20.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

UP News: प्रदेश में आज बंद रहेंगी मांस-मछली की दुकान, सीएम योगी ने 25 नवंबर को किया मांसरहित दिवस घोषित

योगी सरकार ने 25 नवंबर को मांस-मछली की दुकानों को बंद रखने का फरमान सुनाया है. उत्तर प्रदेश सरकार ने आदेश जारी करते हुए कहा कि प्रदेश में 25 नवंबर को मांस रहित दिवस घोषित रहेगा.

सीएम योगी ने 25 नवंबर को सुबे में सभी मांस की दुकाने बंद रखने का सख्त आदेश दिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दिन स्लाटर हाउसों को भी बंद रखने का निर्देश दिया है. सीएम योगी ने कहा कि महापुरुषों की जयंती पर मांस –मछली की दुकानें व सभी स्लाटर हाउस बंद रहेंगे. सीएम योगी के इस फैसले का सिंधी समाज ने आभार जताया है. सीएम योगी के इस आदेश के बाद विशेष सचिव धर्मेंद्र प्रताप सिंह ने उत्तर प्रदेश के सभी मण्डलायुक्त, जिलाधिकारी और नगर आयुक्तों को लेटर जारी कर दिया है.

25 नवंबर को है साधु टीएल वासवानी की जयंती

बता दें कि 25 नवंबर को साधु टीएल वासवानी की जयंती है. इसे देखते हुए सीएम योगी ने ये फैसला किया है. विशेष सचिव ने अपने भेजे गए पत्र में कहा कि साधु टीएल वासवानी की जयंती पर सभी स्लाटर हाउस और मांस–मछली की दुकानों को बंद रखा जाएगा. इसके अलावा आदेश में गौतम बुद्ध जयंती, महावीर जयंती, गांधी जयंती और शिवरात्रि जैसे महापर्वों पर जैसे सभी मांस की दुकानें बंद रखी जाती हैं वैसे ही इस बार से 25 नवंबर को भी सभी स्लाटर हाउस (बूचड़खाने) और मांस की दुकानें बंद रहेंगी. इसके लिए सभी नगर निकायों में स्थित मांस की दुकानों और स्लाटर हाउस को बंद रखने के लिए सीएम योगी ने अफसरों को निर्देश दिया है साथ ही इसे कड़ाई से पालन करने का भी आदेश दिया है.

यहां जानें कौन थे साधु टीएल वासवानी

टीएल वासवानी एक साधू थे, इनका पूरा नाम थांवरदास लीलाराम वासवानी है. इनका जन्म 25 नवंबर 1879 को हुआ था. इनकी मृत्यु 16 जनवरी 1966 हुआ था. यह भारत के शिक्षा शास्त्री एवं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे. वासनानी ने में मीरा आन्दोलन चलाया था. टीएल वासनानी ने जीव हत्या को रोकने के लिए काफी काम किया था. उन्होंने यूरोप में भी हिन्दू धर्म का प्रचार किया था. साधु टीएल वासवानी ने उच्च शिक्षा लेने के बाद सरकारी नौकरी को छोड़कर कम आयु में ही स्वतंत्रता संग्राम में शामिल हो गए थे. उन्होंने बर्लिन देश में वासवानी ने भारत के प्रतिनिधि के तौर पर विश्वधार्मिक सम्मेलन में हिस्सा लिया था. जहां वासनानी ने अपने प्रभावशाली भाषण में भारत के बारे में बताया था. उस समय उनकी उम्र बस 30 साल की थी.

Also Read: UP News: आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को मिलेगा हॉट कुक्ड मील, सीएम योगी ने अयोध्या से की शुरुआत
रामलला के प्राण प्रतिष्ठा पर चलाई जाएंगी 100 स्पेशल ट्रेनें

अयोध्या राम मंदिर में जनवरी के आखिरी सप्ताह में होने वाले रामलला के अभिषेक के भव्य आयोजन को देखते हुए इंडियन रेलवे ने अपने स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं. रेलवे ने अयोध्या रेलवे स्टेशन का फ्रंट गेट और मुखौटा राम मंदिर की तर्ज पर बनाया है. मंदिर के उद्घाटन के दौरान होने वाली भारी भीड़ को देखते हुए रेलवे देशभर से बड़े पैमाने पर अयोध्या के लिए विशेष ट्रेनें चलाने की भी योजना बना रहा है. माना जा रहा है कि रेलवे एक हफ्ते के दौरान अयोध्या के लिए 100 से भी अधिक विशेष ट्रेनों का संचालन कर सकता है. जरूरत के हिसाब से देश के सभी जोन को अलर्ट रहने का निर्देश दिया गया है. रेल मंत्रालय ने कहा कि अयोध्या रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास कार्य दो चरणों में किया जा रहा है. 240 करोड़ रुपये की लागत वाले पहले चरण का काम इसी वर्ष 31 दिसंबर तक पूरा हो जाएगा.

इसमें स्टेशन की क्षमता को मौजूदा 5000 यात्रियों से बढ़ाकर एक लाख यात्री किया जा रहा है. दूसरे, स्टेशन का मुख्य द्वार और पूरा मुखौटा राजस्थान के भरतपुर के बंसी पहाड़पुर के उन्हीं पत्थरों से निर्मित किया गया है, जिनका उपयोग रामलला के मंदिर के निर्माण में किया जा रहा है. बताया जाता है कि विश्व भर में विख्यात इस पत्थर की अवधि 5 हजार साल से भी अधिक होती है. इसकी चमकर बारिश होने पर और बढ़ जाती है. प्लेटफार्म और स्टेशन के सामने दोनों ओर मंदिर जैसे 8 पिरामिड का निर्माण किया गया है. स्टेशन के सामने वाले गेट से प्रवेश करते ही लोगों को अयोध्या मंदिर में प्रवेश करने का सुखद अहसास होगा. अधिकारियों ने बताया कि स्टेशन पर फिलहाल 3 प्लेटफॉर्म हैं लेकिन 422 करोड़ रुपए के दूसरे चरण में इसे 6 प्लेटफॉर्म बनाया जाएगा. ताकि यहां और अधिक ट्रेनों का संचालन किया जा सके. स्टेशन पर ग्राउंड फ्लोर के अलावा 2 और मंजिलों का निर्माण किया गया है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें