1. home Home
  2. world
  3. taliban rockets hit kandahar airport afghanistan pakistan army support pkj

खुल गयी पाकिस्तान की पोल, तालिबान के पक्ष में लड़ रहे पाक सैनिक ढेर

पाकिस्तान खुलकर तालिबान का समर्थन कर रहे हैं और अपनी सेना को भी इनके पक्ष में उतार रखा है.अफगान आर्मी 209 कॉर्प्स के मुताबिक़, जावेद नाम के एक पाकिस्तानी सेना अधिकारी को अफगानिस्तान की सेना ने मार गिराया यह पक्तिका इलाकों में तालिबान की अगुवाई कर रहे थे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
kandahar airport attack by taliban
kandahar airport attack by taliban
file

अफगानिस्तान में कंधार एयरपोर्ट पर तालिबान ने रॉकेट दागे हैं. तालिबान लगातार ज्यादा से ज्यादा इलाके पर कब्जे की कोशिश कर रहा है. पाकिस्तान भी इस हिंसा में तालिबान का साथ दे रहा है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान ने इसे हमेशा नकारा है. कई मौकों पर ऐसे सबूत मिले हैं जो इशारा करते हैं कि पाकिस्तान तालिबान का साथ देता रहा है.

अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना भले बाहर निकल गयी हो लेकिन अब भी अफगानिस्तान का सहयोग कर रही है. इस सहयोग के दम पर अफगानिस्तानी सेना ने तालिबानियों को पीछे धकेलना शुरू कर दिया है . खबर है कि गजनी, तखर, कंधार, हेलमंद और बाग़लान सहित 20 जगरों पर भीषण लड़ाई जारी है.

इस लड़ाई में कई तालिबानी घायल हुए हैं इनमें से कई पाकिस्तानी लड़ाके भी शामिल है. अफगानिस्तान की सेना ने तालिबान के पक्ष में लड़ते हुए पाकिस्तानी सेना के एक बड़े अधिकारी को मार गिराया है.

अफगानिस्तान के इस दावे ने पाकिस्तान की पोल खोल दी है. पाकिस्तान खुलकर तालिबान का समर्थन कर रहे हैं और अपनी सेना को भी इनके पक्ष में उतार रखा है.अफगान आर्मी 209 कॉर्प्स के मुताबिक़, जावेद नाम के एक पाकिस्तानी सेना अधिकारी को अफगानिस्तान की सेना ने मार गिराया यह पक्तिका इलाकों में तालिबान की अगुवाई कर रहे थे.

पाकिस्तानी तालिबानी लड़ाकों को समय - समय पर हथियार और जरूरी मदद करता रहा है. अब खुलकर अफगानिस्तानी सेना के समर्थन में पाकिस्तानी सैनिक लड़ रहे हैं. पाकिस्तान में भी उनकी इस दोहरी रणनीति का विरोध हो रहा है 28 जुलाई को पाकिस्तान के दक्षिणी वजीरिस्तान (खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में) में एक विरोध मार्च निकाला गया था.

इस विरोध मार्च में पाकिस्तानी की इस दोहरी रणनीति का विरोध किया गया. मार्च में शामिल लोगों ने कहा, पाकिस्तान एक तरफ तो अफगान नागरिकों से हमदर्दी दिखा रहा है तो दूसरी तरफ तालिबान का समर्थन कर रहा है.

अफगानिस्तान अमेरिका की मदद से हवाई हमले तेज कर रहा है. तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने हमलों के लिए चेतावनी दी है और अमेरिकी हवाई हमलों की निंदा की है. तालिबान उन जगहों को निशाना बना रहा है जो अफगानिस्तान को मजबूत बनाने में मदद करते हैं जिसमें कंधार का एयरपोर्ट भी शामिल है.

दूसरी तरफ अफगानिस्तान भी अपनी ताकत बढ़ा रहा है. हाईवे से लगे कई गांवों को विद्रोहियों के कब्ज़े से छुड़ा लिया है और कम से कम नौ विस्फोटक निष्क्रिय कर दिए हैं. भारत द्वारा बनाये गये सलमा बांध पर हमले की तालिबानी रणनीति को भी अफगान सेना ने विफल कर दिया है. दूसरी तरफ अमेरिका ने भरोसा दिया है कि वह आतंकियों पर हवाई हमले जारी रखेगा .

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें