1. home Home
  2. world
  3. protest against atrocities on hindus in pakistan rjh

पाकिस्तान में गूंजा जय श्रीराम का नारा, हिंदुओं पर अत्याचार के खिलाफ हुआ प्रदर्शन

पाकिस्तान में हिंदुओं के इस विरोध प्रदर्शन में ईसाई, पारसी और सिख धर्म के अल्पसंख्यक भी शामिल हुए, जो लगातार पाकिस्तान में शोषित हो रहे हैं. इस विरोध प्रदर्शन में हिंदुओं ने जमकर नारेबाजी की और जय श्रीराम और हर-हर महादेव का नारा बुलंद किया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Imran Khan
Imran Khan
Twitter
  • पाकिस्तान के हिंदू मंदिर में हुई तोड़फोड़

  • विरोध प्रदर्शन में गूंजा जय श्रीराम का नारा

  • हिंदू लड़कियों के साथ जबरन शादी की घटनाएं भी आम

पाकिस्तान में अगर जय श्रीराम और हर-हर महादेव का नारा बुलंद हो तो यह जानने की इच्छा सबकी होती है कि आखिर मामला क्या है? दरअसल पाकिस्तान में हिंदुओं पर लगातार हमले हो रहे हैं और मंदिरों को तोड़ा जा रहा है. इस व्यवहार से पाकिस्तान का हिंदू गुस्से में है और उन्होंने वहां विरोध प्रदर्शन किया है.

आजतक के अनुसार पाकिस्तान में हिंदुओं के इस विरोध प्रदर्शन में ईसाई, पारसी और सिख धर्म के अल्पसंख्यक भी शामिल हुए, जो लगातार पाकिस्तान में शोषित हो रहे हैं. इस विरोध प्रदर्शन में हिंदुओं ने जमकर नारेबाजी की और जय श्रीराम और हर-हर महादेव का नारा बुलंद किया.

इस विरोध प्रदर्शन में शामिल लोग वी वांट जस्टिस का बोर्ड लेकर चल रहे थे और उनके अंदर गुस्सा था. ज्ञात हो कि पाकिस्तान के कराची शहर के रहीम यार खान इलाके के गणेश मंदिर में पिछले दिनों तोड़फोड़ हुई थी. इस मंदिर के पुजारी के मुख्य पुजारी रामनाथ मिश्र भी प्रदर्शन में शामिल हुए.

हिंदुओं पर अत्याचार करने वालों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं

पुजारी रामनाथ मिश्र ने कहा कि पाकिस्तान में इस्लाम के खिलाफ गलत बोलने या करने पर मौत की सजा मिलती है, तो फिर हमारे धर्म के साथ यह भेदभाव क्यों? क्यों हिंदुओं और उनके भगवान का अपमान करने वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती है? हमें न्याय चाहिए. पाकिस्तान में हिंदुओं के साथ अत्याचार की घटनाएं हमेशा ही होती रहती हैं. लड़कियों से जबरन शादी और फिर उनसे इस्लाम कुबूल करवाने के भी कई मामले सामने आये हैं.

इमरान खान ने की थी गणेश मंदिर में तोड़फोड़ की निंदा

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गणेश मंदिर में हुई तोड़फोड़ की घटना को गलत बताया था और उसकी निंदा भी की थी. वहीं हिंदुओं को कुछ प्रगतिशील मुसलमानों का साथ भी मिला है, जो यह कह रहे हैं कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हो रहा है. कराची के मुफ्ती फैसल ने कहा कि हिंदुस्तान में मुसलमान अभी भी अल्पसंख्यक हैं लेकिन वहां उनके अधिकार सुरक्षित हैं और वे शान से अपने देश में रहते हैं.

गौरतलब है कि पाकिस्तान एक इस्लामिक राष्ट्र है, जहां की संस्कृति पर इस्लाम का पूरा प्रभाव है. पाकिस्तान का निर्माण धर्म के आधार पर ही हुआ था, यही वजह है कि वहां रहने वाले अल्पसंख्यकों खासकर हिंदुओं पर हमेशा से काफी अत्याचार होता है और हिंदुओं की बेटियों का अपहरण कर जबरन उनसे शादी और धर्मांतरण की घटनाएं भी खूब होती हैं.

Posted By : Rajneesh Anand

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें