1. home Hindi News
  2. world
  3. nri corona die in britain more than india see special report

क्या भारत से ज्यादा ब्रिटेन में भारतीय कोरोना से मरे, देखिए special report

By AvinishKumar Mishra
Updated Date
भारत से ज्यादा ब्रिटेन में भारतीय कोरोना से मरे
भारत से ज्यादा ब्रिटेन में भारतीय कोरोना से मरे
PTI

लंदन : ब्रिटेन में कोरोनावायरस के कारण भारत से अधिक अप्रवासी भारतीय मारे जा चुके हैं. यह खुलासा ब्रिटेन में अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन ने अपने एक बयान में किया है. ब्रिटेन में तकरीबन 200 से अधिक भारतीय के मारे जाने की सूचना है. हालांकि सरकार ने अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की है.

मिरर की रिपोर्ट के अनुसार रविवार तक ब्रिटेन में 20000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि डेढ़ लाख से अधिक लोग अब भी इस वायरस से संक्रमित है. वहीं 10000 से अधिक लोगों की हालात अब भी गंभीर बनी हुई है.

इसी बीच ब्रिटिश सरकार ने फरमान जारी किया है कि घर में बीमार या मरने वालों को कोरोना से मरने की बात नहीं मानी जायेगी. अस्पताल से पुष्टि के बाद ही कोरोनावायरस से संक्रमित या मौत माना जायेगा.

सीएनएन से बात करते हुए ब्रिटिश मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ चंद नागपाल ने बताया कि ब्रिटेन ने अप्रवासियों को कोरोनावायरस से अधिक खतरा है. यहां पर तकरीबन 40 प्रतिशत बेड पर एशिया और अन्य देशों के लोग भर्ती हैं. मेरा अनुमान है कि इसमें 10 से 20 प्रतिशत भारतीय भी शामिल हैं.

उन्होंने आगे कहा कि मौत की बात की जाये तो सरकार ने कोई आधिकारिक आंकड़ा तो जारी नहीं किया है, लेकिन मरने वालों में 10 से 40 प्रतिशत लोग अप्रवासी हैं. इसमें भारतीय लोगों की संख्या अधिक है.

बोरिस जॉनसन काम पर लौटे- ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन लंबे समय बाद आज काम पर लौट गये हैं. ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. बता दें कि बोरिस जॉनसन पिछले महीने कोरोना से संक्रमित पाते गये थे, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. हालांकि अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद भी वे होम क्वारेंटाइन पर थे.

भारत में अब तक 872 की मौत- मौत के आंकड़ों की बात की जाये तो भारत में अब तक 872 लोगों की मौत हुई है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत में बीते 24 घंटे में 46 लोगों ने दम तोड़ा है. वहीं अब तक संक्रमित मरीजों की संख्या 28000 के नजदीक पहुंच गयी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें