18.7 C
Ranchi
Tuesday, February 27, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

UPPSC Exam 2020: परीक्षा में भी छा गईं कंगना रनौत, पूछा गया उनसे जुड़ा ये सवाल

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत इन दिनों काफी चर्चा में हैं. अपने बेबाक अंदाज के कारण लोगों के बीच अपनी अलग पहचान बनाने वाली कंगना ने पिछले दिनों नेपोटिज्म से लेकर बॉलीवुड के ड्रग्स कनेक्शन पर अपनी बात रखने वाली कंगना को लेकर परीक्षा में प्रश्न भी पूछे जा रहे हैं. आपको बता दें उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की समीक्षा अधिकारी-सहायक समीक्षा अधिकारी-2016 (आरओ-एआरओ) भर्ती परीक्षा भी अदाकारा कंगना रनौत से अछूती नहीं रही.

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत इन दिनों काफी चर्चा में हैं. अपने बेबाक अंदाज के कारण लोगों के बीच अपनी अलग पहचान बनाने वाली कंगना ने पिछले दिनों नेपोटिज्म से लेकर बॉलीवुड के ड्रग्स कनेक्शन पर अपनी बात रखने वाली कंगना को लेकर परीक्षा में प्रश्न भी पूछे जा रहे हैं. आपको बता दें उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की समीक्षा अधिकारी-सहायक समीक्षा अधिकारी-2016 (आरओ-एआरओ) भर्ती परीक्षा भी अदाकारा कंगना रनौत से अछूती नहीं रही. सामान्य अध्ययन के प्रश्न संख्या 25 में कंगना रनौत का नाम शामिल रहा और सही जवाब भी कंगना ही था. दरअसल परीक्षा में सवाल पूछा गया था कि वर्ष 2020 में किस अदाकारा को पद्मश्री अवार्ड दिया गया था.

छा गईं कंगना

इन दिनों कंगना इसलिए चर्चा में हैं क्योंकि उन्होंने बॉलीवुड और ड्रग्स के धंड़े से जुड़ी कई बातें कही हैं. आरओ-एआरओ की परीक्षा भी अदाकारा कंगना रनौत से अछूती नहीं रही. सामान्य अध्ययन के प्रश्न संख्या 25 में कंगना रनौत का नाम शामिल रहा और सही जवाब भी कंगना ही था. परीक्षा में सवाल पूछा गया था कि वर्ष 2020 में किस अदाकारा को पद्मश्री अवार्ड दिया गया था. जिसमें चार अदाकारा कंगना रनौत, भूमि पेडनेकर, श्रद्धा कपूर और तापसी पन्नू का नाम उत्तर के विकल्प में दिया गया था। विकल्प सी में कंगना रनौत का नाम था जो सही जवाब था. परीक्षा के बाद अभ्यर्थियों ने कहा कि समीक्षा अधिकारी की परीक्षा में भी कंगना रनौत छा गईं.

विरोध के साथ आयोजित हुए परीक्षा

आपको बता दें दो पालियों में प्रयागराज समेत प्रदेश के 17 जिलों में रविवार को माइनस मार्किंग के विरोध के साथ हुई. जिसमें अभ्यर्थियों की उपस्थिति सिर्फ 36.44 प्रतिशत रही। परीक्षा पर सीधा असर कोरोना का पड़ा है क्योंकि जब यही परीक्षा वर्ष 2016 में हुई थी उस समय उपस्थिति 50 प्रतिशत से ज्यादा रही थी.

यूपी से जुड़े रहे प्रश्न

पहली पाली में सामान्य अध्ययन का पेपर सुबह साढ़े नौ से साढ़े ग्यारह बजे तक हुआ. दूसरी पाली में दोपर ढाई से साढ़े तीन बजे तक हिन्दी का पेपर हुआ. प्रयागराज में कई केन्द्रों पर अभ्यर्थियों का विरोध देखने का मिला. विरोध स्वरूप अभ्यर्थियों ने काले कपड़े पहन कर दोनों पालियों में परीक्षा दी. अभ्यर्थियों का यह विरोध इसलिए था क्योंकि आयोग ने आरओ-एआरओ की परीक्षा में माइनस मार्किंग लागू कर दी. अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया कि पहले ही परीक्षा निरस्त की गई तब माइनस मार्किंग नहीं थी.

परीक्षार्थियों क मिले संतुलित प्रश्न

आरओ एआरओ की परीक्षा में अभ्यर्थियों को सामान्य अध्ययन के पेपर में थोड़ी बहुत दिक्कत रही. हालांकि कुल मिलाकर अभ्यर्थियों ने पेपर को संतुलित बताया. सामान्य अध्ययन में समसमायिक प्रश्न सरल थे. वर्तमान में घटित घटनाओं पर आधारित प्रश्नों को भी शामिल किया था। उत्तर प्रदेश से जुड़े सवाल बड़ी संख्या में शामिल रहे. सामान्य अध्ययन में अभ्यर्थियों को दो घंटे में 140 सवालों का हल करना था। वहीं दूसरा पेपर हिन्दी का था. जिसे अभ्यर्थियों ने आसान बताया। इसमें अभ्यर्थियों के लिए पेपर में 40 प्रश्न थे। जिसे एक घंटे में हल करना था.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें