17.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

UP News: हमीरपुर में मासूम छात्र ने मोबाइल में देखी रील, फिर लगाई फांसी, परिवार में मचा कोहराम

हमीरपुर में एक किशोर ने मोबाइल फोन में मौत के आसान तरीके की रील्स देखी फिर कमरे में लगी खूंटी से गमछे से फंदा लगाकर जान दे दी. इस घटना से किशोर के परिवार सहित इलाके में कोहराम मच गया है.

यूपी के हमीरपुर से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां गुरुवार की शाम 6वीं में पढ़ने वाला किशोर ने मोबाइल फोन में मौत के आसान तरीके की रील्स देखी फिर कमरे में लगी खूंटी से गमछे से फंदा लगाकर जान दे दी. इस घटना से किशोर के परिवार सहित इलाके में कोहराम है. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया और मोबाइल को अपने कब्जे में लेकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है. दरअसल सुमेरपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले अवधेश का बिल्डिंग मैटेरियल की शॉप हैं. इसी कस्बे में उनका बेटा निखिल कक्षा 6 में पढ़ता था. गुरुवार की शाम जब घर के सभी लोग पड़ोसी के घर गए थे और घर के सभी बच्चे बाहर खेल रहे थे. तभी निखिल ने मोबाइल में मौत के आसान तरीके को देखा और फिर घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. परिजन घर पहुंचे तो निखिल को फंदे में लटका देखा तो चीखने चिल्लाने लगे.

Also Read: UP News: बहन ने भाई को किडनी दी, पति बोला बदले में मांगो 40 लाख रुपए, मना करने पर सऊदी से दिया तीन तलाक
यू ट्यूब में देख रहा था मौत के आसान तरीके

चीखने की आवाज सुनकर आस पास के लोग मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्चे का शव नीचे उतारकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया और मोबाइल को कब्जे में ले लिया. जानकारी के मुताबिक निखिल का इसी 11 दिसंबर को जन्मदिन था. घरवालों ने बड़ी धूमधाम से उसका जन्मदिन मनाया था. धीरज के 3 भाई बहन है. उसके चाचा ने बताया की बच्चे ने मोबाइल में यू ट्यूब में मौत के आसान तरीके को देख कर फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है. वहीं सीओ सदर राजेश कमल ने बताया की एक बच्चे ने फांसी लगा कर जान दे दी है. शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम कराया जा रहा है और आत्महत्या के कारणों की जांच की जा रही है.

Also Read: Train Cancelled: गोरखपुर से हैदराबाद चलने वाली ये ट्रेनें नए साल पर रहेंगी रद्द, देखें पूरी लिस्ट
मोबाइल एडिक्शन का शिकार हो रहे किशोर

बढ़ते मोबाइल के चलन में रील का शौक तेजी के साथ बढ़ रहा है. बच्चे से लेकर बूढ़े तक सभी वर्ग के लोग रील देखने व बनाने में दिलचस्पी ले रहे हैं. इसमें मोबाइल की लत बच्चों को भी लग रही है. बच्चे मोबाइल एडिक्शन हो रहे हैं. जिससे आत्मघाती जैसे कदम तक उठा रहे हैं. ऐसा ही मामला सुमेरपुर कस्बे में सामने आया है. इससे पहले भी बच्चों के आत्महत्या के मामले सामने आ चुके हैं. इसके लिए दोनों प्ले स्टोर से अपने फोन पर गूगल फैमिली लिंक एप और बच्चे के मोबाइल पर फैमिली लिंक चाइल्ड एंड टीन का इंस्टाल कर लें. अपने फोन पर गूगल फैमली को खोले फिर गेट स्टारटेड पर जाएं. इसके बाद गूगल आप्शन चुनें, फिर अकाउंट से पैरेंटिंग का आप्शन चुनें. जिसमें ऑप्शन आएगा डू यू चाइल्ड योर अकाउंट आएगा. जिसमें यस कर दें. फिर सेटिंग में गूगल पर जाकर पैरेंटिंग पर क्लिक करें.

इसके बाद बच्चे की फैमिली लिंक चाइल एंड टीन पर जाकर ओपन करें. इसके बाद पैरेंट अकाउंट पर क्लिक करें. इसके बाद अपना पासवर्ड डालकर ओपन करें. इसके बाद टू स्टेप वेरिफिकेशन पूरा करें. इसके बाद चाइल की डिवाइस में नंबर आएगा. जिसे यस इट्स बी के ऑप्शन पर क्लिक कर डिवाइस से कंफर्म करें. फिर अकाउंट वैरीफाइ करें. इसके बाद चाइल डिवाइस में जाकर गूगल में जाकर नंबर डालेंगे. फिर डिवाइस में डन का ऑप्शन आएगा. प्रक्रिया पूर्ण होने पर चाइल्ड के फोन की सारी गतिविधि देख सकते हैं. दिन के हिसाब से टाइमिंग लगा सकते हैं. यूट्यूब को हाइड कर सकते हैं. एक तरह से बच्चे का फोन अपने आपके इशारे पर चलेगा.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें