25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

व्यावसायिक इमारतों की छत का अतिक्रमण करना अवैध : मेयर

महानगर में शुक्रवार एक्रोपोलिस मॉल में आग लग गयी थी. इससे पहले पार्क स्ट्रीट स्थित एक इमारत में आग लगी थी. हालांकि, इन दोनों ही घटनाओं में किसी भी व्यक्ति को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचा है.

कोलकाता.

महानगर में शुक्रवार एक्रोपोलिस मॉल में आग लग गयी थी. इससे पहले पार्क स्ट्रीट स्थित एक इमारत में आग लगी थी. हालांकि, इन दोनों ही घटनाओं में किसी भी व्यक्ति को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचा है. इस संबंध में शनिवार को निगम में मेयर फिरहाद हकीम से पूछे जाने पर उन्होंने निगम में संवाददाताओं को बताया कि एक्रोपोलिस की छत पर स्थित रसोई घर से आग फैली थी. उन्होंने बताया कि छत पर रसोई घर कैसे बनाया गया. इसके लिए निगम या दमकल विभाग से अनुमति ली गयी थी या नहीं, इसकी जांच दमकल विभाग कर रहा है.

मेयर ने बताया कि व्यावसायिक इमारतों की छत को दखल करना अवैध है. इमारत मालिक भी छत का अतिक्रमण नहीं कर सकते. मेयर ने बताया कि पार्क स्ट्रीट इलाके में कई व्यवसायिक इमारतों की छतों पर उसके मालिकों का अवैध कब्जा है. उन्होंने बताया कि निगम के बिल्डिंग विभाग को निर्देश दिया गया है कि वार्ड स्तर ऐसी व्यावसायिक इमारतों का सर्वे किया जाये. सर्वे के बाद बिल्डिंग विभाग ने निगम को बताया कि कितनी इमारतों की छतों पर अवैध कब्जा है.

मेयर ने बताया कि व्यावसायिक इमारतों की छतों को खुला रखना होगा कि किसी इमारत में आग लगने पर छत के जरिये फंसे लोगों को बचाया जा सके.

अतिक्रमण पर रोक के लिए कानून बनाने की भी जरूरत

मेयर ने बताया कि व्यावसायिक इमारतों की छतों पर अतिक्रमण पर रोक लगाये के लिए एक कानून भी बनाये जाने की जरूरत है. उन्होंने बताया कि बिल्डिंग विभाग के अधिकारी व्यावसायिक इमारतों के सर्वे के दौरान यह भी सुनिश्चित करेंगे कि इमारतों में आपातकालीन सीढ़ी है भी या नहीं. साथ ही यह भी बताया कि बिल्डिंग विभाग से रिपोर्ट मिलने के बाद आगे दमकल विभाग के आला अधिकारियों के साथ बैठक की जायेगी एवं आगे कानून बनाये जाने के संबंध में विभाग के साथ चर्चा की जायेगी.

दमकल अधिकारियों ने लिया एक्रोपोलिस मॉल का जायजा

कोलकाता. महानगर के कसबा थाना क्षेत्र स्थित राजडांगा मेन रोड स्थित एक्रोपोलिस मॉल में शुक्रवार अपराह्न आग लगी थी. घटना के अगले दिन दमकल विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने माॅल का जायजा लिया. एक अधिकारी ने बताया कि गत शुक्रवार को आग पर पूरी तरह से नियंत्रण पाने के बाद वहां फॉरेंसिक विभाग की टीम आयी थी. टीम ने नमूना संग्रह किया था. इधर, दमकल विभाग ने मॉल प्रबंधन से गुरुवार से शुक्रवार तक मॉल में लगे सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग देने को कहा है. साथ ही फायर ऑडिट की रिपोर्ट भी माॅल प्रबंधन से मांगी गयी है. दमकल विभाग यह भी जानना चाहता है कि मॉल में अग्निशमन व्यवस्था की जांच के लिए अंतिम बार मॉक ड्रिल कब हुआ था. फिलहाल मॉल के जिस हिस्से में आग लगी थी, उसे सील कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि फिलहाल मॉल को लोगों के लिए खोला नहीं जायेगा. गौरतलब है कि गत शुक्रवार को आग मॉल की तीसरी मंजिल पर स्थित फूड कोर्ट में लगी थी, जबकि मॉल में मौजूद लोगों के अलावा सुरक्षाकर्मियों का भी कहना था कि आग यहां एक बुक स्टोर में लगी थी, जो फैलकर पास के फूड कोर्ट को अपनी चपेट में ले ली. दमकल विभाग के 16 इंजनों की मदद से आग पर काबू पाया जा सका.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें