23.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

राज्यपाल ने मकंदगंज, हजारीबाग में 69वीं मध्याह्न भोजन रसोई का उद्घाटन किया

राज्यपाल ने कहा कि, अक्षय पात्र किचन की इस योजना से बच्चों का पोषण तो होगा ही, स्कूल में उनकी उपस्थिति भी बढ़ जाएगी. उन्होंने कहा कि, इस किचन में स्थानीय कृषकों से उत्पादित ताजा सब्जियों का उपयोग किया जाएगा.

Hazaribagh: राज्यपाल सी.पी. राधाकृष्णन ने मकंदगंज, हजारीबाग में 69वीं मध्याह्न भोजन रसोई (अक्षय पात्र किचन) का उद्घाटन किया. उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि, अक्षय पात्र किचन की योजना, एक योजना ही नहीं एक मौन क्रांति है जो बच्चों को आगे लाने में और बच्चों के भविष्य को संवारने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है. मनुष्य की पहली जरूरत भूख शांत करना है. स्वामी विवेकानंद जी ने कहा है सामने में जब कोई मनुष्य भूखा हो तो उसे भोजन देना चाहिए न की भाषण. भूखे होने की स्थिति में बातों को ग्रहण करने की क्षमता भी कम हो जाती है. देशभर में संचालित अक्षय पात्र किचन के द्वारा हर दिन लगभग 23 लाख बच्चों को भोजन मिलता है। यह मानवता की बहुत बड़ी सेवा है. राज्यपाल ने कहा कि, उन्होंने झारखंड के 24 जिलों के परिभ्रमण के दौरान पाया कि झारखंड में कुपोषण की समस्या है और इस समस्या से निजात पाने में अक्षय पात्र किचन अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. झारखंड खनिज सम्पदा से परिपूर्ण है. इसका उपयोग लोगों के भलाई के लिए एवं उनके जीवन स्तर को उठाने के लिए किया जाना चाहिए.

अक्षय पात्र किचन की इस योजना से बच्चों का पोषण तो होगा ही

राज्यपाल ने कहा कि, अक्षय पात्र किचन की इस योजना से बच्चों का पोषण तो होगा ही, स्कूल में उनकी उपस्थिति भी बढ़ जाएगी. उन्होंने कहा कि, इस किचन में स्थानीय कृषकों से उत्पादित ताजा सब्जियों का उपयोग किया जाएगा. इससे वे आर्थिक रूप से समृद्ध होंगे. शिक्षा के साथ बच्चों को पौष्टिक भोजन भी मिले इसलिए ‘पीएम पोषण योजना’ भी शुरू किया गया. माननीय प्रधानमंत्री जी ने खाना पकाने के लागत में 9.6 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी को मंजूरी दी है. उनके द्वारा कोरोना महामारी के समय ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ शुरू किया गया जिसके तहत अभी भी खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है.

Also Read: हजारीबाग डेली मार्केट में भीषण आग से डेढ़ दर्जन से अधिक दुकानें हुईं राख, करोड़ों का हुआ नुकसान

पुस्तकालय-सह-संग्रहालय निर्माण कार्य का भी शिलान्यास

राज्यपाल ने कहा कि, सभी घरों में शुद्ध पेयजल जलापूर्ति के लिए ‘जल जीवन मिशन’ शुरू किया गया है. इस योजना का आच्छादन 8 प्रतिशत से बढ़कर 29 प्रतिशत हो गया है. अगले दो वर्षों में 90 प्रतिशत आच्छादन का लक्ष्य रखा गया है. लोगों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए झारखंड में एम्स अस्पताल खोला गया है एवं अन्य अस्पतालों की बेहतरी के लिए लगातार कार्य किया जा रहा है. किसान अधिक से अधिक अन्न उत्पादन कर सकें, इसके लिए समुचित सिंचाई की व्यवस्था की जा रही है. राज्यपाल ने कहा कि, सरकार की योजनाओं में लोगों की सहभागिता से योजनाएं पुष्पित एवं पल्लवित होती हैं. राज्यपाल ने हजारीबाग जिला के विभिन्न 89 विद्यालयों में डीएमएफटी मद से किचन शेड निर्माण का शिलान्यास किया. उन्होंने डीएमएफटी मद से जिला परिषद चौक, हजारीबाग में पुस्तकालय-सह-संग्रहालय निर्माण कार्य का भी शिलान्यास किया

Also Read: 49 रुपए लगाकर करोड़पति बन रहे झारखंड के युवा, रातोंरात बदल जाती है किस्मत, लेकिन…

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें