1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. school reopen in west bengal latest news physical classes closed in many schools due to corona infection rising again

School Reopen News: कोरोना संक्रमण को देखते हुए बंगाल के इन स्कूलों में फिजिकल क्लास बंद, देखें

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
School Reopen News
School Reopen News
prabhat khabar

कोलकाता: राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने गत 12 फरवरी से सीनियर छात्रों के लिए स्कूल कैंपस खोलने की बात कही थी, उसके बाद स्कूल खोले भी गये. निजी स्कूलों ने नया शैक्षणिक सत्र परिसर में शुरू करने का फैसला किया था. अब फिर से कोविड-19 के मामलों में वृद्धि होने के कारण इन स्कूलों में फिजिकल कक्षाओं को रद्द कर दिया गया है. स्कूल बंद करने को लेकर कुछ स्कूल मैनेजमेंट की अनुमति के बाद फैसला लेंगे.

मॉडर्न हाई स्कूल फॉर गर्ल्स, सेंट जेम्स स्कूल और जूलियन डे स्कूल की ओर से यह सूचना दी गयी है कि परिसर में कक्षाएं नहीं होंगी. कलकत्ता गर्ल्स हाई स्कूल, द हेरिटेज स्कूल और साउथ प्वाइंट जैसे स्कूल अगले सप्ताह इसका फाइनल फैसला लेंगे. इससे पहले, मॉडर्न हाई स्कूल फॉर गर्ल्स की ओर से 6 अप्रैल से दसवीं और बारहवीं कक्षा के छात्रों को बुलाने का फैसला किया था लेकिन अब इसको रद्द कर दिया गया है. यहां अप्रैल के अंत तक ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित की जायेंगी. स्कूल महीने के अंत की स्थिति की समीक्षा करेगा.

इस विषय में मॉडर्न हाई स्कूल फॉर गर्ल्स की प्रिंसिपल दमयंती मुखर्जी ने बताया कि वर्तमान स्थिति को देखकर बच्चों और शिक्षकों की सुरक्षा के मद्देनजर फिलहाल सभी को नहीं बुलाया जा रहा है. जिन छात्राओं के माता-पिता ने सहमति दी है, केवल वे स्कूल की कक्षाओं में भाग लेंगे. बाकी ऑनलाइन कक्षाएं लाइव स्ट्रीमिंग के माध्यम से जारी रहेंगी.

एक निजी स्कूल के प्रिंसिपल ने कहा कि हम बच्चों की सुरक्षा को लेकर काफी चिंतित हैं. रिस्क पर उनको नहीं बुलाया जा सकता है. कक्षा 12 वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाएं अप्रैल में आयोजित की जायेंगी, वह भी एक-एक ग्रुप में उनको बुलाया जायेगा. आइसीएसइ (कक्षा 10वीं) और आइएसइ (कक्षा 12वीं) की थ्योरी परीक्षा और सीबीएसइ की (कक्षा 10वीं और 12वीं) की परीक्षा 4, 5 मई से शुरू होंगी. बोर्ड की परीक्षाओं को लेकर स्कूल भी चिंतित हैं.

सेंट जेम्स के प्रिंसिपल टेरेंस आयरलैंड ने बताया कि शुरू में हमने छात्रों को बुलाने के बारे में सोचा था, लेकिन अब फैसला बदलना पड़ा. उन्होंने कहा कि अगर एक भी छात्र संक्रमित हो जायेगा, तो स्कूल को बंद करना होगा, जो बोर्ड परीक्षाओं को प्रभावित कर सकता है. ध्यान रहे कि तीन स्कूलों में शिक्षकों के पॉजीटिव पाये जाने के बाद स्कूल को बंद करना पड़ा. इससे अन्य स्कूल भी सीनियर छात्रों के लिए कैंपस में क्लासेज को लेकर दुविधा में पड़ गये हैं.

Posted by- Aditi Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें