24.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यउत्तर प्रदेश69000 शिक्षक भर्ती मामला: अभ्यर्थी 30 दिसंबर को पीएम मोदी से मिलने अयोध्या जाएंगे, इसके बाद सामूहिक भूख हड़ताल

69000 शिक्षक भर्ती मामला: अभ्यर्थी 30 दिसंबर को पीएम मोदी से मिलने अयोध्या जाएंगे, इसके बाद सामूहिक भूख हड़ताल

69000 शिक्षक भर्ती में आरक्षण लागू करने में घोर अनियमितता बरती गई. जिससे आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को नौकरी नहीं मिल पायी. नियुक्ति की मांग लेकर धरना प्रदर्शन का यह 562 वां दिन है.

लखनऊ: 69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण विसंगति के कारण नियुक्ति न पाने वाले अभ्यर्थी 30 दिसंबर को अयोध्या जाएंगे. वह यहां पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे और अपनी व्यथा सुनाएंगे. पांच दिन से भूख हड़ताल पर बैठे अमरेंद्र पटेल ने कहा कि 30 दिसंबर को प्रधानमंत्री अयोध्या आ रहे हैं. हम लोगों की कोशिश है के उनसे मिलकर अपनी समस्या के बारे में बताएं. इसके लिए हम लोग अयोध्या जाने की योजना बना रहे हैं. यदि मामले का निस्तारण नहीं हुआ तो 2 जनवरी से सभी अभ्यर्थी सामूहिक रूप से भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे.

अमरेंद्र पटेल ने बताया कि 69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण लागू करने में हुई विसंगति को दूर किए जाने के बाद भी नियुक्ति पाने से वंचित आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थी भूख हड़ताल पर हैं. शुक्रवार को भूख हड़ताल का पांचवां दिन है. वहीं नियुक्ति की मांग लेकर धरना प्रदर्शन का यह 562 वां दिन है, लेकिन शासन प्रशासन की निरंकुशता के चलते कोई हमारा सुध लेने वाला नहीं है, जिससे की यह मामला निस्तारित हो सके.

Also Read: Ayodhya Ram Mandir Idol: अयोध्या में रामलला की सर्वश्रेष्ठ मूर्ति का ट्रस्ट आज करेगा चयन, जानें मापदंड
दो अभ्यर्थियों की तबीयत बिगड़ी

उन्होंने बताया कि सभी अभ्यर्थियों की मेडिकल टीम ने ईको गार्डन धरना स्थल पहुंचकर जांच की. गुरुवार देर शाम संभल से आए एक अभ्यर्थी गंगाशरण की तबीयत खराब हो गई थी, उन्हें भूखे होने के कारण चक्कर आ रहा था. उठने बैठने में दिक्कत हो रही थी. बार-बार बेहोश हो रहे थे. उन्हें एंबुलेंस से लोकबंधु अस्पताल ले जाया गया. इलाज के बाद उनकी भूख हड़ताल समाप्त करायी गयी. उनके स्थान पर आशीष गुप्ता ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है. मेरठ से आई एक महिला अभ्यर्थी का बीपी लो हो गया. उसे भी लोकबंधु अस्पताल में भर्ती कराया गया उपचार के बाद उसे घर भेज दिया गया.

Also Read: PM Modi Ayodhya Visit: शंख व डमरू वादन से राम नगरी में होगा पीएम मोदी का अभूतपूर्व स्वागत
सीएम के आदेश के बावजूद अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान

अमरेंद्र पटेल ने बताया कि 69000 शिक्षक भर्ती में आरक्षण लागू करने में घोर अनियमितता बरती गई. जिससे आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को नौकरी नहीं मिल पायी. कई बार आंदोलन के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले का संज्ञान लिया और विसंगति दूर करते हुए पीड़ित दलित पिछड़े वर्ग के अभ्यर्थियों को नियुक्ति दिए जाने आदेश अधिकारियों को दिया था. जिसके आधार पर बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने विसंगति को सुधारने के बाद 6800 दलित पिछड़े वर्ग के अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने का वादा करते हुए एक सूची जारी की, लेकिन अभी तक न्याय नहीं मिल सका. हमारी मांग है की सरकार इस मामले का त्वरित समाधान निकाले और सभी 6800 चयनित पिछड़े वर्ग के अभ्यर्थियों हक अधिकार देते हुए उनकी नियुक्ति करें. भूख हड़ताल पर बृजभान कुमार, इंद्रसेन पटेल, कुलदीप, हर्ष पटेल, आशीष गुप्ता बैठे हैं.

Also Read: VIDEO: 69 हजार शिक्षक भर्ती, भूख हड़ताल में समर्थन के लिये पहुंची महिला अभ्यर्थियों को सीएम योगी से आस

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें