25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

PHOTOS: पुलिस संस्मरण दिवस पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, गिरिडीह एसपी ने परिजनों को किया सम्मानित

गिरिडीह में पुलिस संस्मरण दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस दौरान एसपी समेत सभी ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी. दो शहीद के परिजनों को सम्मानित भी किया गया.

Undefined
Photos: पुलिस संस्मरण दिवस पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, गिरिडीह एसपी ने परिजनों को किया सम्मानित 7

पुलिस संस्मरण दिवस के मौके पर गिरिडीह के पपरवाटांड स्थित नए पुलिस लाइन में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस दौरान गिरिडीह एसपी दीपक कुमार शर्मा व अन्य पुलिस पदाधिकारियों ने शहीद स्मारक पर माल्यार्पण व पुष्प चढ़ा कर वीर शहीदों को श्रद्धांजलि दी.

Undefined
Photos: पुलिस संस्मरण दिवस पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, गिरिडीह एसपी ने परिजनों को किया सम्मानित 8

साथ ही दो शहीद के परिजनों को सम्मानित किया गया. एपसी ने कहा- गिरिडीह जिले से कर्त्तव्य के दौरान शहीद हुए तमाम जाबाज पुलिस कर्मियों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं. पुलिस संस्मरण दिवस के अवसर पर इस जिले से शहीद साथियों के परिजन आज हमलोगों के बीच उपस्थित हैं. मैं आप सबों का अभिवादन करता हूं. गिरिडीह पुलिस परिवार आपके साथ हर सुख-दुख में हमेशा खड़ा है. दिवगंत शहीद जवानों के आत्मशांति के लिए हम सभी प्रार्थना करते हैं.

Undefined
Photos: पुलिस संस्मरण दिवस पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, गिरिडीह एसपी ने परिजनों को किया सम्मानित 9

इस बाबत एसपी दीपक शर्मा ने बताया कि आज ही के दिन भारत में हर साल 21 अक्टूबर को पुलिस संस्मरण दिवस मनाया जाता है. इस साल भारत 62वां पुलिस संस्मरण दिवस मना रहा है. एसपी ने बताया कि सन् 1959 में लद्दाख के हॉट स्प्रिंग में सीमा की सुरक्षा में तैनात सीआरपीएफ की तीसरी बटालियन के जांबाज सैनिकों के एक छोटे से गश्ती दल पर चीनी सेना द्वारा भारी संख्या में घात लगाकर हमला किया गया था, लेकिन हमारे जवानों ने बहादुरी से डटकर चीनी सैनिकों का सामना किया. इस हमले में हमारे 10 सीआरपीएफ के जांबाज जवानों ने अपने प्राणों की आहूती दी थी और ज्यादातर जवान घायल हो गये थे और 07 की हालांत गंभीर थी.

Undefined
Photos: पुलिस संस्मरण दिवस पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, गिरिडीह एसपी ने परिजनों को किया सम्मानित 10

चीनी सैनिक गंभीर रूप से घायल जवानों को बंदी बनाकर अपने साथ ले गये बाकी अन्य जवान वहां से किसी तरह निकलने में सफल हुए. इस टुकड़ी का नेतृत्व करम सिंह कर रहे थे. इस घटना के बाद 13 नवंबर 1959 को शहीद हुए 10 पुलिस कर्मियों के पार्थिव शरीर को चीनी सैनिकों ने लौटा दिया था. भारतीय सेना ने उन 10 जवानों का अंतिम संस्कार हॉट स्प्रिंग्स में पूरे पुलिस सम्मान के साथ किया, इन्हीं शहीदों के सम्मान में हर साल 21 अक्टूबर को पुलिस संस्मरण दिवस मनाया जाता है.

Undefined
Photos: पुलिस संस्मरण दिवस पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, गिरिडीह एसपी ने परिजनों को किया सम्मानित 11

इस साल अपने कर्त्तव्य का निर्वहन करते हुए भारतवर्ष में 188 पुलिस व अर्द्धसैनिक बलों के जवान एवं पदाधिकारी शहीद हुए हैं. जिसमें झारखंड के एक पुलिस पदाधिकारी और एक जवान शामिल हैं. इनमें पुअनि अमित कुमार तिवारी व आरक्षी गौतम कुमार भी शामिल है. जिन्होंने चाईबासा जिले के टोगरी में नक्सलियों द्वारा किये गये कायरतापूर्ण हमले में नक्सलियों से लोहा लेते हुए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है.

Undefined
Photos: पुलिस संस्मरण दिवस पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, गिरिडीह एसपी ने परिजनों को किया सम्मानित 12

इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से गिरिडीह के एसपी दीपक कुमार शर्मा, एसडीपीओ सदर अनिल कुमार सिंह, डीएसपी संजय राणा, सार्जेंट मेजर राकेश रंजन समेत तमाम पुलिस पदाधिकारी शामिल हुए.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें