माध्यमिक परीक्षा को लेकर पुलिस, स्वास्थ्य और बिजली विभाग हाई अलर्ट पर

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
  • परीक्षा के दिन सुबह साढ़े नौ बजे से ही इलाके में हो जाएगी पुलिस की तैनाती, जाम लगने वाली सड़कों को किया गया चिन्हित.
  • जिले में कुल 173 स्कूल के 31,977 छात्र दे रहे हैं परीक्षा, 17,700 लड़कियां और 14,277 लड़के होंगे परीक्षा में शामिल.
  • जिले के कुल सौ केंद्रों पर होगी परीक्षा, आसनसोल में 59 और दुर्गापुर में 41 केंद्र शामिल.
  • 10,243 हिंदीभाषी, 19,549 बंगलाभाषी और 2185 उर्दूभाषी छात्र देंगे परीक्षा, प्रशासन ने तैयारी की पूरी.
आसनसोल : माध्यमिक परीक्षा को लेकर जिले में पुलिस, बिजली विभाग और स्वास्थ्य विभाग को हाई अलर्ट पर रखा गया है. परीक्षा के दिन सुबह साढ़े नौ बजे से ही सड़कों पर ट्रैफिक व्यवस्था के लिए विभिन्न जगहों पर भारी पुलिस बल की तैनाती होगी. जिला अस्पताल, प्रखण्ड प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक और कर्मियों की विशेष तैनाती होगी.
जिले में स्थित 173 स्कूलों के 31,977 छात्र इस वर्ष माध्यमिक परीक्षा देंगे. जिसमें लड़कियों की संख्या 17,700 और लड़कों की संख्या 14,277 है. इसमें बांग्ला माध्यम में छात्रों की संख्या 19,549, हिंदी माध्यम में 10,243 और उर्दू माध्यम में 2,185 है. कंपार्टमेंटल परीक्षा देने वाले छात्रों की संख्या 235 और कन्टीन्यूयिंग कैंडिडेट (सीसी) की संख्या 1945 है.
जिला स्कूल निरीक्षक अजय पाल ने बताया कि मंगलवार से आरम्भ हो रही माध्यमिक परीक्षा को लेकर जिले में पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को हाई अलर्ट पर रखा गया है.
पुलिस के साथ बैठक में यह कहा गया है कि सुबह साढ़े नौ बजे से ही सड़कों पर पुलिस की तैनाती की जाय, ताकि जाम की समस्या कहीं भी नहीं हो. जिले के जाम वाले सभी जगहों को चिन्हित कर पुलिस को सूची दे दी गयी है. बिजली विभाग के अधिकारियों को कहा गया है कि परीक्षा के समय लोडशेडिंग नहीं होनी चाहिए.
स्वास्थ्य विभाग को कहा गया है कि परीक्षा के दौरान चिकित्सक और स्वास्थ्य कर्मियों की किसी भी तरह कमी नहीं रहे. हर क्षेत्र में तीन से चार एम्बुलेंस होनी चाहिए. जिले में कुल सौ केंद्रों पर इस बार माध्यमिक परीक्षा हो रही है. आसनसोल महकमा में 59 केंद्र और दुर्गापुर महकमा में 41 केंद्र शामिल है. सभी केंद्रों पर पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी.
प्रश्नपत्र के लिए ग्यारह थाना और दो ट्रेजरी ऑफिस में स्ट्रांग रूम बनाया गया है. यहां से सभी के केंद्रों पर प्रश्नपत्र निर्धारित समय पर सुरक्षा के बीच भेजी जाएगी और परीक्षा की कॉपी यहां आकर जमा होगी. छात्र अपने साथ परीक्षा हॉल में सिर्फ पेंसिल बॉक्स ही ले जा सकेंगे. सभी केंद्र पर स्वच्छ पेयजल उपलब्ध होगा. जहां पेयजल की समस्या है वहां अस्थायी रूप से रिजर्वर बनाने का निर्देश दिया गया है.
श्री पाल ने बताया कि शांतिपूर्ण माहौल में बिना किसी परेशानी के छात्र परीक्षा दे सकें इसके लिए प्रशासन ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है. सोमवार को तैयारियों का अंतिम जायजा लिया जाएगा. यदि कहीं कोई चूक मिली तो उसे तत्काल सुधार लिया जाएगा.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें