36.9 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

Ram Mandir: अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर नजर रखेंगे 10 हजार CCTV कैमरे, पुलिसकर्मियों के छुट्टी पर लगी रोक

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर स्पेशल डीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने कहा कि अयोध्या में जो कार्यक्रम है वो देश और पूरे विश्व के लिए बहुत महत्वपूर्ण दिन है. उसके लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए जा रहे हैं. सीसीटीवी द्वारा भी निगरानी कराई जा रही है.

अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा समारोह 22 जनवरी को होगा. इस समारोह का इंतजार देश-विदेश में फैले करोड़ों रामभक्त कर रहे हैं. ऐसे में अयोध्या की सुरक्षा को लेकर विशेष प्रबंध किए गए हैं. राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर स्पेशल डीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने कहा कि अयोध्या में जो कार्यक्रम है वो देश और पूरे विश्व के लिए बहुत महत्वपूर्ण दिन है. उसके लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए जा रहे हैं. सीसीटीवी द्वारा भी निगरानी कराई जा रही है. कार्यक्रम के दिन और उसके बाद आने वाले सभी श्रद्धालुओं को किसी तरह की कोई असुविधा ना हो, इसके लिए भी बेहतर व्यवस्था मुहैया कराई जाएगी. उन्होंने बताया कि अयोध्या में 10,000 से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. स्पेशल डीजी ने बताया है कि नगर की सुरक्षा को देखते हुए ऐसे उपकरणों का प्रयोग किया गया है जो कि अत्याधुनिक हैं और पुलिस के कार्यों में मददगार होंगे. उन्होंने बताया कि सुरक्षा की योजना प्राण प्रतिष्ठा समारोह और उसके बाद आने वाले श्रद्धालुओं को ध्यान में रखकर बनाई गई है. साथ ही प्रदेश के सभी पुलिसकर्मियों और अधिकारियों को 26 जनवरी तक शत प्रतिशत ड्यूटी करने का निर्देश जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि किसी विशेष परिस्थितियों में ही अवकाश पर विचार किया जाएगा.

बस्ती में किन्नर समुदाय ने प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए वितरित की अक्षत

बस्ती के शास्त्री चौक पर इंदिरा चैरिटेबल ट्रस्ट के बैनर तले किन्नर समुदाय इकट्ठा होकर रथ यात्रा निकाला. इस दौरान किन्नर समाज के ओर से पूजित अक्षत वितरण किया जाना था, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. इसके पीछे की वजह यह बताई गई कि उन्हें इस कार्य के लिए अनुमति नहीं दी जा रही है. कार्यक्रम में विलंब होने के चलते किन्नर समाज परेशान दिखा. वहीं ट्रस्ट के सीईओ अजय पांडेय ने बताया कि यहां पर कार्यक्रम अक्षत वितरण का नहीं था, थोड़ा सा समन्वय की कमी थी आरएसएस के साथ में समन्वय स्थापित कर लिया गया है. उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम एक शोभा यात्रा है, किन्नर समाज द्वारा यह यात्रा निकाला जा रहा है. जिसमें यह बताया जा रहा है कि 13 तारीख को संघ के कार्यक्रम में हम लोगों को शामिल होना है, जिसमें अक्षत वितरण का कार्यक्रम किया जाएगा. आज अक्षत वितरण किए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हम पूर्वाभ्यास कर रहे हैं. शास्त्री चौक पर रथ पर सवार किन्नर के साथ ही अन्य लोग भी इस शोभायात्रा में शामिल हुए. यात्रा कंपनीबाग होते हुए गांधीनगर पहुंची जहां किन्नर समाज के लोग ढोलक की थाप पर जमकर थिरके. हर कोई जय श्रीराम का जयघोष करता नजर आया. रामजानकी मंदिर सहित अन्य मार्ग पर किन्नर समाज के लोगों पर फूल बरसा कर लोगों ने उनका स्वागत किया. शोभा यात्रा में शामिल कुछ किन्नरों से जब बात की गई तो उन्होने कहा कि हम लोगों ने प्रभु श्रीराम की 14 साल तक तपस्या की है. कहती हैं कि उनकी तपस्या में हमने 14 वर्ष बिताया है. हम लोगों यह यात्रा निकाली है लोगों को संदेश देने के लिए आप लोग भी रामजी का पूजा करें और समय से अयोध्या पहुंचे जो नहीं पहुंच पा रहे हैं, अपने घर पर दीपक जलाएं और सुदंर कांड व पूजा कीजिए.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें