24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

संदेशखाली में नदी से तृणमूल कर्मी का शव बरामद, इलाके में तनाव

तृणमूल नेता कौशिक दत्त ने कहा कि बशीरहाट में हार के बाद से भाजपा फिर से संदेशखाली में अशांति फैलाने की कोशिश कर रही है. इसलिए ऐसी घटना को अंजाम दिया गया है. वहीं दूसरी ओर स्थानीय भाजपा नेता शांतनु चक्रवर्ती ने तृणमूल के आरोप को बेबुनियाद करार दिया है.

बशीरहाट, मनोरंजन सिंह : लंबे समय तक सुर्खियों में रहे उत्तर 24 परगना के संदेशखाली में फिर इलाके में तनाव देखा गया. सोमवार को संदेशखाली (Sandeshkhali) थानांतर्गत छोटो कलागाछी नदी से एक तृणमूल कर्मी का शव बरामद किया गया है. घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है. सुबह से ही इलाके में तनाव है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, मृत तृणमूल कर्मी का नाम हफीजुल मोल्ला (32) है. वह बेरमजूर दो नंबर ग्राम पंचायत के रामपुर बागदी पाड़ा का रहनेवाला था. बताया जाता है कि अंतिम बार उसे इलाके के ही एक युवक के साथ देखा गया था. फिर उसका कोई पता नहीं चला और सुबह नदी में लोगों ने उसका शव देखा. फिर स्थानीय लोगों ने तुरंत पुलिस को खबर दी. सूचना पाकर मौके पर पुलिस पहुंची. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

तृणमूल ने भाजपा पर लगाया फिर से अशांति फैलाने की कोशिश का आरोप

मृतक के परिवारवालों ने आरोप लगाया है कि उसकी हत्या कर शव नदी में फेंका गया है. मृतक के परिवारवालों ने पिंटू मंडल के खिलाफ हत्या का आरोप लगाया है. घटना से फिर से संदेशखाली के बेरमजूर ग्राम पंचायत के बागदी पाड़ा में सुबह से ही तनाव है.स्थानीय तृणमूल नेता कौशिक दत्त ने कहा कि बशीरहाट में हार के बाद से भाजपा फिर से संदेशखाली में अशांति फैलाने की कोशिश कर रही है. इसलिए ऐसी घटना को अंजाम दिया गया है. वहीं दूसरी ओर स्थानीय भाजपा नेता शांतनु चक्रवर्ती ने तृणमूल के आरोप को बेबुनियाद करार दिया है. उनका कहना है कि पुलिस मामले की निष्पक्ष जांच करे, सच सामने आ जायेगा. तृणमूल भाजपा पर गलत आरोप लगी है.

West Bengal Assembly : राज्यपाल बोस ने चोपड़ा की घटना पर ममता बनर्जी से मांगी रिपोर्ट, भाजपा का विधानसभा परिसर में धरना जारी

पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी

पुलिस का कहना है कि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पायी है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है. मालूम रहे कि संदेशखाली में लोकसभा चुनाव के पहले से ही कथित तौर पर तृणमूल नेताओं के खिलाफ नारी उत्पीड़न से लेकर जमीन हड़पने के आरोप सामने आने के बाद से लगातार कई दिनों तक आंदोलन चला था, जो बंगाल ही नहीं बल्कि देश में सुर्खियों में रहा था.

Modi Bihar Visit: नरेन्द्र मोदी 19 को आयेंगे बिहार, यूनिवर्सिटी ऑफ नालंदा के कार्यक्रम में होंगे शामिल

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें