1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal latest news from today 10093 voters of the district be able to vote on ballot paper from home

Bengal Election 2021: गुरुवार से जिले के 10,093 मतदाता घर बैठ बैलट पेपर पर कर सकेंगे मतदान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal Election 2021
Bengal Election 2021
Prabhat Khabar

आसनसोल: जिले के नौ विधानसभा क्षेत्रों में गुरुवार से 80 साल उम्र से अधिक और 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग नागरिकों के लिए बैलेट पेपर के माध्यम से मतदान की प्रक्रिया आरम्भ होगी. यह कार्य 21 अप्रैल तक चलेगा. इस बीच यदि सभी का वोट संग्रह नहीं होता है तो कार्य पूरा करने के लिए एक दिन का और समय बढ़ाया जाएगा.

कुल 180 टीम को इस कार्य में नियुक्त किया गया है. हर टीम में दो मतदान कर्मी, एक माइक्रो ऑब्जर्वर, एक वीडियो कैमरामैन और चार केंद्रीय सशस्त्र पुलिस फोर्स (सीएपीएफ) के जवान शामिल रहेंगे. जिले में 80 साल से अधिक उम्र वाले 7749 और 40 प्रतिशत से अधिक 2344 दिव्यांग पहली बार घर में ही बैठकर मतदान करेंगे.

सनद रहे कि चुनाव आयोग ने मतदान की प्रक्रिया में सभी की भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से पहली बार 80 वर्ष से अधिक उम्रवाले और 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यंगों को घर पर ही बैठकर मतदान करने की व्यवस्था की है. पिछले चुनावों में यह आंकड़ा उभर कर आया कि अधिकांश बुजुर्ग और दिव्यांग बूथों में जाने-आने की समस्या को लेकर मतदान की प्रक्रिया में भागीदारी नहीं कर रहे हैं.

जिसके कारण चुनाव आयोग ने इनलोगों के लिए घर में ही बैठकर मतदान करने की सुविधा कर दी. मतदाता सूची के आधार पर बूथ लेवल अधिकारी (बीएलओ) इन लोगों को चिन्हित कर इन्हें फॉर्म डी मुहैया कराएंगे. फॉर्म डी में अवेदन के आधार पर ही इन्हें घर में बैठकर मतदान करने की सुविधा मिली है.

पांडवेश्वर विधानसभा में फॉर्म डी के आधार पर 80 साल से अधिक उम्रवाले 695 वोटर और 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग वाले 435 कुल 1130 वोटर, दुर्गापुर पूर्व में 970 और 238 कुल 1208 वोटर, दुर्गापुर पश्चिम में 1083 और 236 कुल 1319 वोटर, रानीगंज में 777 और 243 कुल 1020 वोटर, जामुड़िया में 489 और 301 कुल 790 वोटर, आसनसोल दक्षिण में 973 और 230 कुल 1203 वोटर, आसनसोल उत्तर में 1284 और 155 कुल 1439 वोटर, कुल्टी में 521 और 97 कुल 618 वोटर तथा बाराबनी विधानसभा क्षेत्र में 80 वर्ष उम्र से अधिक 957 और 40 प्रतिशत से अधिक 409 दिव्यंगों के घर-घर जाकर वोट संग्रह किया जायेगा.

जिले के नौ विधानसभा क्षेत्रों में कुल 7749 बुजुर्ग और 2344 दिव्यंगों का वोट संग्रह करने के लिए कुल 180 टीमों को कार्य पर लगाया गया है. हर विधानसभा क्षेत्र में 20 टीम इस कार्य को 15 से 21 अप्रैल तक पूरा करेगी. हर टीम में एक माइक्रो ऑब्जर्वर, दो मतदान कर्मी, एक वीडियो कैमरामैन और चार सीएपीएफ के जवान शामिल होंगे. मतदाता के घर पर जाकर चुनाव कर्मी लिफाफा में बंद बैलेट पेपर मतदाता को देंगे.

मतदाता उसमें पसंदीदा उम्मीदवार के चुनाव चिन्ह पर मुहर लगाकर उसे लिफाफा में बंद कर वापस देंगे. मतदाता के सामने की वीडियो रिकॉर्डिंग के बीच उस लिफाफे को गाला से सील करके मतपेटी में डाल दिया जाएगा. प्रतिदिन सुबह टीम ट्रेजरी से बैलेट पेपर लेगी और शाम को ट्रेजरी में लाकर जमा करेगी. पहली बार इस प्रक्रिया को लेकर लोगों में काफी उत्साह है.

Posted by: Aditi Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें