1. home Home
  2. state
  3. up
  4. up crime news illegal arms factory exposed in delhi ncr five accused including woman arrested acy

दिल्ली-एनसीआर में अवैध हथियार फैक्ट्री का खुलासा, महिला समेत पांच आरोपी गिरफ्तार

गाजियाबाद पुलिस ने अवैध हथियार फैक्ट्री का खुलासा करते हुए पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इसमें एक महिला भी शामिल है. पुलिस ने आरोपियों के पास से कई सामान बरामद किए हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ghaziabad police arrested five accused
ghaziabad police arrested five accused
twitter

UP News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) जिले की पुलिस (Police) को शनिवार को बड़ी कामयाबी मिली. पुलिस ने अवैध हथियारों (illegal weapons) के एक कारखाने (Factory) का पर्दाफाश कर भारी मात्रा में हथियार व गोला-बारूद बरामद किया है. पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार (Five accused arreted) किया गया है. पुलिस के मुताबिक, मुरादनगर (Muradnagar) कस्बे के शहजादपुर गांव (Shahjad Village) मार्ग की पुलिया के निकट अवैध हथियार फैक्ट्री (Illegal Arms Factory) का संचालन किया जा रहा था.

ये सामान हुए बरामद

एसएसपी पवन कुमार (SSP Pawan Kumar) ने बताया कि 32 बोर की पांच पिस्तौल, 72 कारतूस, 20 अर्धनिर्मित पिस्तौल, 32 बोर की 55 नलियां, 13 मैगजीन, 250 मैगजीन स्र्पिंग, 10 अर्धनिर्मित मैगजीन, 90 साइड प्लेट, 17 ट्रिगर गार्ड और हथियार निर्माण में इस्तेमाल होने वाले उपकरण मौके से बरामद किए गए हैं. आरोपियों की पहचान बिहार के मुंगेर निवासी मोहम्मद मुस्तफा, मुरादनगर निवासी सलाम और कैफी आजम, मेरठ निवासी सलमान और मेरठ की ही रहने वाली महिला असगरी के तौर पर हुई है.

दो आरोपी अभी भी हैं फरार

एसएसपी के मुताबिक, उनके दो सहयोगी जहीरुद्दीन और फैयाज फरार हैं. दोनों मेरठ के रहने वाले हैं. आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में बताया कि फैक्ट्री मालिक जहीरूद्दीन अपनी पत्नी असगरी और सहयोगी फैयाज व सलमान के साथ अवैध हथियारों के लिये कच्चे माल का प्रबंध करता था. कच्चा माल लाने के दो दिन बाद वो पूरी तरह तैयार हथियार “असामाजिक तत्वों” को बेचने वाले थे.

आरोपियों के पास में मिले नकद डेढ़ लाख रुपये

पुलिस ने आरोपियों के पास से डेढ़ लाख रुपये नकद भी बरामद किए हैं. पुलिस का कहना है कि बरामद नकदी हथियारों की बिक्री से मिली रकम थी, जिसे समान वितरण, कच्चे माल व अन्य उपकरणों की खरीद के लिए रखा गया था.

Posted by : Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें