1. home Hindi News
  2. world
  3. pakistan news imran khan may arrested sloganeering against pm shehbaz sharif blasphemy smb

Pakistan News: ईशनिंदा कानून के लपेटे में आए इमरान खान, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की परेशानी कम होती नहीं दिख रही है. दरअसल, पाक में अल्‍पसंख्‍यकों के उत्‍पीड़न के लिए बनाए गए ईशनिंदा कानून के लपेटे में इमरान खान भी आ गए हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Pakistan News: ईशनिंदा कानून के लपेटे में इमरान खान, कभी हो सकते है अरेस्ट
Pakistan News: ईशनिंदा कानून के लपेटे में इमरान खान, कभी हो सकते है अरेस्ट
फाइल

Pakistan News: पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की परेशानी कम होती नहीं दिख रही है. दरअसल, पाक में अल्‍पसंख्‍यकों के उत्‍पीड़न के लिए बनाए गए ईशनिंदा कानून के लपेटे में इमरान खान भी आ गए हैं. ताजा जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान के पूर्व इमरान खान की गिरफ्तारी कभी भी हो सकती है.

ईशनिंदा कानून के तहत मामला दर्ज

बता दें कि सऊदी अरब के मदीना शहर में पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और उनकी कैबिनेट के अन्‍य सदस्‍यों के खिलाफ चोर-चोर के नारे लगाए जाने के मामले में पाकिस्‍तानी पुलिस ने इमरान खान और 150 अन्‍य लोगों के खिलाफ ईशनिंदा कानून के तहत मामला दर्ज किया था. सत्ताधारी पार्टी पीएमएल-एन के समर्थकों का कहना है कि मदीना में जो कुछ हुआ, वो इमरान खान की पार्टी के इशारे पर हुआ है.

कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह की तरफ से मीडिया रिपोर्टस में कहा गया है कि पूर्व पीएम इमरान खान को मदीना में नारेबाजी मामले में गिरफ्तार किया जाएगा. मालूम हो कि इसी सप्ताह सऊदी के मदीना में प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और उनके प्रतिनिधिमंडल के खिलाफ चोर-चोर के नारे लगाए गए थे. आरोप है कि पूर्व पीएम इमरान खान के इशारे पर ये नारेबाजी की गई है.

सोशल मीडिया पर वीडिया वायरल

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि शहबाज शरीफ और उनका प्रतिनिधिमंडल पिछले गुरुवार को जैसे ही सऊदी अरब के मदीना में पैगंबर की मस्जिद पर पहुंचा, वैसे ही कुछ जायरीन ‘चोर’ और ‘गद्दार’ कहकर उसके खिलाफ नारेबाजी करने लगे.

इन धाराओं के तहत FIR दर्ज

दर्ज प्राथमिकी के अनुसार, मदीना में Masjid-e-Nabvi में पीएम शहबाज शरीफ और उनके प्रतिनिधिमंडल को निशाना बनाने के उद्देश्य से पूर्व पीएम इमरान खान के सौ से ज्यादा समर्थकों को पाकिस्तान और ब्रिटेन से सऊदी अरब भेजा गया था. खान और पीटीआई के अन्य नेताओं ने इस संबंध में पार्टी कार्यकर्ताओं को निर्देश दिए हैं. फैसलाबाद पुलिस ने कहा था कि नामजद लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. मामले में पुलिस ने पाकिस्तान दंड संहित की धारा 295ए (जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कृत्य अपने धर्म या धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाना) समेत अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज की है.

इमरान ने दी ये प्रतिक्रिया

वहीं, पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान ने शनिवार को एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में पीएम शरीफ के खिलाफ नारे लगाने वाले लोगों से खुद को दूर कर लिया था. इमरान खान ने कहा कि वो किसी को भी पवित्र स्थान पर नारे लगाने के लिए कहने की कल्पना भी नहीं कर सकते. इस घटना की व्यापक स्तर पर निंदा की जा रही है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें