35.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Pakistan Prime Minister: पाकिस्तान में कब बनेगी सरकार? सत्ता बंटवारे पर बिलावल और नवाज के बीच नहीं बनी बात

Pakistan Prime Minister पाकिस्तान में आम चुनाव खत्म हुए 10 दिन गुजर गए हैं, लेकिन अबतक वहां सरकार को अंतिम रूप नहीं दिया जा सका है. अबतक नये प्रधानमंत्री कौन होगा, इसपर फैसला नहीं लिया गया है. पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के बीच सरकार गठन को लेकर बातचीत जारी है, लेकिन […]

Pakistan Prime Minister पाकिस्तान में आम चुनाव खत्म हुए 10 दिन गुजर गए हैं, लेकिन अबतक वहां सरकार को अंतिम रूप नहीं दिया जा सका है. अबतक नये प्रधानमंत्री कौन होगा, इसपर फैसला नहीं लिया गया है. पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के बीच सरकार गठन को लेकर बातचीत जारी है, लेकिन अबतक बात नहीं बन पाई है.

सत्ता-बंटवारे के ‘फॉर्मूले’ को लेकर बातचीत बेनतीजा

पाकिस्तान में गठबंधन सरकार के लिए सत्ता-बंटवारे के ‘फॉर्मूले’ को लेकर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के बीच बातचीत बेनतीजा रही. दोनों दलों की संपर्क एवं समन्वय समितियों (सीसीसी) के बीच शनिवार को हुई तीसरी बैठक बेनतीजा रही और दोनों ने सत्ता-बंटवारे के ‘फॉर्मूले’ को अंतिम रूप देने के लिए सोमवार को एक और बैठक करने का फैसला किया.

पीएमएल-एन ने शहबाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद के लिए नामित किया

नवाज शरीफ के नेतृत्व वाली पीएमएल-एन ने शहबाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद के लिए नामित किया है.

बिलावल ने सत्ता बंटवारा फार्मूले का किया खुलासा

डॉन अखबार की खबर के मुताबिक सिंध प्रांत के थट्टा शहर में एक रैली को संबोधित करते हुए पीपीपी अध्यक्ष बिलावल (35) ने सत्ता बंटवारे को लेकर पीएमएल-एन की ओर से की गई पेशकश का खुलासा किया जिसे उन्होंने अस्वीकार कर दिया है. उन्होंने कहा, मुझसे कहा गया था कि हमें तीन साल के लिए प्रधानमंत्री बनने दीजिए और फिर आप शेष दो वर्षों के लिए प्रधानमंत्री पद ले सकते हैं. बिलावल ने कहा, मैंने इसके लिए मना कर दिया. मैंने कहा कि मैं इस तरह प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहता. उन्होंने कहा, अगर मैं प्रधानमंत्री बनता हूं तो ऐसा पाकिस्तान के लोगों द्वारा मुझे चुने जाने के बाद होगा.

‘पीटीआई’ ने चुनाव में कथित धांधली को लेकर निर्वाचन आयुक्त, प्रधान न्यायाधीश का इस्तीफा मांगा

जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी ने चुनाव में ‘धांधली’ के संबंध में एक वरिष्ठ नौकरशाह के आरोपों के बाद पाकिस्तान के मुख्य निर्वाचन आयुक्त और प्रधान न्यायाधीश के इस्तीफे की मांग की है. रावलपिंडी के पूर्व आयुक्त लियाकत अली चट्ठा ने शनिवार को आरोप लगाया था कि शहर में जो उम्मीदवार चुनाव हार रहे थे, उन्हें जिताया गया. उन्होंने दावा किया कि रावलपिंडी के 13 उम्मीदवारों को गलत तरीके से विजेता घोषित किया गया. उनकी टिप्पणी ऐसे समय आई है जब ‘पीटीआई’ ने आठ फरवरी के चुनावों में कथित धांधली के खिलाफ देशव्यापी विरोध प्रदर्शन शुरू किया है.

इमरान खान की पार्टी द्वारा समर्थित उम्मीदवारों ने चुनाव में जीते सबसे अधिक 93 सीट

पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी द्वारा समर्थित उम्मीदवारों ने नेशनल असेंबली की 265 में से 93 सीट पर जीत हासिल की. पीएमएल-एन ने 75 सीट जीतीं जबकि पीपीपी 54 सीट के साथ तीसरे स्थान पर रही. मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पाकिस्तान (एमक्यूएम-पी) भी 17 सीट के साथ समर्थन देने के लिए तैयार हो गई है. सरकार बनाने के लिए 266 में से 133 सीट की जरूरत है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें