26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Masik Shivratri List: साल 2024 में मासिक शिवरात्रि कब-कब है? जानें तारीख, पूजा विधि-व्रत नियम और महत्व

हिन्दू धर्म में मासिक शिवरात्रि और महाशिवरात्रि का विशेष महत्व है. प्रत्येक महीने कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि मनाई जाती है. मासिक शिवरात्रि वर्ष के प्रत्येक महीने में एक बार और महाशिवरात्रि वर्ष में एक बार मनाते है, इस दिन व्रत करने से व्यक्ति का हर मुश्किल काम आसान हो जाता है.

Masik Shivratri 2024 Date : शिवरात्रि शिव और शक्ति के संगम का एक पर्व है. पंचाग के अनुसार हर महीने कृष्ण पक्ष के 14वें दिन यानि चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि मनाई जाती है. यह पर्व न केवल उपासक को अपनी इंद्रियों को नियंत्रित करने में मदद करता है, बल्कि उसे क्रोध, ईर्ष्या, अभिमान और लालच जैसी भावनाओं को रोकने में भी मदद करता है. मासिक शिवरात्रि हर महीने मनाई जाती है. वहीं हर साल फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को महाशिवरात्रि मनाई जाती है. पंचांग के अनुसार फाल्गुन महीने की मासिक शिवरात्रि को महाशिवरात्रि की मान्यता प्राप्त है.

मासिक शिवरात्रि व्रत विधि

हर महीने आने वाले कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि का व्रत रखा जाता है. मासिक शिवरात्रि का व्रत भगवान शिव को समर्पित है, जो भक्त मासिक शिवरात्रि करने की इच्छा रखते हैं, उन्हें मासिक शिवरात्रि का प्रारम्भ महाशिवरात्रि के दिन से करना चाहिए, इस व्रत को महिला और पुरुष दोनों कर सकते है. श्रद्धालुओं को शिवरात्रि की रात को जाग कर शिव जी की पूजा करनी चाहिए.

  • मासिक शिवरात्रि वाले दिन आप सूर्योदय से पहले उठकर स्नान आदि कर लें.

  • आप किसी मंदिर में जा कर भगवान शिव, माता पार्वती, गणेश जी, कार्तिक और नंदी की पूजा करें.

  • सबसे पहले आप शिवलिंग का रुद्राभिषेक जल, शुद्ध घी, दूध, शक़्कर, शहद, दही आदि से करें.

  • अब आप शिवलिंग पर बेलपत्र, धतूरा और श्रीफल चढ़ाएं. ध्यान रहे कि बेलपत्र अच्छी तरह साफ़ किये होने चाहिए.

  • आप भगवान शिव की धुप, दीप, फल और फूल आदि से पूजा करें.

  • शिव पूजा करते समय आप शिव पुराण, शिव स्तुति, शिव अष्टक, शिव चालीसा और शिव श्लोक का पाठ करें.

  • संध्या के समय आप फलहार कर सकते हैं. उपासक को अन्न ग्रहण नहीं करना चाहिए.

  • अगले दिन भगवान शिव की पूजा करें और दान आदि करने के बाद अपना उपवास खोलें.

Also Read: All Purnima Tithi List: साल 2024 में जनवरी से दिसंबर तक कब-कब है पूर्णिमा तिथि, जानें तारीख और शुभ मुहूर्त
मासिक शिवरात्रि का महत्व

हर महीने आने वाली मासिक शिवरात्रि का व्रत बहुत ही प्रभावशाली माना जाता है. मासिक शिवरात्रि में व्रत, उपवास रखने और भगवान शिव की सच्चे मन से आराधना करने से सभी मनोमनाएं पूरी होती हैं, इस दिन व्रत करने से हर मुश्किल कार्य आसान हो जाता है और जातक की सारी समस्याएं दूर होती हैं. मासिक शिवरात्रि के दिन की महिमा के बारे में यह भी कहा जाता है कि वो कन्याएं जो मनोवांछित वर पाना चाहती हैं, इस व्रत को करने के बाद उन्हें उनकी इच्छा अनुसार वर मिलता है और उनके विवाह में आ रही रुकावटें दूर हो जाती हैं. शिव पुराण के अनुसार जो भी सच्चे मन से इस व्रत को करता है उसकी सारी इच्छाएं पूरी हो जाती हैं. मासिक शिवरात्रि के दिन शिव पार्वती की पूजा व्यक्ति को हर तरह के कर्जों से मुक्ति दिलाती है.

साल 2024 में पड़ने वाले सभी शिवरात्रि की लिस्ट

  • 09 जनवरी 2024 दिन मंगलवार को मासिक शिवरात्रि

  • 08 फरवरी 2024 दिन गुरुवार को मासिक शिवरात्रि

  • 08 मार्च 2024 दिन शुक्रवार को मासिक शिवरात्रि

  • 07 अप्रैल 2024 दिन रविवार को मासिक शिवरात्रि

  • 06 मई 2024 दिन सोमवार को मासिक शिवरात्रि

  • 04 जून 2024 दिन मंगलवार को मासिक शिवरात्रि

  • 04 जुलाई 2024 दिन गुरुवार को मासिक शिवरात्रि

  • 02 अगस्त 2024 दिन शुक्रवार को मासिक शिवरात्रि

  • 01 सितंबर 2024 दिन रविवार को मासिक शिवरात्रि

  • 30 सितंबर 2024 दिन सोमवार को मासिक शिवरात्रि

  • 30 अक्टूबर 2024 दिन बुधवार को मासिक शिवरात्रि

  • 29 नवंबर 2024 दिन शुक्रवार को मासिक शिवरात्रि

  • 29 दिसंबर 2024 दिन रविवार को मासिक शिवरात्रि

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें