35.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

गाजा में इजराइली हमले में मारे गये एक ही परिवार के 76 सदस्य, अबतक 20000 से अधिक फलस्तीनी नागरिकों की मौत

इजराइली सेना की ओर से गाजा में दो मकानों पर किए गए हवाई हमले में एक ही परिवार के 76 सदस्य समेत 90 से अधिक फलस्तीनी मारे गए हैं. इजराइल की ओर किए गए हमले में अब तक 20,000 से अधिक फलस्तीनी नागरिकों की मौत हो चुकी है.

Israel Hamas War: इजराइली सेना की ओर से गाजा में दो मकानों पर किए गए हवाई हमले में एक ही परिवार के 76 सदस्य समेत 90 से अधिक फलस्तीनी मारे गए हैं. राहत एवं बचाव अभियान से जुड़े अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. इससे एक दिन पहले, संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने फिर चेतावनी दी थी कि गाजा में अब कोई भी जगह सुरक्षित नहीं है और इजराइल के लगातार हमले लोगों तक मानवीय सहायता पहुंचाने में बड़ी बाधा उत्पन्न कर रहे हैं. इजराइली सेना ने भी शनिवार को कहा कि सैनिकों ने गत सप्ताह में गाजा में सैकड़ों कथित आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है और उनमें से 200 से अधिक आतंकवादियों को पूछताछ के लिए इजराइल ले जाया गया है.

अबतक 20000 से अधिक लोगों की मौत

सेना ने कहा कि आतंकवादी समूह हमास और इस्लामिक जिहाद से कथित संबंध रखने वाले 700 से अधिक लोगों को अभी तक इजराइली जेलों में भेजा जा चुका है. चरमपंथी समूह हमास को खत्म करने के लिए गाजा में इजराइल की ओर से शुरू किए गए युद्ध में अब तक 20,000 से अधिक फलस्तीनी नागरिकों की मौत हो चुकी है. गाजा के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. शुक्रवार को हवाई हमलों में दो मकान नेस्तनाबूद कर दिए गए हैं जिनमें से एक गाजा सिटी में और दूसरा नुसरत के शहरी क्षेत्र में था.गाजा के नागरिक सुरक्षा विभाग के प्रवक्ता महमूद बासल ने कहा कि गाजा सिटी में हुए हमले में अल-मुगराबी परिवार के 76 सदस्य मारे गए. इस इमारत पर शुक्रवार का हमला इजराइल-हमास युद्ध के सबसे घातक हमलों में से एक था.

इजराइल ने गाजा पर तेज किये हमले

महमूद बासल ने इस हमले में मारे गए लोगों के नामों की एक आंशिक सूची प्रदान की जिसमें अल-मुगराबी परिवार के 16 घरों के मुखिया भी शामिल हैं. मृतकों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं. मृतकों में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के एक अनुभवी कर्मचारी इस्साम अल-मुगराबी, उनकी पत्नी और उनके पांच बच्चे शामिल हैं. बाद में शुक्रवार को नुसरत में स्थानीय टीवी पत्रकार मोहम्मद खलीफा के मकान पर हवाई हमला किया जिसमें उनकी और कम से कम 14 अन्य लोगों की मौत हो गयी. नजदीकी अल-अक्सा अस्पताल के अधिकारियों ने यह जानकारी दी. इस बीच, इजराइल ने गाजा में हमले और तेज कर दिए हैं तथा लाखों लोगों को अपना घर छोड़कर सुरक्षित जगह पर जाने के लिए कहा गया है. गाजा में होने वाली मौतें युद्ध से पहले की इस क्षेत्र की आबादी का लगभग एक प्रतिशत हैं.

इजराइल का हवाई और जमीनी आक्रमण हाल के इतिहास में सबसे विनाशकारी सैन्य अभियानों में से एक रहा है, जिसके परिणामस्वरूप गाजा की 23 लाख की आबादी में से 85 प्रतिशत लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शरण लेने के लिए मजबूर होना पड़ा है. संयुक्त राष्ट्र और अन्य एजेंसियों की ओर से बृहस्पतिवार को जारी की गई एक रिपोर्ट के अनुसार गाजा में पांच लाख से अधिक लोगों को भुखमरी का सामना करना पड़ रहा है. इजराइल में सात अक्टूबर के हमले में हमास ने करीब 1200 लोगों की हत्या करने के अलावा लगभग 240 लोगों का अपहरण कर लिया था. इजराइल ने तब तक लड़ाई जारी रखने का संकल्प लिया है जब तक कि हमास को गाजा में नष्ट करके सत्ता से हटा नहीं दिया जाता तथा सभी बंधकों को मुक्त नहीं करा लिया जाता.

Also Read: पुंछ हमलाः अखनूर में आतंकी घुसपैठ का पाकिस्तान कनेक्शन, ऐसे भटकाया सेना का ध्यान, फिर कराई घुसपैठ की कोशिश

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें