19.1 C
Ranchi
Friday, March 1, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Ram Mandir Pran Pratishtha: श्री राम 114 कलश के जल से करेंगे स्नान, प्राण प्रतिष्ठा का एक दिन शेष

प्राण प्रतिष्ठा के पांचवें दिन रविवार 21 जनवरी को स्थापित देवताओं का दैनिक पूजन होगा. इसके बाद हवन, पारायण, आदि कार्य होंगे. 22 जनवरी को पीएम मोदी प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल होंगे. 23 जनवरी से आम श्रद्धालुओं को रामलला के दर्शन मिलेंगे.

अयोध्या: श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा के पांचवें दिन रविवार 21 जनवरी को स्थापित देवताओं का दैनिक पूजन होगा. इसके बाद हवन, पारायण, आदि कार्य होंगे. प्रातः मध्वाधिवास, मूर्ति का 114 कलशों के विविध औषधीयुक्त जल से स्नपन, महापूजा, उत्सवमूर्ति की प्रासाद‌ परिक्रमा होगी. इसके बाद शय्याधिवास, तत्लन्यास, महान्यास आदिन्यास, शान्तिक-पौष्टिक -अघोर होम, व्याहति होम, रात्रि जागरण, सायं पूजन एवं आरती होगी.

इससे पहले श्रीराम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा का अनुष्ठान शनिवार को पांचवें दिन सुबह नौ बजे से शुरू हुआ. प्राण प्रतिष्ठा के अनुष्ठान में श्रीरामलला के विग्रह के अधिवास के साथ शनिवार को मुख्यतः वास्तु पूजा हुई. इस पूजा में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की तरफ से अनिल मिश्र सपरिवार और विश्व हिंदू परिषद के कार्याध्यक्ष आलोक एवं अन्य लोगों ने पूजा की. शनिवार को पूजा अनुष्ठान शाम तक चला. प्राण प्रतिष्ठा का अनुष्ठान 16 जनवरी को दोपहर बाद सरयू नदी से शुरू हुआ था. जिसके बाद 17 जनवरी को श्रीरामलला की मूर्ति का मंदिर परिसर में आगमन हुआ.

अपडेट हो रही है…

Also Read: UP Breaking News Live: यूपी का बजट सत्र 2 फरवरी से, अधिसूचना जारी
रामायण कालीन वैभव की अनुभूति करा रही नक्षत्र वाटिका

श्रीराम जन्मभूमि परिसर में रामायणकालीन वैभव को दर्शाने वाले नक्षत्र वाटिका में 27 नक्षत्रों से जुड़े 27 पेड़ लगाए गए हैं. रामायण कालीन पेड़ों में पीपल, पाकड़, नीम, गुटेल, महुआ, शीशम, खैर, पलास, बेल, मौलिश्री, शमी, कदंब, आम, अर्जुन, गुलर, साल, बरगद, आंवला, चीड़ आदि के पौधे लगाए गए हैं. इनका संबंध भी नक्षत्रों से है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी यहां पौधरोपण किया था.

महाराष्ट्र से आए साढ़े सात हजार से अधिक पौधे

22 जनवरी को श्रीरामलला की प्राण-प्रतिष्ठा को देखते हुए पूरे परिसर को सजाया जा रहा है. महाराष्ट्र से साढ़े सात हजार से अधिक गमले व पौधे आए हैं. तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट व उप्र वन विभाग की तरफ से इन्हें परिसर में सजाया जा रहा है. राम मंदिर प्रांगण में 56 प्रजाति के पौधे लगाए जा रहे हैं. इनमें एग्लोनेमा रेड-लिपिस्टक, पिंक, ऐलोकेशिया ब्लैक वेलवेट- कुकुलता, वेस्टिल, फिलोड्रेनड्रॉम रिंग ऑफ फायर-बिरकिन, जेनाडू, रेड कांगो, पिंक फायर, पिंक प्रिसेंज, डिफेनबेकिया व्हाइट, होमालोमेना ब्रांज,  केलेडियम मिक्स,  मेलपिघिया श्रीराम,  ड्रकाना महात्मा,  सेफलेरा, वेरीगेटेड, लोरोपेटलम, रेडार मचेरा, डिफेनबेकिया बोमानी, मोंसटेरा डेलीसिओसा, आर्केड मिक्स, पीस लिली आदि प्रमुख हैं.

Also Read: Shri Ram Pran Pratishtha: श्री राम के स्वागत के लिए सज रहा मंदिर, देखें अद्भुत फोटो

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें