1. home Hindi News
  2. world
  3. pakistan prime minister imran khan clears appointment of lt gen nadeem anjum as new pak inter services intelligence isi chief smb

सेना के आगे झुके पीएम इमरान खान, नदीम अंजुम को ISI चीफ बनाने की देनी पड़ी मंजूरी

हारकर इमरान खान को उसी लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम को आईएसआई चीफ बनाने के लिए मंजूरी देनी पड़ी, जिसके वे खिलाफ थे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
इमरान खान ने नदीम अंजुम को ISI चीफ बनाने की दी मंजूरी
इमरान खान ने नदीम अंजुम को ISI चीफ बनाने की दी मंजूरी
फाइल

Pak New ISI Chief पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (ISI) के चीफ की नियुक्ति के लिए सेना के सामने प्रधानमत्री इमरान खान की दाल नहीं गल सकी है. अंतत: हारकर इमरान खान को उसी लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम को आईएसआई चीफ बनाने के लिए मंजूरी देनी पड़ी, जिसके वे खिलाफ थे.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के कार्यालय ने नदीम अंजुम को नया आईएसआई चीफ बनाने को मंजूरी दे दी है. 20 नवंबर से नदीम अंजुम अपना कार्यभार संभालेगा. दरअसल, इमरान खान चाहते थे कि मौजूदा आईएसआई चीफ लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद को नहीं हटाया जाए. हालांकि, पाकिस्तान सेना के चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा के आगे उन्हें झुकना पड़ा है. फैज हमीद 19 नवंबर तक आईएसआई चीफ बना रहेगा.

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री कार्यालय ने मंगलवार को लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम को आईएसआई के नए प्रमुख के रूप में नियुक्त करने की अधिसूचना जारी कर दी है. नदीम अंजुम को चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ कमर जावेद बाजवा का करीबी बताया जाता है, लेकिन वह इमरान खान की पसंद नहीं है. अधिसूचना में कहा गया है कि, प्रधानमंत्री ने 20 नवंबर 2021 से लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अहमद अंजुम की महानिदेशक इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस के तौर पर नियुक्ति को मंजूरी दे दी है.

बता दें कि आईएसआई प्रमुख की नियुक्ति को लेकर पाकिस्तान में सेना और सरकार के बीच बीस दिनों से टकराव बना हुआ था और अंततः इस सेना द्वारा चुने गए अधिकारी पर इमरान खान ने अपनी मुहर लगा दी है. आईएसआई प्रमुख का पद पाकिस्तानी सेना में सबसे महत्वपूर्ण पदों में से एक माना जाता है. रक्षा और विदेश मामले में आईएसआई चीफ की भूमिका काफी अहम होती है. इस पद पर बैठा व्‍यक्ति राजनीतिक लिहाज से भी बेहद महत्‍वपूर्ण होता है.

नए आईएसआई चीफ लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम पाकिस्तानी सेना की पंजाब रेजिमेंट से हैं और उन्हें युद्ध का काफी अनुभव है. लेफ्टिनेंट जनरल अंजुम पहले कराची कोर के कमांडर थे और सितंबर 2019 में उन्हें लेफ्टिनेंट जनरल के पद पर पदोन्नत किया गया था. आईएसआई के पूर्व चीफ रहे फैज हमीद को 16 जून, 2019 को एजेंसी का प्रमुख नियुक्त किया गया था. उससे पहले उन्होंने आईएसआई में आंतरिक सुरक्षा के प्रमुख के रूप में काम किया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें