1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. khoon se lathpath bengal 37 bjp workers killed in west bengal after election 2021 claims dilip ghosh mtj

खून से लथपथ बंगाल: चुनाव परिणाम के बाद 37 भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्‍या हुई, दिलीप घोष का दावा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष
बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष
Social Media

कोलकाता : भारतीय जनता पार्टी के पश्चिम बंगाल प्रदेश अध्‍यक्ष ने दावा किया है कि बंगाल चुनाव 2021 के परिणाम घोषित होने के बाद से पार्टी के 37 कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गयी है. उन्होंने यह भी कहा कि पिछले 5 साल में बंगाल में 166 भाजपा कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार दिया गया.

बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि विगत 5 वर्षों में पश्चिम बंगाल में 166 भाजपा कार्यकर्ताओं ने बलिदान दिया है और विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद प्रदेश में 37 पार्टी कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है.

भाजपा की उत्तर प्रदेश इकाई ने मंगलवार को अपने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद के माहौल को लेकर वर्चुअल माध्‍यम से चर्चा की और यह दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रायोजित हिंसा फैला रही है.

भाजपा राज्‍य मुख्‍यालय के बयान के अनुसार, उत्तर प्रदेश के कार्यकर्ताओं के साथ ‘खून से लथपथ बंगाल के परिदृश्य’ विषय पर पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने चर्चा की. इसमें भाजपा राज्य मुख्यालय लखनऊ से भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह एवं प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल शामिल हुए.

बयान के अनुसार, पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्‍यक्ष दिलीप घोष ने उत्तर प्रदेश के कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश से आप सभी ने विधानसभा चुनाव में पहुंचकर जो परिश्रम किया, उसका परिणाम है कि भाजपा बंगाल में 77 विधानसभा सीटें जीती है.

श्री घोष ने कहा कि बंगाल की पहचान क्रांतिकारियों, आध्यात्मिक संतों, समाज सुधारकों, रवींद्र संगीत, हरि संकीर्तन गंगासागर से कालीघाट तक विस्तृत साधना की भूमि तथा मिष्ठान्न की भूमि के रूप में है, परंतु दुर्भाग्य से आज बंगाल खून से लथपथ है, बंगबंधु की पीड़ा है तथा चारों ओर हाहाकार है.

उन्‍होंने कहा कि बंगाल में जब भाजपा कार्यकर्ता पार्टी के काम से घर से निकलता है, तो उसे नहीं पता होता कि वह रात को घर पहुंचेगा भी या नहीं. घोष ने यह भी दावा किया कि विगत पांच वर्षों में 166 भाजपा कार्यकर्ताओं ने बलिदान दिया है. विधानसभा चुनाव 2021 के परिणाम आने के बाद 37 पार्टी कार्यकर्ताओं की हत्या हुई, पांच वर्षों में 30,000 से अधिक फर्जी मुकदमे हमारे कार्यकर्ताओं पर दर्ज किये गये.

बंगाल में तृणमूल के गुंडे कर रहे हैं हत्या

भाजपा की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के गुंडे हत्याएं कर रहे हैं, चारों तरफ दहशत है. ऐसे वातावरण में बंगाल के कार्यकर्ता देश के सम्मान के लिए, बंगाल के सांस्कृतिक सम्मान के लिए तथा भाजपा की विचारधारा के लिए कार्य कर रहे हैं और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के नेतृत्व में पार्टी का झंडा लेकर आगे बढ़ रहे हैं.

उन्‍होंने कहा कि देश व उत्तर प्रदेश का भाजपा परिवार आपके साथ है और कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़ेगा. वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर आयोजित चर्चा का संचालन एवं अतिथियों का परिचय उत्तर प्रदेश भाजपा के महामंत्री अमरपाल मौर्य ने किया.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें