1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. tathagata roy to submit report on defeat of bjp in bengal chunav 2021 mtj

बंगाल चुनाव 2021 में हार के कारणों पर भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व को रिपोर्ट सौंपेंगे तथागत राय

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
तथागत राय
तथागत राय
File Photo

कोलकाता : पश्चिम बंगाल चुनाव 2021 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हार पर पार्टी के वरिष्ठतम नेताओं में शुमार तथागत राय एक रिपोर्ट सौंपेंगे. त्रिपुरा और मेघालय के राज्यपाल रहे तथागत जल्द ही अपनी रिपोर्ट के साथ दिल्ली जायेंगे और केंद्रीय नेतृत्व को चुनाव में हार के कारणों पर विस्तृत रिपोर्ट सौंपेंगे.

श्री राय ने कहा है कि बंगाल चुनाव में भाजपा की हार के कारणों की उन्होंने पड़ताल की है और उस पर एक रिपोर्ट भी तैयार की है. दिल्ली में लॉकडाउन के खत्म होने के बाद वह दिल्ली जायेंगे और केंद्रीय नेताओं को अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे. चुनाव परिणाम आने के बाद से ही बंगाल भाजपा में अंदरूनी कलह सतह पर आने लगी थी.

बंगाल चुनाव परिणाम के तुरंत बाद तथागत राय ने प्रदेश भाजपा के शीर्ष नेताओं और प्रभारियों को इस हार के लिए जिम्मेदार ठहराया था. श्री राय ने भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष, राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव (संगठन) शिव प्रकाश और राष्ट्रीय सचिव अरविंद मेनन पर हार का ठीकरा फोड़ा था.

तथागत राय ने आरोप लगाया था कि हेस्टिंग्स और 7 स्टार होटलों में बैठकर टिकट बांटे गये. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) से भाजपा में आये कचड़ा को चुनाव के मैदान में पार्टी के टिकट पर उतार दिया गया. श्री राय ने 80 के दशक से वैचारिक रूप से पार्टी से जुड़े समर्पित कार्यकर्ताओं एवं स्वयंसेवकों की रक्षा और सुरक्षा के लिए आगे नहीं आने वाले पार्टी नेताओं की आलोचना भी की है. इन्हें लगातार तृणमूल के लोगों ने प्रताड़ित किया है. ये लोग हिंसा का शिकार हुए हैं.

एक के बाद एक कई ट्वीट करने के बाद तथागत राय ने एक और ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने कहा कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने उन्हें दिल्ली बुलाया है. यह पूछे जाने पर कि बंगाल के शीर्ष नेताओं के बारे में अब भी उनकी राय वही है, जो चुनाव के बाद थी, श्री राय ने कहा कि भाजपा इन्हीं लोगों की अक्षमता की वजह से बंगाल हारी. इसके आगे मैं कुछ भी नहीं कहना चाहता.

तथागत राय ने कहा कि उन्होंने चुनाव परिणामों की समीक्षा की है. इस पर एक रिपोर्ट तैयार की है और उस रिपोर्ट को वह केंद्रीय नेतृत्व के समक्ष रखेंगे. श्री राय ने कहा कि उन्होंने ये बातें सार्वजनिक रूप से कहीं, ताकि केंद्रीय नेतृत्व इन मुद्दों पर मंथन करे. श्री राय ने कहा कि उन्हें लगता है कि तृणमूल कांग्रेस से भाजपा में आये कई नेता अपनी पुरानी पार्टी में लौट सकते हैं.

213 सीटें जीतकर तीसरी बार सत्ता में लौटी तृणमूल

उल्लेखनीय है कि भाजपा ने बंगाल चुनाव में 200 सीटें जीतने की तैयारी की थी, लेकिन उसे महज 77 सीटों पर जीत मिल पायी. ममता बनर्जी की अगुवाई वाली सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस 213 सीटें जीतकर लगातार तीसरी बार सत्ता में लौटी. कांग्रेस और लेफ्ट को एक भी सीट पर जीत नहीं मिली. अशोक चव्हाण की अगुवाई वाली 5 सदस्यीय समिति ने कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी को बंगाल चुनाव पर अपनी रिपोर्ट पहले ही सौंप चुकी है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें