18.1 C
Ranchi
Thursday, February 22, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबड़ी खबरVIDEO : ज्योतिषाचार्य से जानें धनतेरस, छोटी दिवाली, दिवाली, गोवर्धन पूजा और भाई दूज पर दीप जलाने का विधान

VIDEO : ज्योतिषाचार्य से जानें धनतेरस, छोटी दिवाली, दिवाली, गोवर्धन पूजा और भाई दूज पर दीप जलाने का विधान

Diwali 2023 : देश भर में दिवाली के त्योहार की रौनक है. 10 नवंबर को धनतेरस और 12 को दीपावली है.धनतेरस, छोटी दिवाली, दिवाली, गोवर्धन पूजा और भाई दूज यह पंचपर्व का उत्सव है . कहा जाए तो पांचों दिन दीप जलाने का विधान है, आइए ज्योतिषाचार्य से समझते हैं किस दिन, कितने और कैसे दीप जलाने चाहिए.

Diwali 2023 : दीपावली का त्योहार यानी दीपोत्सव. धनतेरस, छोटी दिवाली, दिवाली, गोवर्धन पूजा और भाई दूज यह पंचपर्व का उत्सव है . पांचों दिन दीप जलाने का विधान है. ज्योतिषाचार्य स्वामी दिव्यानंद जी महाराज के अनुसार धनतेरस के दिन सबसे पहले घर में पूजन स्थल में माता लक्ष्मी के सामने घी के दिए जलाएं . सर्वप्रथम घर के पूजन स्थल में, घर के पानी वाले स्थान में, रसोई में, घर के मुख्य द्वार में पांच दिए जलाने चाहिए . घर के पास के मंदिर, देवालय, शिवालय में बट और पीपल वृक्ष के पास यदि कोई नदी तालाब हो तो वहां भी दीप जलाना चाहिए. कूड़े के ढेर के पास भी दीपक जलना चाहिए. छोटी दिवाली के दिन कम से कम 14 दिए जलाएं दीपावली के दिन प्रकाश उत्सव होने के कारण अपनी सामर्थ के अनुसार यथा संभव ज्यादा से ज्यादा दीपक जलाएं. मुख्य द्वार पर कम से कम 5 दीये जलाएं. इसके अतिरिक्त गोवर्धन पूजा, भैया दूज के दिन पांच-पांच दीपक भी जलाएं जा सकते हैं.

Diwali 2023: Festival of Diwali i.e. Deepotsav. Dhanteras, Chhoti Diwali, Diwali, Govardhan Puja and Bhai Dooj are the festivals of Panch Parva. There is a tradition of lighting lamps for all five days. According to Astrologer Swami Divyanand Ji Maharaj, on the day of Dhanteras, first of all light ghee lamps in front of Goddess Lakshmi at the place of worship at home.

First of all, five lamps should be lit in the worship place of the house, in the water area of ​​the house, in the kitchen and in the main entrance of the house. If there is a temple, temple, temple, pagoda or river pond near the Peepal tree near the house, then a lamp should be lit there also. A lamp should also be lit near the garbage heap.

Light at least 14 lamps on the day of Chhoti Diwali. Since Diwali is a festival of lights, light as many lamps as possible as per your capacity. Light at least 5 lamps at the main entrance. Apart from this, five lamps each can also be lit on the day of Govardhan Puja and Bhaiya Dooj.

Also Read: Dhanteras 2023 Live: धनतेरस पर दो घंटे ही पूजा का शुभ मुहूर्त, जानें पूजा विधि और धन वृद्धि के लिए उपाय

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें