1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. uttar pradesh vidhansabha election 2022 cabinet expansion speculation in up bjp state head radha mohan singh to meet governor cm yogi adityanath pm modi prt

यूपी कैबिनेट में विस्तार की अटकलें तेज, आज राज्यपाल से मिलेंगे बीजेपी प्रभारी राधा मोहन सिंह, क्या संगठन में भी बदलाव की हो रही तैयारी?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
CM Yogi Adityanath
CM Yogi Adityanath
Social Media
  • क्या 2022 के चुनाव से पहले बदलेगा यूपी का सियासी समीकरण

  • यूपी कैबिनेट में विस्तार की तेज हुई अटकलें

  • राज्यपाल से आज होगी प्रदेश प्रभारी की मुलाकात

UP Assembly Election 2022: यूपी में 2022 विधानसभा चुनाव (UP Vidhansabha Election 2022) को देखते हुए बीजेपी (BJP) अभी से ही रोडमैप तैयार करने में जुट गई है. पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) में मिली करारी हार के बाद से जहां पार्टी लोगों के रुठे मन को फिर से मनाने की कवायद कर रही है. वहीं, यह भी आहट मिल रही है कि बीजेपी चुनाव से पहले बड़ा फेरबदल कर सकती है. अटकलें ये भी लगाये जा रहे हैं कि, यूपी कैबिनेट में विस्तार हो सकता है. इसी कड़ी में बीजेपी के प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह आज राज्यपाल आनंदी बेन से मुलाकात करेंगे.

मंत्रिमंडल के विस्तार की अटकलें तेजः यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले मंत्रिमंडल के विस्तार की अटकलें तेज हो गई है. गौरतलब है कि अगले साल यूपी में विधानसभा चुनाव है, ऐसे में पार्टी पूरी मजबूती से चुनावी समर में उतरना चाहती है. गौरतलब है कि, बीते कुछ दिन पहले बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने दोनों उपमुख्यमंत्रियों के साथ-साथ प्रदेश के कई मंत्रियों से अलग-अलग मुलाकात की थी. और उनकी फीडबैक लिया गया था.

कई नेताओं ने जताई थी नाराजगीः राष्ट्रीय संगठन महामंत्री से हुई बैठक में कई नेताओं ने कोरोना वायरस महामारी से निपटने के तरीकों, पंचायत चुनाव में करारी शिकस्त जैसे मामलों पर अपनी नाराजगी जताई थी. जिसके बाद पार्टी के आलाकमान नेताओं ने उसी फीडबैक के आधार पर आने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों का खाका खींचने की योजना बनाई है.

क्या पीएम मोदी के सीएम योगी से तल्ख हो रहे है रिश्तेः पिछले विधानसभा चुनाव में यूपी में बीजेपी को शानदार जीत मिली थी. एक एक बार फिर चुनावी सरगर्मी तेज हो रही है. और फिर से सत्ता हासिल करना बीजेपी की सबसे बड़ी प्राथमिकता है. लेकिन इस बीच सवाल उठ रहा है कि क्या पीएम मोदी और सीएम योगी के रिश्तों में तल्खी है. यह सवाल इसलिए भी उठ रहा है क्योंकि, बीते दिन सीएम योगी के जन्मदिन के दिन पीएम मोदी की ओर से कोई बधाई संदेश नही आया. ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि दोनों के रिश्ते में सब ठीक तो है न.

बिजेपी के लिए आसान नहीं है राहेः गौरतलब है कि अगले साल यूपी विधानसभा चुनाव होने हैं. बीते साल 2017 के चुनाव में पार्टी ने कितनी बड़ी जीत की थी इसका इसी से अंदाजा लग जाता है कि 403 सदस्यों वाली यूपी विधानसभा में फिलहाल बीजेपी के 309 विधायक हैं. लेकिन कोरोना महामरी से लड़ने को लेकर लोगों की नाराजगी और पंचायत चुनाव में मिला हार से बीजेपी भी समझ गई है कि आगे की राह आसान नहीं है. ऐसे में अभी से ही पार्टी डैमेज कंट्रोल में जुट गई है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें