18.1 C
Ranchi
Sunday, March 3, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

एएसपी राहुल श्रीवास्तव को दुष्कर्म मामले में हाईकोर्ट से मिली राहत, गिरफ्तारी पर 17 जनवरी तक रोक, जानें मामला

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ से एटीएस एडिशनल एसपी राहुल श्रीवास्तव और उनकी पत्नी के खिलाफ दर्ज दुष्कर्म के मामले में फिलहाल राहत मिल गई है. कोर्ट ने सुनवाई करते हुए कहा कि इनके खिलाफ अगर कोई पर्याप्त और ठोस सबूत न मिले तो इन्हें 17 जनवरी तक गिरफ्तार न किया जाए.

एटीएस एडिशनल एसपी राहुल श्रीवास्तव और उनकी पत्नी के खिलाफ लखनऊ की एक छात्रा दुष्कर्म और एबॉर्शन करने का आरोप लगाया था. इस मामले में एसपी राहुल श्रीवास्तव, उनकी पत्नी मानिनी श्रीवास्तव व 4 दोस्तों के खिलाफ गोमतीनगर विस्तार थाने में मुकदमा दर्ज हुआ था. इस मामले में एसपी राहुल श्रीवास्तव और उनकी पत्नी मानिनी श्रीवास्तव को मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ से फिलहाल राहत मिल गई है. लखनऊ बेंच में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने दुष्कर्म मामले में दोनों की गिरफ्तारी पर बुधवार तक के लिए रोक लगा दी है. कोर्ट ने 17 जनवरी को दोबारा सुनवाई की तारीख मुकर्रर की है. जस्टिस राजन रॉय और जस्टिस नरेंद्र कुमार जौहरी की खंडपीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि इनके खिलाफ अगर कोई पर्याप्त और ठोस सबूत न मिले तो इन्हें 17 जनवरी तक गोमतीनगर विस्तार थाने के इस मामले में गिरफ्तार न किया जाए. कोर्ट ने यह आदेश राहुल श्रीवास्तव और उनकी पत्नी द्वारा दाखिल याचिका पर दिया. कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 17 जनवरी को नियत कर सरकारी वकील को याचियों के खिलाफ एकत्र किए गए साक्ष्य, अगर कोई हों, तो उनकी जानकारी पेश करने को कहा है. साथ ही याचियों को भी मामले की तफ्तीश में सहयोग करने का आदेश दिया. याचिका में इस मामले में दर्ज कराई गई एफआईआर को चुनौती देकर याचियों की गिरफ्तारी पर रोक लगाने का आग्रह किया गया है. याचियों की ओर से दलील दी गई कि उन्हें इस मामले में झूठा फंसाया गया. उधर, सरकारी वकील ने याचिका का विरोध किया.

Also Read: Ayodhya Ram Mandir: वाराणसी में गुलाबी मीनाकारी से बनाई श्रीराम मंदिर की अनुकृति, सोने-चांदी, हीरे का इस्तेमाल
यह है पूरा मामला

लखनऊ में रहने वाली युवती ने यूपी एटीएस में तैनात एडिशनल एसपी राहुल श्रीवास्तव, उनकी पत्नी मानिनी श्रीवास्तव और 4 दोस्तों के खिलाफ गोमतीनगर विस्तार थाने में दुष्कर्म, जबरन अबॉर्शन और आपराधिक धमकी देने का आरोप लगाते हुए शिकायत दी थी. इस मामले में तीन महीने बाद मुकदमा दर्ज होने के बाद पीड़िता ने राहुल श्रीवास्तव के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के साथ ही निलंबित करने की मांग भी की है. युवती ने आरोप लगाया कि यूपीएससी की तैयारी करने के दौरान राहुल श्रीवास्तव के संपर्क में आई थी. उन्होंने तैयारी के लिए नोट्स देने के बहाने उसको बुलाया फिर धोखे से नशीला पदार्थ देकर दरिंदगी की. साथ ही आपत्तिजनक हालत में फोटो भी खींची हैं. युवती ने पहले पुलिस विभाग के आला अधिकारियों और 1090 पर शिकायत की, लेकिन आरोपी अधिकारी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई. साथ ही युवती ने 25 दिसंबर को राहुल श्रीवास्तव की वीडियो कॉल का स्क्रीन शॉट भी शेयर किया था. इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होने पर युवती ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर सीएम योगी और डीजीपी समेत कई पुलिस अधिकारियों से कार्रवाई की गुहार लगाई थी. जिसके बाद पुलिस हरकत में आई और 6 जनवरी को लखनऊ के गोमतीनगर विस्तार थाने में मुकदमा दर्ज की गई.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें