29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

मुरादाबाद के मंडलायुक्त आंजनेय कुमार सिंह की फेसबुक आईडी हैक, दोस्तों-रिश्तेदारों से रुपए की मांग, जांच शुरू

मुरादाबाद के इस मामले में पुलिस को फिलहाल जो जानकारी मिली है, उसके आधार पर कहा जा रहा है कि रुपए मांगने वाला राजस्थान निवासी है. पुलिस पर इस हाईप्रोफाइल मामले को लेकर बड़ा दबाव है, इसलिए जांच पड़ताल तेजी से शुरू कर दी गई है. वर्ष 2022 में भी मंडलायुक्त आंजनेय कुमार सिंह की आईडी हैक की जा चुकी है.

Moradabad News: यूपी में साइबर क्राइम के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. आम आदमी के साथ खास लोगों को भी साइबर ठग अपना शिकार बना रहे हैं. राजनेताओं से लेकर आईएएस और आईपीएस अफसरों के साथ भी इस तरह की घटनाएं सामने आ रही हैं. सोशल मीडिया पर उनकी आईडी हैक कर धोखाधड़ी करने के प्रयास किए जा रहे हैं. इस तरह के ताजा प्रकरण में साइबर ठगों ने वरिष्ठ आईएएस अधिकारी आंजनेय कुमार सिंह को अपना शिकार बनाया है. आंजनेय कुमार सिंह इस समय मुरादाबाद के कमिश्नर के पद पर तैनात हैं. साइबर ठगों ने उनकी फेसबुक आईडी हैक कर ली. इसके बाद उनके करीबियों और अन्य लोगों से रुपए की मांग की जाने लगी. आंजनेय कुमार सिंह को इसकी जानकारी मिलने पर उन्होंने पुलिस को मामले से अवगत कराया. इसके बाद मुरादाबाद पुलिस ने सिविल लाइंस थाने में एफआईआर दर्ज की है. पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है.

पहले भी हैक हो चुकी है आईएएस अफसर आंजनेय सिंह की आईडी

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जनपद के इस मामले में पुलिस को फिलहाल जो जानकारी मिली है, उसके आधार पर कहा जा रहा है कि रुपए मांगने वाला राजस्थान निवासी है. पुलिस पर इस हाईप्रोफाइल मामले को लेकर बड़ा दबाव है, इसलिए जांच पड़ताल तेजी से शुरू कर दी गई है. अहम बात है कि इससे पहले वर्ष 2022 में भी मंडलायुक्त आंजनेय कुमार सिंह की आईडी हैक की जा चुकी है. तब प्रकरण में रामपुर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी. समाजवादी पार्टी के नेता आजम खां के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के कारण आईएएस अफसर आंजनेय कुमार सिंह काफी सुर्खियों में रहे हैं. उनका उत्तर प्रदेश में प्रतिनियुक्ति कार्यकाल इस वर्ष बार फिर बढ़ाया जा चुका है. सिक्किम कैडर के आईएएस अफसर आंजनेय कुमार सिंह की प्रतिनियुक्ति एक वर्ष के लिए बढ़ाई गई है.

Also Read: लखनऊ में मुख्तार अंसारी के करीबी बिल्डर पर एलडीए का बड़ा एक्शन, न्यू एफआई हॉस्पिटल किया सील, जानें मामला
2005 बैच के आईएएस अफसर हैं आंजनेय कुमार सिंह

आंजनेय कुमार सिंह सिक्किम कैडर के 2005 बैच के आईएएस अधिकारी हैं. उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव सरकार के दौरान 16 फरवरी 2015 को वह प्रतिनियुक्ति पर आए थे. बाद में सूबे में योगी आदित्यनाथ सरकार ने फरवरी 2019 में आंजनेय कुमार सिंह का तबादला रामपुर के जिलाधिकारी पद पर किया. रामपुर पहुंचते ही उन्होंने आजम खान के खिलाफ ताबड़तोड़ कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी. वहीं जनपद में इससे पहले मुख्य चिकित्साधिकारी सहित कई अन्य अफसरों से भी फ्रॉड की कोशिश के मामले सामने आ चुके हैं.

पीएसी के कमांडेंट की बनाई फर्जी आईडी

इसके अलावा साइबर ठगों ने पीएसी के कमांडेंट अतुल शर्मा के नाम से फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर भी धोखाधड़ी की. उन्होंने पुलिस को मामले की जानकारी दी. पीएसी कमांडेंट की फर्जी आईडी में उनकी तस्वीर भी लगाई गई है. जानकारी ​मिलते ही उन्होंने परिजनों और करीबियों को इससे अवगत कराते हुए अलर्ट किया. उन्होंने लोगों से इस फर्जी आईडी को फॉलो नहीं करने को कहा. वहीं इस प्रकरण में साइबर टीम को भी जानकारी दी गई है. पुलिस टीम कमांडेंट की फर्जी आईडी बनाने वालों का भी पता लगाने में जुट गई है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें