19.1 C
Ranchi
Thursday, February 22, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeटेक्नोलॉजीALERT: हाई रिटर्न के वादे पर 3 एंड्रॉयड ऐप्स ने कर डाला 150 करोड़ का फ्रॉड; कहीं आप भी...

ALERT: हाई रिटर्न के वादे पर 3 एंड्रॉयड ऐप्स ने कर डाला 150 करोड़ का फ्रॉड; कहीं आप भी तो झांसे में नहीं आये?

Google Play Store पर तीन सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन - पावर बैंक ऐप, टेस्ला पावर बैंक ऐप, ईजप्लान को लगाया. इन ऐप्स के जरिये लोगों से पैसे इन्वेस्ट करने के लिए कहा जाता था. जैसे ही लोग ऐप में अमाउंट ट्रांसफर करते थे, तो ये शातिर ठग उस अकाउंट को सीज कर सारा पैसा अपने कब्जे में ले लेते थे.

Investment App Fraud : मार्केट में निवेश के नाम पर फ्राॅड ( Investment Fraud ) हो रहे हैं. लोगों की गाढ़ी कमाई पर हाथ साफ करनेवाले इतने शातिर हैं कि इस काम के लिए ऐप ( Mobile App Fraud ) भी तैयार कर डाला है. इस बीच ईडी ने 3 एंड्रॉयड ऐप्लिकेशंस ( Android Application ) को सीज किया है, जो निवेश के नाम पर लोगों से पैसे ठग ( Beware of Investment Fraud ) रहे थे.

प्रवर्तन निदेशालय ( Enforcement Directorate ) ने वैभव दीपक शाह, सागर डायमंड्स, आरएचसी ग्लोबल एक्सपोर्ट्स और उनके सहयोगियों के खिलाफ धन शोधन निवारण अधिनियम, पीएमएलए ( Prevention of Money Laundering Act , PMLA ) 2002 के प्रावधानों के तहत मुकदमा दर्ज किया है और तथाकथित पावर बैंक ऐप धोखाधड़ी ( Power Bank App Fraud ) मामले में कुल 59.44 करोड़ की संपत्ति कुर्क ( Assets Attached ) की है.

Also Read: ALERT: आपके फोन से निजी जानकारी चुरा रहा यह वायरस, बच कर रहें

ईडी ( Enforcement Directorate , ED ) ने यह कार्रवाई स्पेशल सेल दिल्ली पुलिस , उत्तराखंड पुलिस और कर्नाटक पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर के आधार पर की है. ईडी ने बताया है कि तीन ऐप्स के नाम पर पैसा ठगा ( Mobile App Fraud ) जा रहा था.

ईडी ( ED ) ने बताया कि कुछ चीनी जालसाज ( Chinese Fraud ) लोग भारतीय लोगों के साथ मिलकर देशवासियों को चूना लगा रहे थे. इसके लिए उन्होंने कुछ कंपनियों के चार्टर्ड अकाउंटेंट्स की मदद से भारत में कई फर्जी कंपनियां ( Fake Company ) बनायीं और जनता को उनके निवेश पर हाई रिटर्न का लालच देने के लिए मोबाइल ऐप्स ( Fake Mobile App ) बनाये.

Also Read: Google Chrome यूजर्स को सरकार ने किया अलर्ट, अपना ब्राउजर तुरंत करें अपडेट

गूगल प्ले स्टोर ( Google Play Store ) पर तीन सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन – पावर बैंक ऐप ( Power Bank App ) , टेस्ला पावर बैंक ऐप ( Tesla Power Bank App ) , ईजप्लान (Ezplan) को लगाया. इन ऐप्स के जरिये लोगों से पैसे इन्वेस्ट ( Invest Money ) करने के लिए कहा जाता था. जैसे ही लोग ऐप में अमाउंट ट्रांसफर करते थे, तो ये शातिर ठग उस अकाउंट को सीज कर सारा पैसा अपने कब्जे में ले लेते थे.

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने जून 2021 में प्ले स्टोर पर नकली ऐप्स का उपयोग कर कथित तौर पर 150 करोड़ की धोखाधड़ी करने के आरोप में कई लोगों को गिरफ्तार किया था. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, ये एप्लिकेशन अनजान ग्राहकों से पैसे लेने के बाद उनके अकाउंट को सीज कर देते थे.

Also Read: YouTube Shorts से पैसे कैसे कमाएं? ये टिप्स आएंगे आपके काम

ईडी ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए कई जगह छापे मारे और खुलासा किया था कि इस मामले से जुड़े आरोपियों और संस्थाओं ने फर्जी आयात के बहाने विदेश में भारी धनराशि भेजी थी. ईडी ने इस मामले में 10.34 करोड़ रुपये की संपत्ति बरामद की थी. इसके साथ ही 14.81 करोड़ रुपये की कुल शेष राशि वाले बैंक खाते भी जब्त कर लिया गया था.

इस मामले में फिलहाल तीन लोगों के खिलाफ विशेष अदालत, पीएमएलए, नयी दिल्ली में मुकदमा चल रहा है. ध्यान रहे कि कभी भी ऐसे ट्रेडिंग ऐप में इन्वेस्ट न करें, जो आपको कम समय में ज्यादा रिटर्न देने की बात कहते हैं. हमेशा ऐप्स को भरोसेमंद जगहों से ही डाउनलोड करें और कहीं भी पैसा लगाने से पहले पूरी सावधानी बरतें.

Also Read: Google Map का इस्तेमाल मानसून के दौरान संभल कर करें, इस राज्य की पुलिस ने यूजर्स को किया अलर्ट

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें