25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

पढें, तीन तलाक से मुक्ति के लिए कहां मुस्लिम महिलाओं ने किया हनुमान चालीसा का पाठ

वाराणसी : सुप्रीम कोर्ट के संविधान पीठ में 11 मई को तीन तलाक को लेकर सुनवाई होगी जिसपर देशभर की मुस्लिम महिलाओं की नजर है. मुस्लिम महिला फाउंडेशन ने सुनवाई से एक दिन पूर्व यानी बुधवार को पातालपुरी मठ में तुलसीदास द्वारा स्थापित दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर में हनुमान चालीसा पाठ का आयोजन किया. तीन तलाक […]

वाराणसी : सुप्रीम कोर्ट के संविधान पीठ में 11 मई को तीन तलाक को लेकर सुनवाई होगी जिसपर देशभर की मुस्लिम महिलाओं की नजर है. मुस्लिम महिला फाउंडेशन ने सुनवाई से एक दिन पूर्व यानी बुधवार को पातालपुरी मठ में तुलसीदास द्वारा स्थापित दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर में हनुमान चालीसा पाठ का आयोजन किया.

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट में आज होगी महत्वपूर्ण सुनवाई, संविधान पीठ में प्रधान न्यायाधीश समेत पांच जज रहेंगे शामिल

प्राप्त जानकारी के अनुसार तीन तलाक के संकट से मुक्ति के लिए मुस्लिम महिला फाउंडेशन की नेशनल सदर नाजनीन अंसारी ने भगवान श्रीराम की आरती के बाद 100 बार हनुमान चालीसा का पाठ करके सबका ध्‍यान अपनी ओर खिंच लिया.

तीन तलाक पर इलाहाबाद हाइकोर्ट ने फिर की टिप्पणी, कहा- संविधान से ऊपर नहीं कोई भी पर्सनल लॉ

इस संबंध में नाजनीन ने कहा कि मुझे यकीन है कि हनुमान जी तीन तलाक के संकट से हमें मुक्ति जरूर दिलवायेंगे. सुप्रीम कोर्ट मुस्लिम महिलाओं की तकलीफ और दुर्दशा को समझेगी. हलाला जैसी कुप्रथा को कानूनन बलात्कार घोषित कर देना चाहिए. उन्होंने कहा कि तीन तलाक से मुक्ति के बाद ही मुस्लिम महिलाओं को सम्मान व अधिकार मिलने की प्रक्रिया शुरू होगी.

तीन तलाक के विरोध में मुस्लिम उदारवादी

मामले को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शीर्ष नेता इंद्रेश कुमार ने कहा कि समय आ गया है जब हम सामाजिक कुप्रथाओं को खत्म कर प्रगति के मार्ग पर अग्रसर हों. तीन तलाक गैर इस्लामी ही नहीं, यह शैतान का रास्ता है. तीन तलाक से औरत की जिंदगी बर्बाद हो जाती है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें