26.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

छत्तीसगढ़ : 4 बार विधायक और 3 बार सांसद रहे डॉ चरणदास महंत, सक्ती विधानसभा सीट से लड़ रहे चुनाव

डॉ चरणदास महंत छत्तीसगढ़ के बड़े नेता हैं. विधानसभा के स्पीकर हैं. चार बार विधायक और तीन बार लोकसभा के सांसद रह चुके हैं. केंद्र में मंत्री और लोकसभा की कई समितियों में रह चुके हैं. लंबे अरसे बाद वर्ष 2018 में लड़ा था विधानसभा का चुनाव. जानें उनके बारे में.

छत्तीसगढ़ विधानसभा के स्पीकर डॉ चरणदास महंत वर्ष 1980 में पहली बार मध्यप्रदेश विधानसभा के लिए चुने गए. इसके बाद वर्ष 1985, वर्ष 1993 और वर्ष 2018 में भी विधायक बने. छत्तीसगढ़ विधानसभा के लिए पहली बार 2018 में चुने गए. इसके पहले तीन बार लोकसभा के लिए चुने गए. वर्ष 1998, वर्ष 1999 और वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में वह क्रमश: बारहवीं, तेरहवीं और पंद्रहवीं लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए. लोकसभा और विधानसभा की कई समितियों में रहे.

छत्तीसगढ़ के सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे नेताओं में एक हैं डॉ चरणदास महंत

जांजगीर-चांपा जिले के सारागांव में 13 दिसंबर 1954 को बिसाहू दास महंत के परिवार में जन्मे चरणदास महंत ने एमएससी, एमए, एलएलबी, पीएचडी की डिग्री ली है. उनका विवाह 23 नवंबर 1980 को ज्योत्सना महंत से हुआ. वह लोकसभा की सांसद हैं. डॉ चरणदास की चार संतानें (तीन पुत्री, एक पुत्र) हैं. कृषि एवं सामाजिक कार्यों से जुड़े हैं. उनकी रुचि लेखन, अध्ययन, भ्रमण, संगीत, कृषि, पेंटिंग तथा सामाजिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों का प्रचार-प्रसार करने में है.

‘उत्कृष्ट मंत्री’ का मिल चुका है पुरस्कार

डॉ चरणदास महंत को मध्यप्रदेश विधानसभा ने ‘उत्कृष्ट मंत्री’ के पुरस्कार से सम्मानित किया है. वर्ष 1985 में उन्हें भारत कृषक समाज ने ‘स्वर्ण पदक’ से नवाजा. वर्ष 1980 में डॉ महंत फेलो ऑफ जूलॉजिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया रहे. उन्होंने फ्रांस, जर्मनी, हांगकांग, इटली, जापान, मलेशिया, नेपाल, दक्षिण कोरिया, बेल्जियम, नीदरलैंड, लग्जमबर्ग, श्रीलंका, सिंगापुर, स्विट्जरलैंड, थाईलैंड, अमेरिका, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका और युगांडा की यात्रा कर चुके हैं.

Also Read: छत्तीसगढ़ बीजेपी ने कांग्रेस से छीन लिए इतने मुद्दे, ‘मोदी की गारंटी’ में की ये 20 बड़ी घोषणाएं

चार दशक से अधिक का है राजनीतिक जीवन

उनका सार्वजनिक एवं राजनीतिक जीवन चार दशक से अधिक का है. 1988-89 में उन्हें मध्यप्रदेश सरकार में कृषि मंत्री बनाया गया था. वर्ष 1993 से 1995 तक वह वाणिज्य कर विभाग में राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रहे. वर्ष 1995 से 1998 तक कैबिनेट मंत्री रहे. उनको गृह एवं जनसंपर्क विभाग की जिम्मेदारी दी गई थी. वर्ष 2004 में डॉ महंत को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया. वर्ष 2005 और 2006 में भी छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष रहे. मई 2008 में भी उन्हें प्रदेश कांग्रेस कमेटी का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया.

मनमोहन सिंह की सरकार में मंत्री रहे डॉ चरणदास महंत

डॉ मनमोहन सिंह के नेतृत्व में जब केंद्र में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की सरकार बनी, तो वर्ष 2011 में डॉ चरणदास महंत को कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग विभाग का राज्यमंत्री बनाया गया. 3 जून 2013 को उन्हें छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया. 27 जुलाई 2013 को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष डॉ महंत को बनाया गया. वर्ष 2018 में जब प्रदेश में चुनाव का वक्त आया, तो चुनाव प्रचार अभियान समिति का अध्यक्ष डॉ महंत को ही बनाया गया था.

Also Read: छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव : सात बार चुनाव जीत चुके हैं रवींद्र चौबे, 2013 को छोड़ कभी नहीं हारे

जनवरी 2019 में छत्तीसगढ़ विधानसभा के स्पीकर बने

वर्ष 2018 में प्रचंड बहुमत के साथ छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनी. चार जनवरी 2019 को डॉ महंत छत्तीसगढ़ विधानसभा के स्पीकर बने. वर्ष 2019 से 2021 तक विधानसभा की कार्य मंत्रणा समिति, नियम समिति, आचरण समिति एवं सामान्य प्रयोजन समिति के सभापति रहे.

लोकसभा की कई अहम समितियों में रहे

लोकसभा की भी अहम समितियों में रहे. 1998 से 1999 के बीच वह लोकसभा की विज्ञान एवं तकनीकी समिति, पर्यावरण एवं वन और खाद्य व तकनीकी उप समिति, कोयला मंत्रालय सलाहकार समिति के सदस्य रहे. वर्ष 2000 से 2004 तक रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय की सलाहकार समिति के सदस्य रहे. वर्ष 2004 में विज्ञान एवं तकनीकी समिति, पर्यावरण वन समिति के सदस्य रहे. वर्ष 2013-14 में डॉ महंत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति कल्याण समिति के सदस्य रहे.

Also Read: डॉ रमन सिंह से सत्ता छीनने वाले छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल पांच बार जीत चुके हैं विधानसभा चुनाव

विज्ञान व पर्यावरण जैसी समितियों के सदस्य रहे

वर्ष 2009 में उन्हें लोकसभा की विज्ञान एवं तकनीकी, पर्यावरण एवं वन समिति का सदस्य बनाया गया. इसी दौरान वह संसद सदस्यों के वेतन एवं भत्ते की संयुक्त समिति के अध्यक्ष रहे. कोयला केंद्रीय ग्रामीण विकास परिषद सलाह समिति के सदस्य रहे.

2018 में फिर से लड़ा विधानसभा चुनाव

वर्ष 1993 के बाद वर्ष 2018 में उन्हें छत्तीसगढ़ विधानसभा के चुनाव में कांग्रेस ने उतारा. सक्ती विधानसभा सीट से उन्हें टिकट मिला. डॉ महंत ने 52.57 फीसदी वोट हासिल करके कांग्रेस को बड़ी जीत दिलाई. सक्ती विधानसभा सीट पर कुल 1,96,828 वोटर थे. इनमें से 1,48,495 (75.44 फीसदी) वोटर्स ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया.

बीजेपी से छीनी सक्ती विधानसभा सीट

कांग्रेस पार्टी के डॉ चरणदास महंत को 78,058 (52.57 फीसद) वोट मिले, जबकि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के मेघाराम साहू को 48,012 (32.33 फीसदी) वोट मिले. अजीत जोगी की पार्टी जेसीसी (जे) के गौतम राठौर को 13,907 (9.37 फीसदी) और निर्दलीय उम्मीदवार कलेश्वर सिंह मरावी को 1,202 (0.81 फीसदी) वोट प्राप्त हुए.

Also Read: छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव : सिहावा में बीजेपी को फिर श्रवण मरकाम पर भरोसा, 2013 में पहली बार बने थे विधायक

2003 में जीते थे बीजेपी के मेघराम साहू

सक्ती विधानसभा सीट पर वर्ष 2003 में बीजेपी के मेघराम साहू ने जीत दर्ज की थी. वर्ष 2008 के चुनाव में कांग्रेस की सरोजा मनहरन राठौड़ ने यह सीट बीजेपी से छीनी. अगले चुनाव यानी वर्ष 2013 में सक्ती विधानसभा सीट पर बीजेपी के डॉ खिलावन साहू जीते, तो वर्ष 2018 में डॉ चरणदास महंत ने एक बार फिर इस सीट को कांग्रेस की झोली में डाल दिया.

पहली बार कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में जीतीं 68 सीटें

बता दें कि छत्तीसगढ़ में इसी महीने सात और 17 तारीख को विधानसभा के चुनाव हैं. छत्तीसगढ़ एवं अन्य चार राज्यों में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान हो चुका है. सात नवंबर को छत्तीसगढ़ में पहले चरण की वोटिंग होगी. इसमें 20 विधानसभा क्षेत्र के लोग वोट करेंगे. वहीं, 17 नवंबर को 70 विधानसभा सीटों के लिए मतदान कराया जाएगा. सभी 90 सीटों पर मतगणना तीन दिसंबर को होगी. बता दें कि वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी ने 68 सीटों पर जीत दर्ज की थी. बीजेपी को 15 सीटों पर जीत मिली थी. बाद में कांग्रेस की सीटें बढ़कर 71 हो गई, जबकि बीजेपी की सीटें घटकर 13 रह गई.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें