1. home Home
  2. state
  3. up
  4. up vidhansabha chunav 2022 khela 2024 mamata banerjee claims ramdas athawale counterattack with modis mela amh

UP Vidhansabha Chunav 2022: '2024 में खेला नहीं,मोदी का मेला होगा',रामदास आठवले उतरे यूपी के चुनावी मैदान में

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का सियासी मैदान तो तैयार ही है. बस महारथियों के दांव-पेच अपने हैं. केंद्रीय मंत्री आरपीआई अध्यक्ष रामदास आठवले की यूपी में गतिविधियों से सियासत गर्म हो रही है.

By संवाद न्यूज एजेंसी
Updated Date
UP Vidhansabha Chunav 2022
UP Vidhansabha Chunav 2022
twitter

UP Vidhansabha Chunav 2022 : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का सियासी मैदान तो तैयार ही है. बस महारथियों के दांव-पेच अपने हैं. केंद्रीय मंत्री आरपीआई अध्यक्ष रामदास आठवले की यूपी में गतिविधियों से सियासत गर्म हो रही है. खास कर मुस्लिम वोटों पर नजर रखने वाली सपा के लिए उनके कदम परेशान करने वाले लग रहे हैं.

लखनऊ पहुंचकर आठवले शिया धर्मगुरु कल्बे जव्वाद के घर गए. उन्होंने कल्बे जव्वाद से मुलाकात की और मुसलमानों के हितों से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की. उन्होंने कहा कि वह मुसलमानों को जोड़ने का काम करना चाहते हैं. शिया धर्मगुरु ने भी कहा कि मुसलमानों बहुत ज्यादा नहीं, लेकिन तवज्जो चाहिए.

केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने पत्रकारों के सवाल पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर साधा निशाना, कहा- 2024 में खेला नहीं, मोदी का मेला होगा. प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार संशोधन बिल ला रही है जिसके बाद ओबीसी आरक्षण देने का अधिकार राज्यों को मिलेगा.

बहुजन कल्याण यात्रा निकालेगी आरपीआई : उन्होंने बताया कि रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया 26 सितंबर से गाजियाबाद से बहुजन कल्याण यात्रा प्रारंभ करेगी. यह यात्रा 18 दिसंबर को लखनऊ में खत्म होगी. यात्रा पूरे प्रदेश में निकाली जाएगी. लखनऊ में समापन दिवस पर एक लाख लोगों की रैली का आयोजन किया जाएगा.

आरपीआई बनेगी बसपा का विकल्प बनेगी : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बारे में आठवले ने कहा कि आरपीआई बसपा का विकल्प बनेगी. कहा कि उनकी पार्टी दलित और मुस्लिम बहुल सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है. उन्होंने कहा कि इससे बसपा और सपा दोनों को नुकसान होगा. वैसे भी विधानसभा चुनाव जीतना दोनो पार्टियों के लिए संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि आरपीआई केंद्र में एनडीए के सहयोगी पार्टी है.

अब वह उत्तर प्रदेश में दस सीट चाहती है, जहां से उसके प्रत्याशी चुनाव लड़ें. बसपा के ब्राह्मण सम्मेलन पर उन्होंने कहा कि ब्राह्मण भाजपा के साथ है. आरपीआई ही उत्तर प्रदेश में भाजपा को ब्राह्मण और दलित दिलाएगी. इससे पहले केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने लखनऊ के वीवीआईपी गेस्ट हाउस में अपनी पार्टी के नेताओं के साथ बैठक की. उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी भेंट की.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें