29.5 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Bengal Ration Scam:राशन घोटाला मामले में ईडी द्वारा गिरफ्तार ज्योतिप्रिय मल्लिक फिलहाल मंत्री पद पर बने रहेंगे

लोकसभा चुनाव सामने हैं, इसलिए ममता बनर्जी ने पार्टी के नेताओं को के संगठनात्मक कार्यों में कोई कठिनाई न हो. ज्योतिप्रिया जो संगठनात्मक जिम्मेदारियां संभालती थीं, वह उत्तर 24 परगना के अन्य मंत्रियों को दे दी गई हैं.

राज्य के कथित रूप से राशन भ्रष्टाचार मामले में ईडी के हाथों गिरफ्तार पश्चिम बंगाल सरकार में वन मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक (Forest Minister Jyotipriya Mallik) अपने पद पर बने रहेंगे. फिलहाल उनका कामकाम वन राज्य मंत्री वीरबाहा हांसदा संभालेंगी. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व में राज्य सचिवालय में कैबिनेट की बैठक हुई. बैठक के दौरान ज्योतिप्रिय मल्लिक के संबंध में भी चर्चा की गयी. राज्य सचिवालय के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कैबिनेट की बैठक में ज्योतिप्रिय मल्लिक का मंत्री पद किसी और को सौंपने पर कोई चर्चा नहीं हुई. मुख्यमंत्री ने कहा है कि वन राज्य मंत्री वीरबाहा हांसदा ही फिलहाल विभाग का कामकाज देखेंगी. गौरतलब है कि इससे पहले राज्य के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी को गिरफ्तार किये जाने के बाद मंत्री पद से हटा दिया गया था और उनके विभाग का दायित्व किसी और को सौंप दिया गया था. हालांकि, बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि ज्योतिप्रिय मल्लिक को फंसाया गया है. ईडी व सीबीआई तृणमूल कांग्रेस नेताओं को परेशान कर रही है. 


पार्टी के पद पर भी बने रहेंगे ज्योतिप्रिय

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने ज्योतिप्रिय मल्लिक को मंत्री पद से नहीं हटाया है. इसी प्रकार, उनसे पार्टी का पद भी नहीं लिया गया है. वह उत्तर 24 परगना जिला के पार्टी अध्यक्ष बने रहेंगे. साथ ही बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने जिले के अन्य नेताओं से कहा कि वह पार्टी का कामकाज देखेंगे. लोकसभा चुनाव सामने हैं, इसलिए ममता बनर्जी ने पार्टी के नेताओं को के संगठनात्मक कार्यों में कोई कठिनाई न हो. ज्योतिप्रिया जो संगठनात्मक जिम्मेदारियां संभालती थीं, वह उत्तर 24 परगना के अन्य मंत्रियों को दे दी गई हैं. यानी सुजीत बोस, पार्थ भौमिक को अतिरिक्त संगठनात्मक जिम्मेदारी मिलने वाली है.

Also Read: ममता बनर्जी के विजया सम्मेलन में सुकांत मजूमदार व दिलीप घोष आमंत्रित, सूची में शुभेंदु अधिकारी का नाम नहीं
कालीपूजा के दौरान मंत्रियों को कानून-व्यवस्था पर नजर रखने का निर्देश

इस दिन कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को दिवाली के दौरान कानून-व्यवस्था पर नजर रखने का भी निर्देश दिया. उन्होंने मंत्रियों से कहा कि पुलिस प्रशासन तो अपने हिसाब से काम करेगा ही, साथ ही आप भी क्षेत्र की निगरानी करें. दरअसल, ममता बनर्जी ने पहले आशंका जतायी थी कि लोकसभा चुनाव से पहले राज्य में जानबूझकर हिंसा फैलायी जा सकती है. इसलिए उन्होंने मंत्रियों को काली पूजा के दौरान अतिरिक्त सावधानी बरतने की सलाह दी.

Also Read: West Bengal : बंगाल के अलीपुरद्वार में हिली धरती, रिक्टर स्केल पर 3.6 मापी गई तीव्रता
ज्योतिप्रिय ने फिर खुद को निर्दोष बताया, कहा : कुछ दिनों में हो जायेगा साफ

राशन वितरण घोटाले मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा गिरफ्तार किये गये वन मंत्री व पूर्व खाद्य मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक ने एक बार फिर खुद को निर्दोष बताया है. साॅल्टलेक के सीजीओ कॉम्प्लेक्स स्थित केंद्रीय जांच एजेंसी के कार्यालय से मल्लिक को कमांड हॉस्पिटल चिकित्सीय जांच के लिए ले जाया गया था. हॉस्पिटल जाने के दौरान पत्रकारों के सवालों के जवाब में मंत्री ने कहा कि “मैं केवल यह कहना चाहता हूं. मैं निर्दोष हूं. आप यह अच्छी तरह से जान लें. कुछ दिनों में यह साफ हो जायेगा.13 तारीख को अदालत में पेशी होगी. हर चीज क्लीयर हो जायेगा.” पत्रकारों ने जब सांसद अभिषेक बनर्जी को ईडी द्वारा तलब किये जाने को लेकर पूछा, तब उन्होंने स्पष्ट कुछ नहीं कहा, बल्कि पूछा कि “अभिषेक बनर्जी कौन? हमारे लीडर क्या?” इतना कहते ही वह कार में बैठ गये. इसके पहले भी मंत्री ने मीडिया के समक्ष खुद को बेगुनाह ही बताया था.

Also Read: विश्व भारती के वीसी ने मुख्यमंत्री ममता की साहित्य साधना पर किया व्यंग्यात्मक कटाक्ष ,भेजा पत्र

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें