34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

kharmas 2023: खरमास में भगवान सूर्य की पूजा के लिए बहुत ही उत्तम समय, ये है पूजा विधि

kharmas 2023: 15 मार्च से खरमास शुरू हो रहे हैं जो 14 अप्रैल तक प्रभावी रहेगा. जिसके चलते मांगलिक कार्य विवाह, गृह प्रवेश, गृह निर्माण, नव प्रतिष्ठान, वधू प्रवेश, मुंडन, उपनयन संस्कार, देव प्रतिमा प्रतिष्ठा आदि के कार्यों पर विराम लग गया है.

kharmas 2023: अलीगढ़, 15 मार्च से खरमास शुरू हो रहे हैं जो 14 अप्रैल तक प्रभावी रहेगा. जिसके चलते मांगलिक कार्य विवाह, गृह प्रवेश, गृह निर्माण, नव प्रतिष्ठान, वधू प्रवेश, मुंडन, उपनयन संस्कार, देव प्रतिमा प्रतिष्ठा आदि के कार्यों पर विराम लग गया है.खरमास को लेकर ज्योतिषाचार्य पंडित ह्रदय रंजन शर्मा ने बताया कि धार्मिक कार्य विधि विधान से संपन्न होंगे. खरमास की यह अवधि एक माह तक रहती है. पंडित ह्रदय रंजन शर्मा ने बताया की खरमास में सूर्य देव धनु और मीन राशि के संक्रांति में प्रवेश करते हैं. इसे खरमास की संज्ञा दी गई है. इस माह विशेष रूप से विवाह, शादी, मुंडन, गृह प्रवेश, गृह निर्माण, नींव भरवाना, विवाह संबंधित खरीद-फरोख्त करना बंद रहता है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें