमलावर के बारे में पहले से जानकारी थी.

हालांकि, एजेंसी ने आरोपी के बारे में कोई विस्तृत जानकारी नहीं दी. पुलिस ने बृहस्पतिवार को बताया कि 37 वर्षीय डेनमार्क निवासी हमले का संदिग्ध है, जिसने धर्म परिवर्तित कर इस्लाम स्वीकार कर लिया था और पहले ही उसे कट्टरपंथी के तौर पर चिह्नित किया गया था.

आंतरिक सुरक्षा एजेंसी ने बताया कि नॉर्वे में आतंकवाद के खतरे को लेकर जारी चेतावनी के स्तर में कोई बदलाव नहीं किया गया है और यह ‘मध्यम’ श्रेणी की है. बता दें कि नॉर्वे के एक छोटे शहर में एक व्यक्ति ने दुकानदारों पर तीर-कमान से हमला कर दिया था, जिसमें पांच लोगों की मौत हो गयी.

अधिकारियों का हुआ हमलावर से सामना

हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया है. कांग्सबर्ग के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अधिकारियों और हमलावर का आमना-सामना हुआ. हमले में दो लोग घायल भी हुए हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घायलों में एक पुलिसकर्मी भी है, जिसकी ड्यूटी खत्म हो चुकी थी और वह उन दुकानों में से एक के अंदर था, जिन पर हमला हुआ.

पुलिस प्रमुख ऑयविंग आस ने कहा, ‘पुलिस ने हमलावर को गिरफ्तार कर लिया है. हमें जो सूचना मिली है, उसके मुताबिक इस हमले में केवल एक ही व्यक्ति शामिल था.’ देश की कार्यवाहक प्रधानमंत्री इरना सोलबर्ग ने इसे भयावह हमला बताया और कहा कि इस हमले के पीछे के इरादे का अनुमान लगाना जल्दबाजी होगी.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें